उत्तर प्रदेश के दर्शनीय व पर्यटन स्थल | Uttar Pradesh Tourism in Hindi

Uttar Pradesh / उत्तर प्रदेश भारत के उत्तर में स्थित एक राज्य है। उत्तर प्रदेश की सीमा पर उत्तराखंड, हिमाचल और नेपाल उत्तर दिशा में पड़ते हैं, मध्य प्रदेश दक्षिण दिशा में पड़ता है, बिहार पूर्व में और हरयाणा पश्चिम में पड़ता है। उत्तर प्रदेश की इस अति-प्राचीन धरती पर अनेक संस्कृतियां और परंपराएं पली-बढ़ी हैं। किंवदंतियां, धर्म और इतिहास ने मिलकर प्रदेश को अति समृद्ध तो बनाया ही, प्रदेश में बेहद महत्वपूर्ण स्थानों का विकास भी किया है। ताज की धरती, कथक नृत्य का उत्पत्ति स्थान, बनारस की पावन हिन्दू धरती, भगवान कृष्ण का जन्म स्थान, वह जगह जहाँ बुद्ध ने अपना पहला धर्मोपदेश दिया था, यह सब उत्तर प्रदेश के अन्दर ही आता है।

उत्तर प्रदेश के पर्यटन स्थल की जानकारी | Uttar Pradesh Tourism in Hindi

उत्तर प्रदेश के पर्यटन – Uttar Pradesh Tourism in Hindi

उत्तर प्रदेश अपने सुन्दर और श्रेष्ठ ऐतिहासिक स्मारकों की बदौलत देश और विदेश से पर्यटकों को अपनी तरफ खींचता है। आगरा के ताज महल के अलावा, झाँसी, लखनऊ, मेरठ और अकबर द्वारा बनाया गया फतेहपुर सिकरी, प्रताबगढ़, बाराबंकी, जौनपुर, महोबा और एक छोटा खेती प्रधान गाँव देवगढ़, उत्तर प्रदेश के कुछ ऐसे क्षेत्र हैं जो इतिहास और संस्कृति के बारे में काफी कुछ बयां कर जाते हैं।

ताजमहल, अपनी खूबसूरती और कहानियों के चलते भारत का सबसे मशहूर पर्यटन स्थल है। एक तरह से यह भारतीय पर्यटन का प्रतीक चिह्न बन गया है। इस स्मारक की खूबसूरती का वर्णन करने के लिए कोई भी शब्द कम पड़ेगा। अपनी इसी खूबसूरती की वजह से ही यह दुनिया के सात आश्चर्य में गिना जाता है। यह देखने के लिए उत्तर प्रदेश जरूर आएं कि आखिर वे लोग कितने प्रतिभाशाली रहे होंगे, जिन्होंने संगमरमर के पत्थरों से कविता ही लिख दी।

भारत में भक्ति पर्यटन के लिए अगर उत्तर प्रदेश को शुमार न किया जाए तो कुछ अधूरा रहेगा। उत्तर प्रदेश पर्यटन श्रद्धालुओं को इसलिए भी अपनी ओर आकर्षित करती है क्योंकि यहाँ काफी मशहूर तीर्थस्थल हैं। बनारस एक ऐसी जगह है जिसको हिन्दुओं द्वारा मुक्ति या मोक्ष स्थल भी कहते हैं और यह देश विदेश में पर्यटकों के बीच मशहूर है। उत्तर प्रदेश में गंगा और यमुना दोनों नदियोंका प्रवाह है और एक भौगोलिक ज्ञान का केंद्र भी है।

उत्तर प्रदेश के पर्यटन स्थलों की बात होने पर किसी भी व्यक्ति की आंखों के सामने हिमालय की वादियों का नजारा आ ही जाएगा! उत्तर प्रदेश पर्यटन स्थलों में इनका अहम स्थान है। यहां के खूबसूरत प्राकृतिक दृश्य पर्यटकों को रोमांचित करने वाले हैं।

उत्तर प्रदेश एक बेहद पवित्र जगह है और वैष्णवों के लिए महत्वपूर्ण जगह भी। भगवान कृष्ण और राम की जन्मभूमि मथुरा और अयोध्या भी उत्तर प्रदेश में ही है। कृष्ण से जुड़ी अन्य जगह जैसे वृन्दावन और गोवर्धन संभावित जगह हैं जहाँ लोग पूरे साल उत्सव और उल्लास के लिए आ सकते हैं।

