लाल बाग़ ‘बेंगलुरु’ की जानकारी | Lal Bagh Bangalore Information in Hindi

Lal Bagh Bangalore in Hindi/ लाल बाग़ कर्नाटक के बेंगलुरु शहर में स्थित एक ख़ूबसूरत बाग़ है। इस बाग का निर्माण कार्य हैदर अली ने शुरू किया था और बाद में उनके बेटे टीपू सुल्तान ने इसे पूरा किया। करीब 240 एकड़ भूभाग में फैले इस बाग में दूर तक फैली हरियाली, सैंकड़ों वर्ष पुराने पेड़, सुंदर झीलें, कमल के तालाब, गुलाबों की क्यारियाँ, दुर्लभ समशीतोष्ण और शीतोष्ण पौधे, सजावटी फूल पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं।

लाल बाग़ (बेंगलुरु) की जानकारी | Lal Bagh Bangalore Information in Hindiलाल बाग़ (बेंगलुरु) के बारे में जानकारी – Lal Bagh Bangalore Information in Hindi

लाल बाग़ में वनस्पतियों की 1000 से ज्यादा प्रजातियां पाई जाती हैं। यहाँ प्रकृति मनुष्य के साथ साक्षात्कार करती है। यह स्थान बंगलोर के सुंदरतम स्थानों में से एक है जिसे लाल बाग बॉटनिकल गार्डन, या लाल बाग वनस्पति उद्यान कहते हैं। लालबाग के बीचोबीच शीशा निर्मित एक बड़ा ग्लास-हाउस है जहां वर्ष में दो बार, जनवरी और अगस्त में पुष्प प्रदर्शनी का आयोजन किया जाता है। पार्क के भीतर ही एक डीयर- एंक्लेव भी है। इस सुंदर दृश्यावली वाले उद्यान में अक्सर फिल्मों की शूटिंग होती रहती है।

बाग में सिंचाई की व्यवस्था बेहतरीन है और इसे कमल के फूल वाले तालाब, घास के मैदान और फुलवारी के जरिए बेहतरीन तरीके से सजाया गया है।

लाल बाग की चट्टानें करीब 3000 मिलियन साल पुरानी है और इसे धरती का सबसे पुराना चट्टान माना जाता है। भेंट के तौर पर गार्डन के बीच में एचएमटी द्वारा एक इलेक्ट्रॉनिक फ्लावर क्लॉक बनवाया गया है। इस गार्डन ही हरियाली के बीच में घूमते-घूमते कब आप इंसान से ज्यादा प्रकृति से प्रेम करने लग जाएंगे, आपको पता भी नहीं चलेगा।

यहाँ एक बड़ी सी क्लॉक भी हैं, जिसका नाम फ्लोरल क्लॉक हैं। यह विभिन्न फूलों के पौधों और झाड़ियों से बनी है, जिसका व्यास 7 मीटर है। इसे एक बगीचे में रखा गया है जिसे स्नो व्हाइट और सेवन ड्वार्फ से मूर्तियों के साथ सजाया गया है, जो इसे वयस्कों और बच्चों दोनों के लिए एक दिलचस्प स्थान बनाता है। इसके अलावा यहाँ लालबाग हाउस, लालबाग वेस्ट गेट गार्ड रूम, निदेशालय भवन, संग्रहालय, कबूतर हाउस जैसे अन्य कई आकर्षण भी मौजूद है।

वर्तमान में लाल बाग को बागबानी निदेशायल द्वारा सहयोग किया जा रहा है। हालाँकि इसे 1856 में ही सरकारी बॉटनिकल गार्डन घोषित कर दिया गया था। लंदन के क्रिस्टल पैलेसे से प्रभावित होकर बाग के अंदर एक ग्लास पैलेस भी बनाया गया है, जहां हर साल फूलों की प्रदर्शनी का आयोजन किया जाता है।

यह पर्यटकों के आकर्षण का एक प्रमुख केंद्र है। इस बगीचे के अंदर एक ख़ूबसूरत झील है। यह झील 1.5 वर्ग किलोमीटर में फैली हुई है। यह झील का नज़ारा एक छोटे से द्वीप की तरह प्रतीत होता है।

लाल बाग़ का इतिहास – Lalbagh History in Hindi

लाल बाग़ के इतिहास पर नजर डाले तो, इसका निर्माण 1760 में हैदर अली द्वारा शुरू किया गया था। हैदर अली मुगल गार्डन के एक बड़े प्रशंसक थे इसीलिए अपने शहर में भी इसे स्थापित करना चाहते थे। बाद में उनके बेटे टीपू सुल्तान ने इसे पूरा किया। 1856 तक इसे रोज या सरू गार्डन के रूप में जाना जाता था। लालबाग के अन्दर स्थित प्रसिद्ध ग्लास हाउस की नींव वर्ष 1898 में रखी गई थी जिसे आगे लंदन के क्रिस्टल पैलेस की छवि में जॉन कैमरन द्वारा बनाया गया था।

लाल बाग़ में फ्लावर शो – Flower Shows At Lalbagh in Hindi

हर साल गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस पर, लालबाग के परिसर में पुष्प प्रदर्शनी आयोजित की जाती है। फ्लावर शो के दौरान यहाँ सिंबिडियम फूल, इम्पैटिंस, बेगोनिया और फुशिया जैसे फूल देखे जा सकते हैं। इनके अलावा, फूलों को तितलियों के रूप में भी व्यवस्थित किया जाता है, जो बेहद मनमोहक होते है। 2017 में गणतंत्र दिवस के मौके पर 27 लाख खर्च इसे सजाया गया था। उद्यानिकी और मैसूर बागवानी सोसायटी द्वारा ऑर्गेनाइज किया जाना वाला यह शो गार्डन में वनस्पतियों का एक सुंदर चित्रण है जो स्थानीय लोगों और पर्यटकों के बीच काफी पॉपुलर है।

लाल बाग कैसे जाएँ – How To Reach Lal Bagh Bangalore in Hindi

कर्णाटक के मुख्य शहर में होने के कारण लालबाग बॉटनिकल गार्डन हवाई जहाज, ट्रेन और सड़क मार्ग द्वारा भारत के सभी हिस्सों से काफी अच्छी तरह से जुड़ा है जिस वजह से पर्यटक यहाँ फ्लाइट, ट्रेन या सड़क मार्ग में से किसी से भी ट्रेवल करके आसानी से बैंगलोर आ सकते है। साथ आपको होटल भी आसानी से मिल जायेंगे।

लाल बाग हर दिन सुबह 6 बजे से शाम 7 बजे तक खुला रहता है। स्कूली बच्चों और विकलांग के लिए प्रवेश पूरे दिन नि:शुल्क है। अन्य पर्यटकों के लिए 25 रूपये और कैमरा के लिए 60 रूपये देने होते हैं।


और अधिक लेख – 

Please Note : – Lal Bagh Bangalore in Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे  Comment Box मे करे।

Leave a Comment

Your email address will not be published.