गिलोय के फायदे और गुण | Giloy ke Fayde – Health benefits of Giloy

गिलोय (Giloy) एक बेल है। ये आमतौर पर खाली मैदान, सड़क के किनारे, जगंलों-झाड़ियों और दीवारों पर उगती है। गिलोय की पत्तियों और तनों से सत्व निकालकर इस्तेमाल में लाया जाता है। गिलोय को आयुर्वेद में गर्म तासीर का माना जाता है। यह तैलीय होने के साथ साथ स्वाद में कडवा और हल्की झनझनाहट लाने वाला होता है। गिलोय या गुडुची, जिसका वैज्ञानिक नाम टीनोस्पोरा कोर्डीफोलिया है, का आयुर्वेद में एक महत्वपूर्ण स्थान है। यह हमारे इम्युनिटी मजबूत करने के आलावा कई बीमारियों में लाभ पहुंचती हैं।

आयुर्वेद में गिलोय का सेवन कई रोगों में किया जाता है। बरसात के मौसम में होने वाली वायरल, मलेरिया, डेंगू और चिकनगुनिया में गिलोय का सेवन किया जाता है। सर्दी-जुकाम और बुखार में गिलोय लाभदायक होता है। आयुर्वेद के अनुसार गिलोय की बेल जिस पेड़ पर चढ़ती है उसके गुणों को भी अपने अंदर समाहित कर लेती है, इसलिए नीम के पेड़ पर चढ़ी गिलोय की बेल को औषधि के लिहाज से सर्वोत्तम माना जाता है। इसे नीम गिलोय (Neem giloy) के नाम से जाना जाता है। गिलोय में बहुत अधिक मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं साथ ही इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी और कैंसर रोधी गुण होते हैं। आइये जाने गिलोय के फायदे..

Giloy ke Fayde

पोषक तत्व – Giloy Nutrition Facts in Hindi

गिलोय में गिलोइन नामक ग्लूकोसाइड और टीनोस्पोरिन, पामेरिन एवं टीनोस्पोरिक एसिड पाया जाता है। इसके अलावा गिलोय में कॉपर, आयरन, फॉस्फोरस, जिंक,कैल्शियम और मैगनीज भी प्रचुर मात्रा में मिलते हैं।

Giloy (Heart-leaved moonseed) ke Fayde – Giloy Benefits in Hindi

1). डायबिटीज़ के लिए – Giloy ke Fayde for Diabetes

विशेषज्ञों के अनुसार गिलोय हाइपोग्लाईसेमिक एजेंट की तरह काम करती है और टाइप-2 डायबिटीज को नियंत्रित रखने में असरदार भूमिका निभाती है। गिलोय जूस (giloy juice) ब्लड शुगर के बढे स्तर को कम करती है, इन्सुलिन का स्राव बढ़ाती है और इन्सुलिन रेजिस्टेंस को कम करती है। इस तरह यह डायबिटीज के मरीजों के लिए बहुत उपयोगी औषधि है।

2).  पाचन शक्ति के लिए – Giloy Good for Digestion Power in Hindi

अगर आप पाचन संबंधी समस्याओं जैसे कि कब्ज़, एसिडिटी या अपच से परेशान रहते हैं तो गिलोय आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकती है। गिलोय का काढ़ा, पेट की कई बीमारियों को दूर रखता है। इसलिए कब्ज़ और अपच से छुटकारा पाने के लिए गिलोय का रोजाना सेवन करें।

3). मानसिक तनाव दूर करे – Giloy Benefit for Depression in Hindi

गिलोय एडाप्टोजेनिक हर्ब है अत:मानसिक दवाब और चिंता को दूर करने के लिए उपयोग अत्यधिक लाभकारी है। गिलोय चूर्ण को अश्वगंधा और शतावरी के साथ मिलाकर इस्तेमाल किया जाता है। इसमें याददाश्त बढ़ाने का गुण होता है। यह शरीर और दिमाग पर उम्र बढ़ने के प्रभाव की गति को कम करता है।

4). बुखार के लिए – Fever me Giloy se Treatment

लंबे समय से चलने वाले बुखार के इलाज में गिलोय काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह शरीर में ब्लड प्लेटलेट्स की संख्या बढ़ाता है जिससे यह डेंगू तथा स्वाइन फ्लू के निदान में बहुत कारगर है। इसके दैनिक इस्तेमाल से मलेरिया से बचा जा सकता है। गिलोय के चूर्ण को शहद के साथ मिलाकर इस्तेमाल करना चाहिए।