राम के बेटे लव और कुश का जन्म स्थान बिठूर भी यहीं है। महान संत जैसे कबीर, तुलसीदास और सूरदास भी इसी धरती पर हुए जिनका धर्मपरायणता से ओतप्रोत गीतों के प्रति लगाव मशहूर है।अलाहाबाद सबसे पुराने शहरों में गिना जाता है और यहीं पर तीन महत्वपूर्ण और पावन नदियाँ गंगा, यमुना और सरस्वती का समागम होता है। इस जगह पर मशहूर कुम्भ मेला लगता है जो देश और विदेश से भक्तों, यात्रियों और तस्वीर प्रेमियों को अपनी ओर आकर्षित करता है।

यह बौद्ध धर्म के लोगों के लिए भी महत्वपूर्ण जगह है क्योंकि सारनाथ में ही बुद्ध ने अपना पहला धर्मोपदेश दिया था, कौशाम्बी में अशोक पिलर है और यहाँ पर बुद्ध ने कई धर्मोपदेश दिए हैं, श्रावस्ती में बुद्ध ने कई साल गुज़ारे और कुशीनगर में उन्होंने नश्वर घूँघर गिराया। प्रभासगिरी हिन्दू और जैन दोनों धर्म के लोगों के लिए समान रूप से महत्वपूर्ण है। उत्तर प्रदेश के जगहों का पौराणिक कथाओं में काफी उल्लेख है और यह रामायण और महाभारत जैसे भारत के महाकाव्य के विकास के लिए ज़िम्मेदार है।

भारतीय राजनीति में भी उत्तर प्रदेश का हमेशा दबदबा रहा है। 1947 में मिली आजादी के बाद से अब तक यह प्रदेश देश को कुल 10 में से सात प्रधानमंत्री दे चुका है।

उत्तर प्रदेश संस्कृति और प्रकृति का संगम है। इसी का नतीजा है कि दुनिया भर के लोग यहां पूरे साल आते रहते हैं। यहां अनेक पर्यटन स्थल के साथ-साथ धार्मिक स्थान हैं, जहां हजारों लोग हर साल घूमने आते हैं। इन पर्यटकों और यात्रियों की सुविधा के लिए उत्तर प्रदेश में हर स्तर के होटल हैं, जो इनका ख्याल रखते हैं। यहां सस्ते और मध्यम दर्जे के होटल तो हैं ही, सर्वसुविधा वाले पांच सितारा होटल और रिसोर्ट भी हैं। इसलिए उत्तर प्रदेश में आकर होटलों में ठहरना ज्यादा मुश्किल नहीं है। उत्तर प्रदेश जाने के लिए ट्रैन, हवाई जहाज, बसे भारत के किसी भी जगह से उपलब्ध हैं।

उत्तर प्रदेश के पर्यटन स्थल – Uttar Pradesh Tourist Place in Hindi

1). आगरा

आगरा विश्व प्रसिद्ध ताजमहल के लिए पूरे दुनिया भर में प्रसिद्ध है। इस प्राचीन शहर में अद्भुत स्मारक देखने योग्य है।

  • ताजमहल
  • फ़तेहपुर सीकरी
  • लाल क़िला
  • जोधाबाई का महल
  • सिकंदरा
  • जामा मस्जिद
  • एतमादुद्दौला का मक़बरा
  • चीनी का रोज़ा
  • मेहताब बाग़
  • दयाल बाग़
2). लखनऊ

मशहूर उत्तर प्रदेश की राजधानी और ‘ नवाबों के शहर ‘ , लखनऊ के रूप में जाना जाता है। यह अवध के नवाबों की राजधानी थी।

  • घंटाघर
  • छोटा इमामबाड़ा
  • जामा मस्जिद
  • चित्र दीर्घा
  • बड़ा इमामबाड़ा
  • बनारसी बाग़
  • मोती महल
  • रूमी दरवाज़ा
  • रेसीडेंसी संग्रहालय
  • कालका बिन्दादीन ड्योढ़ी
  • लाल बारादरी ‎
  • बटलर पैलेस
  • लाल पुल
  • छतर मंज़िल
  • अकबरी दरवाज़ा
  • शेर दरवाज़ा
3). वाराणसी

‘भारत की धार्मिक राजधानी’ के रूप में प्रसिद्ध यह शहर दुनिया के विभिन्न भागों से तीर्थयात्रियों द्वारा यात्रा कि जाती है। यह गंगा नदी के तट पर स्थित है।

  • काशी विश्वनाथ मन्दिर
  • भारत माता मन्दिर
  • दूध का कर्ज़ मंदिर
  • अन्‍नपूर्णा मंदिर
  • साक्षी गणेश मंदिर
  • काशी विशालाक्षी मंदिर
  • केदारेश्‍वर मंदिर
  • विष्‍णु चरणपादुका
  • भैरव मंदिर
  • सीता मंदिर
  • मारकण्डेय महादेव मंदिर
  • विंध्‍याचल मंदिर
  • काशी हिन्दू विश्वविद्यालय
  • भारत कला भवन वाराणसी
  • धूतपापेश्वर मंदिर
4). इलाहाबाद

