मसूड़ों में दर्द-सूजन का घरेलू उपचार Masudo me Dard ka Gharelu Ilaj

Masudo me Sujan / मसूड़ों में सूजन और दर्द होना एक बहुत आम समस्या है हालाँकि इससे बहुत तकलीफ होती है। मसूड़ों में सूजन कई प्रकार से आ सकती है। और सही जानकारी न होने कारण कई अन्य मसूड़ों से संबधित बीमारियों से ग्रसित हो सकते है। मसूड़े में सूजन होने पर ब्रश करने और खाना चबाने में भी कठिनाई आती है। सामान्यत: मसूड़ों का रंग गुलाबी होता है परन्तु ऐसी स्थिति में मसूड़ों का रंग लाल हो जाता है। कुछ मामलों में तो मसूड़ों से खून भी आने लगता है। मसूड़ों में सूजन आने के कई कारण हो सकते हैं जैसे जिंजिवीटीज़, पोषक तत्वों की कमी, मुंह में होने वाले संक्रमण आदि।

मसूड़ों में दर्द-सूजन का घरेलू उपचार Masudo me Dard ka Gharelu Ilaj

सूजन होने से मसूड़े ढीले पड़ जातें हैं जिससे दांतों का नुकसान होता है। इसका इलाज न होने पर दांत हिलकर गिरने लगते हैं, जिसके कारण हम अपना मन पसंद खाना नहीं खा पाते और हमें अनेक प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इस समस्या से निपटने के लिए हम कुछ घरेलु उपायों की मदद ले सकते हैं जिनसे आसानी से इस समस्या से राहत पायी जा सकती है।

मसूड़ों में सूजन और दर्द होने के कारण – Masudo me Sujan ka Karan

  • पोषक तत्वों की कमी के वजह से
  • जिंजिवीटीज के कारण
  • मुंह में होने वाल संक्रमण के कारण

मसूड़ों का दर्द-सूजन दूर करने के लिए यह उपचार करें – Masudo me Sujan ka Gharelu Upchar

राई या सरसों के तेल में, बारीक नमक मिलाकर मंजन करने से दांत तथा मसूड़े मजबूत होते हैं। इससे दांत व मसूड़े के दर्द में आराम भी मिलता है।

मसूड़े के दर्द में हल्दी के टुकड़े मुंह में डालकर चूसें।

दाढ़ के दर्द में नमक मिले अदरक के टुकड़े को चूसने से लाभदायक होता है।

मसूड़ों में सूजन होने पर हरा पुदीना पानी में उबाल लें और उस पानी के कुल्ले करें। जल्दी आराम मिलता है।

पानी में मैथी उबालकर उसके कुल्ले करने से मसूड़ों को आराम मिलता है।

यदि भुने सुहागे के साथ काली मिर्च पीसकर मसूड़ों के घाव पर लगाया जाए तो मसूड़े जल्दी ठीक हो जाते हैं।

दांत दर्द में लौंग का तेल लगाने से आराम मिलता है। इससे सूजे हुए मसूड़े भी ठीक हो जाते हैं।

दांत के दर्द में दालचीनी के तेल का फाहा लगाने से तत्काल आराम मिलता है।

यदि शौच के समय ऊपर नीचे के दांतों को भींच कर बैठा जाए तो दांत जिंदगी भर नहीं हिलेंगे।

फिटकरी के पानी से कुल्ला करने पर मसूड़ों से खून आना बंद हो जाता है। दांत मजबूत होते हैं और कीड़े मर जाते हैं।

दांत या दाढ़ में कीड़ा लग जाने से छेद हो जाते हैं। उस छेद में कपूर का टुकड़ा रखने से दांत-दाढ़ के कीड़े मर जाते हैं। दर्द कम हो जाता है।

मसूड़ों की सूजन दूर करने की यह पारंपरिक पद्धति बहुत प्रभावकारी है। लौंग में यूगेनोल होता है जिसमें एंटीऑक्सीडेंट तथा सूजन को दूर करने का गुण होता है जो सूजन से आराम दिलाने में बहुत प्रभावी होता है।

दांतो के दर्द में तुलसी के ताजा पत्ते तथा काली मिर्च पीसकर दांतों के नीचे रखने से दांत का दर्द जाता रहता है।

दांत के दर्द और मसूड़ों में सूजन होने पर लहसुन को पीसकर उससे धीरे-धीरे मालिश करने से आराम मिलता है।

प्याज के रस को मसूड़ों पर मलने से मसूड़ो की सूजन कम होती है।

मुंह से संबंधित समस्याओं के निदान में नमक का पानी बहुत महत्वपूर्ण होता है। नमक के पानी से कुल्ला करने से मुंह में होने वाले संक्रमण से बचाव होता है जो मसूड़ों में सूजन आने का एक कारण है।

एरंड के तेल में सूजन विरोधी गुण होता है जो मसूड़ों की सूजन से राहत दिलाने में एक प्रभावी घरेलू उपचार है। दर्द वाले भाग पर इसे लगाने से दर्द तथा सूजन से आराम मिलता है।

मुंह के संक्रमण से बचाव के लिए अदरक एक प्राचीन उपचार है। अदरक में सूजन विरोधी गुण होता है जो मसूड़ों की सूजन से राहत दिलाता है तथा मुंह में होने वाले बैक्टीरिया से बचाव भी करता है।

अजवायन मसूड़ों की सूजन को दूर करने का एक अच्छा विकल्प है। इसके लिए अजवायन को तवे पर भून कर पीस लें। अब इसमें दो या तीन बूंद राई का तेल मिला कर हल्‍का-हल्‍का मसूड़ों पर मलें। इससे मसूड़ों को आराम मिलता है साथ ही दांतों के अन्य रोग भी दूर किये जा सकते हैं।

फिटकरी का प्रयोग भी मसूड़ों की सूजन को दूर करने का अच्छा उपाय है। इसके लिए फिटकरी के चूर्ण को मसूड़ों पर मले इससे मसूड़ों की सूजन को कम किया जा सकता है।


और अधिक लेख –

1 thought on “मसूड़ों में दर्द-सूजन का घरेलू उपचार Masudo me Dard ka Gharelu Ilaj”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *