चुकंदर के फायदे और गुण | Beetroot Benefits in Hindi

चुकंदर के फायदे अनगिनत होते हैं, इसलिए इसे सुपरफूड के रूप में भी जाना जाता है।। चुकंदर में पर्याप्त मात्रा में आयरन, विटामिन और मिनरल्स होते हैं, जो खून को बढ़ाने और उसे साफ करने का काम करते हैं। इसको सलाद, सब्जी, अचार और जूस के रुप में सेवन करते हैं। चुकंदर न सिर्फ सौन्दर्य दृष्टि से फायदेमंद है बल्कि ये स्वास्थ्यवर्द्धक भी है। चुकंदर का पूरा पौधा एवं इसका प्रत्‍येक हिस्‍सा खाने योग्‍य होता है। तो चलिए जाने चुकंदर फायदे.

Beetroot Benefits in Hindi

चुकंदर के बारे में जानकारी – Health Benefits of Beetroot in Hindi

Contents

चुकंदर का वानस्पतिक नाम : Beta vulgaris Linn. (बीटा वल्गेरिस) Syn-Beta alba DC. Chenopodiaceae (कीनोपोडिएसी) कुल का है। चुकंदर का अंग्रेज़ी नाम : Beet root (बीट रूट) है। चुकंदर की खेती सबसे पहले रोम में की गई थी। उस समय केवल पशु चारे के रूप में इसका इस्तेमाल किया जाता था। छठी शताब्‍दी के बाद चुकंदर के स्‍वास्‍थ्‍यवर्द्धक फायदों का पता चला और इसके बाद ये हमारे आहार का अहम हिस्‍सा बन गया। चुकंदर की तासीर ठंडी होती है। चुकन्दर आपके ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रण में रखने से लेकर आपका सेक्सुअल स्टैमिना तक बढ़ाता है। ये एक नेचुरल फूड कलर के रूप में भी काम करता है।

चुकंदर में पाएं जाने वाले पोषक तत्व – Beetroot Nutrition Facts in Hindi

बीट में मुख्य रूप से पानी (87%), कार्ब्स (8%) और फाइबर (2–3%) होते हैं। उबले हुए चुकंदर के एक कप (136 ग्राम) में 60 से कम कैलोरी होती है, जबकि कच्चे बीट्स के 3/4 कप (100 ग्राम) में निम्नलिखित पोषक तत्व होते हैं।

  • Calories: 43
  • Water: 88%
  • Protein: 1.6 grams
  • Carbs: 9.6 grams
  • Sugar: 6.8 grams
  • Fiber: 2.8 grams
  • Fat: 0.2 grams

चुकंदर के फायदे – Chukandar ke Fayade 

1). हाई ब्लड प्रेशर के लिए – Beetroot Benefits For High Blood Pressure Hindi

हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने के कई आधुनिक उपाय मौजूद हैं, लेकिन प्राकृतिक उपचार में चुकंदर का सेवन किया जा सकता है। बीटरूट में नाइट्रेट नामक तत्व पाया जाता है, जो हाई बीपी को कम करने का काम करता है। नाइट्रेट धमनियों को चौड़ा करता है। हाई ब्लड प्रेशर के देशी उपचार के रूप में रोजाना चुकंदर का जूस पीने के फायदे देखे जा सकते हैं।

2). डायबिटीज़ मे फायदेमंद – Beetroot For Diabetes Patient in Hindi

चुकंदर खाने के एक फायदा यह भी हैं की ये मधुमेह को नियंत्रण करता है। इसके हाइपोग्लेमिक गुणों के कारण डायबिटीज के प्राकृतिक इलाज के रूप में चुकंदर का सेवन किया जा सकता है। इसमें बहुत कम कैलोरी होती है और इसका फैट-फ्री होना भी इसे डायबिटीज़ के मरीजों के लिए परफेक्ट वेजिटेबल बनाता है। यह एक गुणकारी खाद्य पदार्थ है। इसका सेवन रोजाना करने से रक्त शर्करा संतुलित हो जाती है, जिससे डायबिटीज के मरीजों के लिए यह फायदेमंद हो सकता है। ये सभी तत्व मधुमेह के स्तर को कम करने का काम कर सकते हैं।

3). गंजापन से बचाएं  – Beetroot Good For Hair in Hindi

चुकन्दर के पत्ते के रस को कुछ दिनों तक लगातार सिर में लगाने से सिर का गंजापन कम होता है या चुकन्दर पत्ते में हल्दी मिलाकर पीसकर सिर में लगाने से भी बालों का झड़ना कम होता है। इसे मेहँदी के साथ मिलाकर बाल रंगने के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

4). कब्ज और बवासीर में मददगार – Chukandar ke Bawasir me Fayade

चुकंदर में फाइबर होता है इसलिए यह कब्ज को दूर करने के लिए दवाई का काम करता है। चुकन्दर के जड़ के चूर्ण को घी के साथ 21 दिनों तक सेवन करने से बवासीर में लाभ होता है। इसके अलावा चुकन्दर का काढ़ा बनाकर 10-30 मिली काढ़ा को सुबह भोजन के 1 घंटा पहले तथा रात में सोते समय पीने से कब्ज तथा रक्तार्श (खूनी बवासीर) में लाभ होता है। चुकंदर में कैलोरी काफी कम होती है और एंटीऑक्सीडेंट और फाइबर अधिक होता है जिससे आप आसानी से अपना वज़न भी कम कर सकते हैं।

5). एनीमिया में लाभकारी – Beetroot Treat for anemia in Hindi

आयरन शरीर में लाल रक्त कोशिकाएं बनाने में मदद करता है और लाल रक्त कोशिकाएं शरीर के विभिन्न भाग में ऑक्सीजन पहुंचाने का काम करती हैं। एनीमिया ऐसी अवस्था होती है, जब शरीर में आयरन की कमी के कारण पर्याप्त लाल रक्त कोशिकाएं नहीं बन पाती। चुकंदर में पर्याप्त मात्रा में आयरन, विटामिन और मिनरल्स होते हैं, जो खून को बढ़ाने और उसे साफ करने का काम करते हैं। इसलिए एनीमिया का उपचार करने के लिए आयरन युक्त खाद्य पदार्थ का सेवन करने की सलाह दी जाती है। बताया जाता है कि 100 ग्राम कच्चे चुकंदर में 0.8 मिलीग्राम और पके हुई चुकंदर में 0.79 मिलीग्राम आयरन पाया जाता है, जिसके सेवन से एनीमिया से आराम पाया जा सकता है।

6). दिमाग के लिए हितकारी – Beetroot Benefits for Brain in Hindi

कॉग्निटिव फंक्शन जैसे स्मृति, एकाग्रता, निर्णय लेने की क्षमता आदि उम्र के साथ कम होने लगती है। इसके पीछे का मुख्य कारण होता है दिमाग के ऊपरी हिस्से (सेरिब्रेम) की तरफ ब्लड फ्लो की कमी हो जाना। यह आगे चल कर अन्य गंभीर समस्या जैसे ब्रेन डैमेज या अल्जाइमर रोग आदि का कारण बन सकता है। ऐसे में नाइट्रिक ऑक्साइड का अच्छा स्रोत जैसे चुकंदर इस समस्या को कुछ हद तक कम करने में मदद कर सकता है। यह दिमाग में रक्त संचार को बढ़ाता है और कॉग्निटिव फंक्शन को बेहतर बनाए रखने में सहायक हो सकता है। चुकंदर में कोलीन (choline) नामक पोषक तत्व होता है जो हमारी याद रखने की क्षमता को बढ़ाता है और याददाश्त को तेज रखने में मदद करता है। इससे पागलपन के दौरे को भी ख़त्म करने में भी मदद मिलती है।

7). हार्ट के लिए हितकारी – Chukandar Ke Fayde for Heart in Hindi

चुकंदर का जूस दिल का सबसे अच्छा दोस्त है। दिल के मरीज को हैं बीटरूट का जूस पीना चाहिए। चुकंदर का जूस पीने से हाइपरटेंशन और हार्ट अटैक जैसी बीमारियां दूर होती हैं। इसके लिए एक चुकंदर लें और उसे छिल कर अच्छे से धो लें। इसके बाद उसे मिक्सर जार में डाल कर अच्छे से पीस लें। फिर छन्नी से छान कर उसमें जीरा पाउडर और नमक डालकर उसका सेवन करें। अगर आप हाई ब्लड प्रेशर के मरीज हैं तो बीटरूट जूस में नमक ना डालें। अगर आपका ब्लड प्रेशर लो रहता है तो आप नमक के साथ इसका सेवन कर सकते हैं।

8). दर्द में राहत – Chukandar ke Fayade

चुकन्दर का इस्तेमाल आप आयुर्वेद के तौर पर दर्द से रहत पाने के लिए भी कर सकते हैं। चुकन्दर के तेल की मालिश करने से दर्द से आराम मिलता है। चुकन्दर के पत्तों के रस में शहद मिलाकर सूजन पर लगाने से जल्द राहत मिलती है।

9). पीरियड्स में मददगार – Beetroot Benefits for Periods In Hindi

पीरियड्स में चुकंदर का रस या जूस पीने से आराम मिलता है। कई बार कुछ महिलाओं में पीरियड्स के दौरान ज्यादा ब्लीडिंग होती है, तो उन्हें ब्लड की कमी का सामना भी करना पड़ता है। ऐसे में आपको ब्लीडिंग चाहे हैवी हो या कम हो, पीरियड्स में बीटरूट जूस का सेवन करने से ब्लड की कमी नहीं होती है। चुकंदर आयरन से समृद्ध होता है और ये रक्त की मात्रा और रक्त प्रवाह में सुधार करने में मदद करता है। आयरन, लाल रक्त कोशिकाओं का एक आवश्यक तत्व है और शरीर के विभिन्न हिस्सों में ऑक्सीजन और पोषक तत्वों की आपूर्ति के लिए जिम्मेदार है।