इलाहाबाद हिंदू धर्म के अनुसार निर्माता के रूप में एक महत्वपूर्ण तीर्थ स्थल है। शहर तीन नदियों अर्थात् गंगा, यमुना और सरस्वती के संगम पर स्थित है।

  • संगम
  • गुरावली घाट
  • अल्फ़्रेड पार्क
  • इलाहाबाद क़िला
  • कड़ा
  • अशोक स्‍तम्‍भ
  • स्वराज भवन
  • आनंद भवन
  • गढ़वा
  • हनुमान मंदिर
  • संग्रहालय
5). कानपुर

गंगा नदी के तट पर कानपुर स्थित है जो उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा राज्य है। यह पहले देश का मैनचेस्टर कहा जाता था।

  • राधा कृष्ण मंदिर (J.K Temple)
  • शासकीय संग्रहालय
  • फूल बाग़
6). अयोध्या

अयोध्या को भगवान राम का जन्मस्थान माना जाता है। हिंदू धर्म के अनुयायियों के लिए पवित्र शहरों में से एक है।

  • गुलाबबाड़ी
  • कलकत्ता क़िला
  • गुप्तार घाट
  • ऋषभदेव राजघाट उद्यान
  • अयोध्या
7). झांसी

झांसी उत्तर प्रदेश के कम प्रसिद्ध शहरों में से एक है जहां धर्म , इतिहास, प्राकृतिक सुंदरता और स्थापत्य उत्कृष्टता का एक मिश्रण है और इसलिए आप झांसी देश के आम लक्षण में अपना हिस्सा है।

  • रानी महल, झाँसी
  • झाँसी किला
8). मथुरा

मथुरा भगवान कृष्ण की जन्मभूमि माना जाता है और इसलिए यह हिंदू धर्म के अनुयायियों के लिए सात पवित्र शहरों में से एक है। यह पहले के एक बौद्ध केंद्र था और हिंदू धर्म से पहले 20 मठों के घर था।

  • कृष्ण जन्मभूमि
  • द्वारिकाधीश मन्दिर
  • विश्राम घाट
  • केशी घाट
  • बांके बिहारी मन्दिर
  • गोविन्द देव मन्दिर
  • मदन मोहन मन्दिर
  • रंगनाथ जी मन्दिर
  • इस्कॉन मन्दिर
  • कुसुम सरोवर
  • मानसी गंगा
  • राधाकुण्ड
  • संकेत
  • हरिदेव जी मन्दिर
  • दानघाटी
  • ब्रह्माण्ड घाट
  • दाऊजी का मन्दिर
  • प्रेम मन्दिर
9). फतेहपुर सीकरी

फतेहपुर सीकरी, 16 वीं सदी के शहर , प्रसिद्ध मुगल सम्राट अकबर द्वारा बनाया गया था।

  • पञ्च महल
  • दीवान-ए-खास
10). कुशीनगर

कुशीनगर में एक लोकप्रिय बौद्ध तीर्थ स्थल है। इस प्राचीन शहर में भगवान बुद्ध अपने अंतिम उपदेश दिये थे। जगह के ऐतिहासिक महत्व को पुरातात्विक सबूत से पता लगाया जा सकता है।

  • निर्वाण स्तूप
  • परिनिर्वाण मन्दिर
11). सारनाथ

सारनाथ, काशी अथवा वाराणसी के १० किलोमीटर पूर्वोत्तर में स्थित प्रमुख बौद्ध तीर्थस्थल है। ज्ञान प्राप्ति के पश्चात भगवान बुद्ध ने अपना प्रथम उपदेश यहीं दिया था जिसे “धर्म चक्र प्रवर्तन” का नाम दिया जाता है और जो बौद्ध मत के प्रचार-प्रसार का आरंभ था। यह स्थान बौद्ध धर्म के चार प्रमुख तीर्थों में से एक है (अन्य तीन हैं: लुम्बिनी, बोधगया और कुशीनगर)।

  • सारनाथ संग्रहालय
  • अशोक स्तम्भ धर्मराजिका स्तूप
  • मूलगंध कुटी विहार
  • चौखंडी स्तूप
  • डीयर पार्क
  • धमेख स्तूप

और अधिक लेख –

1 thought on “उत्तर प्रदेश के दर्शनीय व पर्यटन स्थल | Uttar Pradesh Tourism in Hindi”

  1. कानपूर में आप JK मंदिर का वर्णन करना शायद आप भूल गये कृपया खूबसूरत jk मंदिर को पोस्ट में स्थान प्रदान करे !

Leave a Comment

Your email address will not be published.