5). पीलिया के लिए – Giloy Benefits for Jaundice in Hindi

अगर आप पीलिया की बीमारी से परेशान है तो आप गिलोय का सेवन कर सकते हैं। गिलोय के 20-30 पत्ते लेकर पीस लें। एक गिलास ताजी छांछ लेकर पेस्ट को उसमें मिला लें। दोनों को एक साथ छानने के बाद उसे मरीज को पिला दें।

6). इम्यूनिटी बढ़ाए – Giloy Increase Immune Power

अगर कोई इंसान लगातार बीमार रहता है तो, इसकी वजह उसकी कमजोर रोग प्रतिरोधक क्षमता या कमजोर इम्यूनिटी भी हो सकती है।आयुर्वेद में मनुष्य की इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए कई जड़ी-बूटियों के बारे में बताया गया है। इनमें से सबसे असरदार गिलोय (Giloy) या अमृता (Amrita) को माना जाता है। यह खून को साफ करके, बैक्टीरिया को मारकर, हेल्दी कोशिकाओं को मेंटेन करके, शरीर को नुकसान पहुंचाने वाले फ्री रेडिकल्स से लड़कर इम्यूनिटी को बढ़ाया जा सकता है।

7). बवासीर के लिए – Bawasir me Giloy ke Fayde

बवासीर या पाइल्स बेहद दर्दनाक होते हैं और इनसे जितनी जल्दी छुटकारा मिले, उतना ही बेहतर है। गिलोय के इस्तेमाल से बनने वाली दवाएं हर प्रकार के बवासीर को ठीक कर सकती हैं। ध्यान सिर्फ इस बात का रखना है कि निर्देशों और परहेज का विशेष ध्यान दिया जाए।

8). गठिया के लिए – Giloy ke Fayde for Gathiya

सूजन कम करने के गुण के कारण, यह गठिया और आर्थेराइटिस से बचाव में अत्यधिक लाभकारी है। गिलोय के नियमित सेवन से रयूमेटाइड आर्थराइटिस के कई मरीजों ठीक होते देखा गया है। गिलोय में एंटी ऑर्थराइटिक और एंटी इंफ्लेमेट्री गुण पाए जाते हैं।

9). खांसी के लिए – Giloy Treat to Cough

अगर कई दिनों से आपकी खांसी ठीक नहीं हो रही है तो गिलोय (Giloy in hindi) का सेवन करना फायदेमंद हो सकता है। गिलोय में एंटीएलर्जिक गुण होने के कारण यह खांसी से जल्दी आराम दिलाती है। खांसी दूर करने के लिए गिलोय के काढ़े का सेवन करें।

10). स्किन के लिए – Giloy ke Fayde for Skin

गिलोय त्वचा संबंधी रोगों और एलर्जी को दूर करने में भी सहायक है। अर्टिकेरिया में त्वचा पर होने वाले चकत्ते हों या चेहरे पर निकलने वाले कील मुंहासे, गिलोय इन सबको ठीक करने में मदद करती है।

11). बालो के लिए – Giloy Benefits for Hair in Hindi

बालों के स्वास्थ्य के लिए गिलोय का इस्तेमाल काफी लाभकारी हो सकता है। गिलोय में कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो बालों को झड़ने और कई और समस्याओं को दूर रखने में मदद करते हैं। इसके साथ ही गिलोय में एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो डैंड्रफ की समस्या को भी कम कर सकती है

12). वजन घटाने में – Giloy ke Fayde for Weight Loss

गिलोय जल्दी से वजन घटाती है। रोजाना थोड़ी मात्रा में गिलोय के जूस के सेवन से आप अपने शरीर में फैट बर्न की प्रक्रिया को तेज बना सकते हैं, जिससे आपका वजन तेजी से घटने लगता है। दरअसल गिलोय का जूस पीने से आपके शरीर का मेटबॉलिज्म तेज हो जाता है, जिसके कारण आपका शरीर सामान्य से कई गुना तेज फैट बर्न करने लगता है।

गिलोय के फायदे वीडियो में देखे – Giloy ke Fayde Video

Also, Read More:- 

1 thought on “गिलोय के फायदे और गुण | Giloy ke Fayde – Health benefits of Giloy”

Leave a Comment

Your email address will not be published.