10). चुकंदर खूबसूरती बनाये रखे – Beetroot Benefit for Skin in Hindi

बीटरूट का सेवन करने से त्वचा में ब्लड फ्लो अच्छा होता है, जिससे एजिंग धीमे-धीमे होती है। इसके अलावा अगर आपके होंठ काले हैं तो इसका रस होंठों पर लगाने से पिंक लिप्स पा सकते हैं। आंखों के नीचे डार्क सर्कल होने पर भी बीटरूट जूस लगाने से डार्क सर्कल कम होते हैं। वहीं, आप इसके पतले-पतले स्लाइस काट कर चेहरे पर लगा सकते हैं, जिससे आपको फ्रेश और एक समान रंगत वाली स्किन मिलेगी। चुकंदर आपके चेहरे पर झुर्री और धारियों को कम करने में मदद करता है। चुकंदर फोलेट और फाइबर का एक अच्छा स्रोत है जो त्वचा से अशुद्धियां और गंदगी को हटाने में भी मदद करता है।

11). गर्भवती महिलाओं और भ्रूण के लिए फायदेमंद Beetroot Benefits for Pregnancy in Hindi

चुकन्दर में उच्च मात्रा में फॉलिक एसिड पाया जाता है। यह पोषक तत्व गर्भवती महिलाओं और उनके अजन्म बच्चों के लिए महत्वपूर्ण होता है क्योंकि इससे अजन्म बच्चे का मेरुदंड बनने में मदद मिलती है। चुकन्दर गर्भवती महिलाओं को अतिरिक्त ऊर्जा देता है। गर्भावस्था के दौरान चुकंदर का रस महिला में एनीमिया विकसित होने से रोकता है।

12). शरीर में उर्जा बढ़ाता है – Chukandar Khane Ke Fayde for Energy and gym in Hindi

जो लोग जिम में काफी वर्कआउट करते है और सारा दिन काम कर के थक जाते है उनके लिए चुकंदर खाना बहुत फायदेमंद होता है। चुकंदर खाने से एनर्जी लेवल बढ़ता है। इसके साथ ही इसमें मौजूद नाइट्रेट तत्व धमनियों का विस्तार करने में मदद करता है। चुकंदर का रस पीने से एक्ससरसाइज करने में और मांसपेशियों के प्रदर्शन में सुधार होता है। चुकन्दर में आयरन बोता है जो कि स्टैमिना बढ़ाने का काम करता है।

13). कैंसर में फायदेमंद – Beet Good for Fighting Cancer Treat in Hindi

चुकंदर में बेटासायनिन (betacyanin) नामक रासायनिक तत्व की प्रचुर मात्रा पाई जाती है जिसके कारण चुकंदर का रंग हल्का भूरा और बैंगनी होता है। इसी वजह से यह हमारे शरीर को कैंसर जैसी घातक बीमारियों से लड़ने में मदद करता है। एक अध्ययन में ये पाया गया कि जिन लोगों को ब्रेस्ट या प्रोस्टेट कैंसर होता है, वो अगर चुकन्दर खाए तो उनके ट्यूमर बढ़ने की गति 12.5% कम हो जाती है। जिन लोगों को ये खतरनाक बीमारी नहीं है उनके चुकन्दर खाने से इसका जोखिम कम हो जाता है।

चुकंदर के नुकसान – Beetroot Side Effects Hindi

चुकंदर की तासीर ठंडी होती है। इसके अनेक फायदे के साथ नुकसान भी हैं। इसको रोज़ खाना स्वास्थ्य के लिए अच्छा है लेकिन इसको खाने से पहले इसके फायदे और नुकसान दोनों को अच्छे से जान ले।

  • अगर आप रोजाना चुकंदर का जूस पीते हैं, तो इससे आपके शरीर में शुगर बढ़ सकती है, क्योंकि 100 ग्राम चुकंदर में लगभग 7 ग्राम शुगर होती है। इसलिए चुकंदर के जूस पिने पर अलग से शर्करा के सेवन नहीं करे।
  • चुकंदर को अधिक मात्रा में खाने से मतली और डायरिया जैसी समस्‍या हो सकती है।
  • रोजाना चुकंदर का जूस पीना नुकसानदायक हो सकता है, इसलिए इसका प्रयोग सप्ताह में तीन बार से ज्यादा न करें। एक बार में चुकंदर के जूस की आठ औंस से अधिक मात्रा लेना हानिकारक हो सकता है।
  • किडनी की बीमारियों से पीड़ित लोगों को चुकंदर की अधिक मात्रा लेने से बचना चाहिए। चुकंदर से गाउट नामक बीमारी होने का खतरा रहता है जिससे जोड़े सुरक लाल रंग के दिखते हैं और तेज़ बुखार भी हो सकता है।

Also, Read More :- 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *