क्या आपको पता हैं वेटलॉस और फैट लॉस में अंतर?

Weight Loss and Fat Loss Difference in Hindi

Weight Loss and Fat Loss Difference in Hindi

कई लोग वेटलॉस और फैट लॉस दोनों के बीच अक्‍सर कंफ्यूज हो जाते हैं। कई लोगों के लिए, ये दोनों शब्द एक ही चीज हैं वो है वजन घटाकर पुरानी शेप मे आना यानि की वेट काम करना। लेकिन अगर आप डिटेल में जाते हैं तो दोनों के बीच बहुत बड़ा अंतर है जो की कई लोग नहीं जानते हैं।

वजन घटाने से मतलब होता है क‍ि अपने शरीर के पूरे वजन में से किलो में गिरावट होती है, जिसमें मांसपेशियों, वसा और पानी शामिल हैं। दूसरी ओर फैट लॉस में टारगेट तक पहुंचने के लिए शरीर से फैट बर्न करना होता है। दोनों ही आपको अपना वजन कम करने और अपने पुराने कपड़ों में फिट होने में मदद करते हैं, लेकिन अगर हम स्वास्थ्य के नजरिए से तुलना करें तो लंबे समय में वजन घटाने की तुलना में फैट लॉस कहीं बेहतर है।

लेकिन हमारे मन में यह सवाल तो आता ही हैं की फैट क्यों लोस्स करे

हमारा शरीर फैट, दुबले शरीर का वजन, या वसा रहित द्रव्यमान जैसे विभिन्न घटकों से बना होता हैं, जिसमें मांसपेशियां, हड्डी, पानी, अंग और अन्य शामिल होते हैं। ये सभी चीजें शरीर में बराबर अनुपात में मौजूद होनी चाहिए। जब शरीर में वसा का percentage बढ़ता है, तो आप मोटापे, उच्च रक्तचाप, उच्च कोलेस्ट्रॉल और हृदय रोग जैसी बीमारियों के खतरे संभावना भी तेज हो जाती है। शरीर में फैट का प्रतिशत लिंग, गतिविधि स्तर और उम्र के आधार पर अलग-अलग होता है। स्वस्थ शरीर में फैट को संतुल‍ित बनाए रखने से आपका लुक अधिक टोंड हो सकता है और कई पुरानी बीमारियों का खतरा कम हो सकता है।

कैसे मालूम करें क‍ि वजन कम करें या फैट

जब आप वेटलॉस की कोशिश करते हैं अपने प्रोग्रेस को ट्रैक करने के ल‍िए अलग अलग तरीके होते हैं और सबसे आम तरीका वेट मशीन है। एक समय में आपने जो वजन कम किया है, उस पर नजर रखने का यह सबसे आसान तरीका है। हालांकि, वेटिंग स्केल यह नहीं बता सकता कि आप वेट लॉस कर रहें या फैट। उसके लिए, आपको अन्य तरीकों की मदद लेनी होगी जैसे शरीर में वसा का पैमाना जानने के ल‍िए आप बायोइलेक्ट्रिकल प्रतिबाधा स्केल (bioelectrical impedance scales) या कैलीपर्स विकल्‍प चुन सकते है। ये आपको शरीर से कम हुए फैट के बारे में बता देता है।

लंबे समय में वजन कम करने के लिए फैट कम करना अधिक कारगर तरीका है और यह हमारे संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। वजन घटाने की तुलना में, फैट लॉस में अधिक समय लगता है। सभी क्रैश डाइट और ट्रिक्स जो क्‍वीक रिजल्‍ट देने का वादा करते हैं, केवल आपको वजन कम करने में मदद करते हैं, फैट नहीं। यहां ज्‍यादा से ज्‍यादा फैट कम करने के तरीके जान लें।

अधिक प्रोटीन खाएं: हमारे शरीर की हर कोशिका प्रोटीन से बनी होती है। यह जीवन का निर्माण खंड है। अपने आहार में अधिक प्रोटीन जोड़ने से मांसपेशियों को बढ़ाने और वसा को कम करने में मदद मिल सकती है।

स्‍ट्रेंथ एक्‍सरसाइज पर ज्‍यादा ध्‍यान दें: स्‍ट्रेंथ एक्‍सरसाइज ट्रेनिंग से लंबे समय तक फैट बर्न करने में मदद मिलती है। यह आपको दुबला करने के साथ ही आपको टोन्ड दिखता है।

हेल्‍दी खाओं: अनहेल्‍दी चीचें खाने से दूरी बनाएं, ऐसा कुछ भी न खाएं जो आपको अधिक कैलोरी बर्न करने के लिए ज्‍यादा मेहनत करवाएं। अच्छी तरह से संतुलित आहार लें।

Also, Read More:-

Leave a Comment

Your email address will not be published.