अंडा खाने के फायदे और नुक्सान | Benefit of Egg in Hindi

Egg Benefits / अंडा में प्रोटीन, कैल्‍शियम और ओमेगा 3 फैटी एसिड मिलता है। अंडा एक तरफ जहां सेहत से भरपूर होता है वहीं इसे बनाना भी काफी आसान होता है तभी तो ज्यादातर लोग नाशते में अंडे को शामिल करते हैं। अंडे में काफी सारे पोषक तत्व होते हैं। अंडे में मौजूद तत्व आपको कई गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं से तो बचाते ही है साथ ही आपकी फिटनेस को भी बरकरार रखते हैं। इसलिए कहते हैं ‘संडे हो या मंडे रोज खाओ अंडे’।

अंडा खाने के फायदे और नुक्सान | Benefit of Egg in Hindi

अंडा के गुण और फायदे – Benefits of Egg Eating in Hindi

अंडे चाहे उबले हुए हो या फिर पका हुए हो, ये आपका दिन शुरू करने का एक अति उत्तम आहार है। इसमें शरीर के जरूरी प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, वसा, विटामिन बी12, फोलेट, सेलेनियम, फॉस्फोरस, आयरन, जिन्क, कैल्शियम आदि पाए जाते हैं। हालांकि, कई लोग इसके पीले हिस्‍से के बारे में ऐसी राय नहीं रखते। लेकिन, हकीकत यह है कि पूरा अंडा ही स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक गुणों से भरपूर होता है। कई लोगों का मानना है कि गर्मी में अंडा नहीं खाना चाहिए क्योंकि इसकी तासीर गर्म होती है जो कि सही नहीं है।

अंडे में मौजूद पोषक तत्व व् उनकी मात्रा इस प्रकार है – Egg Nutrition Facts in Hindi

(अंडा दो पार्ट में होता हैं, सफ़ेद और पीला (जर्दी भाग)। यहां दोनों को अलग अलग दर्शाया गया हैं।)

सफ़ेद भाग – White

तत्वमात्रा
फैट0g
सैट. फैट0g
कोलेस्ट्रोल0mg
कार्बोहाइड्रेट0g
प्रोटीन4g

जर्दी भाग – Yolk

तत्वमात्रा
फैट4.5g
सैट. फैट1.6g
कोलेस्ट्रोल184mg
कार्बोहाइड्रेट0.5g
प्रोटीन2.5g

अंडा खाने का तरीका – Best Ways to Eating Egg 

अंडे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक तो होते हैं, लेकिन इसका गलत सेवन आपके लिए खतरनाक भी हो सकता है। जहां तक अंडों को पकाने की बात है तो इसे बहुत साधे तरीके से बनाना चाहिए या उबले रूप में खाना चाहिए। ज्यादातर डाइटिशियन सलाह देते हैं कि अंडों को तलना नहीं चाहिए, क्योंकि ऐसे इसमें फैट और कॉलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ जाती है।

अंडा के फायदे और गुण – Anda Khane ke Fayde

वजन घटाने और बढ़ाने में मददगार : अंडा शरीर के वजन को नियंत्रित करने में मदद करता हैं। इसे खाने से भूख शांत हो जाती है और देर तक आपका पेट भरा रहता है और आप ओवरईटिंग से बच जाते हैं। अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो अंडे का सिर्फ सफेद भाग ही खाएं क्‍योंकि पीले वाले हिस्‍से में कॉलेस्‍ट्रोल काफी ज्‍यादा होता है। जो लोग जिम जाते हैं उनकी डाइट में अंडे को विशेष तौर पर शामिल किया जाता है। लेकिन उन्‍हें सिर्फ सफेद भाग खाने की सलाह दी जाती है। वहीं, जिन लोगों को वजन बढ़ाना है उन्‍हें अंडे का पीला वाला हिस्‍सा खासतौर पर खाना चाहिए। जिन बच्‍चों का वजन कम होता है उन्‍हें रोजाना एक अंडा खाने की सलाह दी जाती है।

दिमाग मजबूत करे : अंडे में मौजूद कॉलिन दिमाग के विकास के लिए बहुत जरुरी है। कॉलिन एक ऐसा पोषक तत्व है, जो दिमाग को तेज बनाने व् विकास के लिए बहुत जरुरी होता है। छोटे बच्चे से लेकर बड़े बूढों तक के दिमाग को इसकी जरुरत पड़ती है। इसकी कमी से याददाश्त कम होती है। इसी की कमी से बच्चे मंद बुद्धि पैदा होते है। इसमें कुछ ऐसे तत्व भी पाए जाते हैं जो डिप्रेशन दूर कर मूड अच्‍छा बनाते हैं।

ब्लडप्रेशर घटाए : हर रोज नाश्ते में अंडे का सेवन आपको बल्डप्रेशर के खतरे से बचा सकता है। अंडे के सफेद हिस्से में ब्लडप्रेशर घटाने की क्षमता होती है। अंडे का सफेद हिस्सा रक्तचाप कम करने में कारगार माना जाता है। जानकारों के मुताबिक अंडे के सफेद हिस्से में मौजूद पेप्टाइड रक्तचाप को कम करता है।

आँखों की सुरक्षा : अंडे में भरपूर मात्रा में कैरोटिनायड्स पाया जाता है जो आंखों के सेहत के लिए बेहद जरूरी है। कैरोटिनायड्स आंखों की मांसपेश‍ियों को मजबूती देता है। अंडा ल्यूटिन और ज़ेक्सैथिन का भी एक अच्छा स्रोत है। अनुसंधान में दिखाया गया है कि यह कैरोटीनोइड धब्बेदार अध: पतन को रोकने और मोतियाबिंद विकसित करने के जोखिम को कम करने में अत्यधिक फायदेमंद हैं।

बालों के लिए फायदेमंद : अंडे में प्रोटीन और जरूरी अमीनो एसिड पर्याप्त मात्रा में होते हैं। इसमें हाई सल्फर कंटेंट, विटमिन (ए, डी और ई) और मिनरल्स पाए जाते हैं, जो बालों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए बेहद जरूरी हैं। इसमें मौजूद प्रोटीन की मात्रा और लेसिथिन तत्व बालों के फॉलिकल्स को मजबूत बनाने का काम करते हैं। साथी ही ये उनका टूटना भी कम करते हैं। अंडे के पीले भाग को बालों में लगाने से बाल कोमल और मुलायम होते हैं।

दिल को स्वस्थ रखने में मदद : अंडा हृदय रोगियों के लिए भी काफी फायदेमंद है। इससे उनका कोलेस्ट्रॉल, ब्लडप्रेशर और शरीर का वजन ठीक रहता है जो हृदय रोग के खतरे को बढ़ा देता है। गर्मी या सर्दी, किसी भी मौसम में अंडा दिल को नुकसान नहीं पहुंचाता है।

स्तन कैंसर कम करें : अंडा स्तन कैंसर की रोकथाम में काफी मददगार साबित होता है। अगर महिलाएं हर रोज अंडे का सेवन करेंगी तो उनमें स्तन कैंसर का खतरा काफी कम हो जाता है।

हड्डी मजबूत करे : कैल्शियम की कमी से हड्डी, दांत, नाख़ून कमजोर हो जाते है। इसे खाने से आपको प्रोटीन, कैल्‍शियम और ओमेगा 3 फैटी एसिड मिलता है। जहां प्रोटीन हमारे शरीर की मांसपेशियों को मजबूत बनाता है वहीं कैल्‍शियम से दांतों और हड्डियों को मजबूती मिलती है।

कोलेस्ट्रॉल बढ़ाये : हमारे शरीर में खराब और अच्छे दो तरह के कोलेस्ट्रॉल होते हैं। अंडा अच्छे कोलेस्ट्रॉल यानी एचडीएल को बढ़ाने में मदद करता है। मेटाबोलिक सिन्ड्रोम से जूझ रहे लोगों में यह कोलेस्ट्रॉल बनना धीमा हो जाता है। यूनिवर्सिटी ऑफ कनेक्टिकट के शोध के मुताबिक अंडा ऐसे लोगों के लिए अनुकूल है।

गर्भावस्था में लाभकारी : अंडे को गर्भावस्था के दौरान खाने के लिए एक स्वस्थ भोजन माना जाता है। पर्याप्त पोषण प्रदान करने के अलावा, अंडा जन्मजात बच्चे में मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं के जोखिम और बाद में जीवन में बीमारियों से ग्रस्त होने के खतरे को कम करने में सहायता करता है।

अंडा खाने के नुक्सान – Anda Khane ke Nuksan in Hindi

जैसा की कोई भी चीज के फायदे होने के साथ नुक्सान भी होता हैं इसी तरह अंडा में भी नुक्सान पाया जाता हैं।

1). डॉक्टरों के अनुसार शरीर में प्रोटीन की अत्यधिक मात्रा किडनी को हानि पहुंचा सकती है और उससे सम्बंधित विकारों को भी उत्पन्न कर सकती है। और क्योंकि अंडे में बहुत ही उच्च मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है, इसका अत्यधिक सेवन किडनी के लिए हानिकारक साबित हो सकता है।

2). अंडे की सफेदी में बहुत अधिक मात्रा में सोडियम होता है, जिस किसी को सोडियम न खाने की सलाह दी जाती है, उन्हें अंडा सोच समझकर अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए।

3). कच्चे अंडे का सफ़ेद भाग खाने से आपके शरीर में बायोटिन की कमी हो सकती है। बायोटिन को विटामिन एच या विटामिन बी 7 के रूप में भी जाना जाता है। बायोटिन की कमी के कारण त्वचा रोग, मांसपेशी टोन की कमी, मांसपेशियों में दर्द और ऐंठन, दौरे, बालों के झड़ने का अभाव और कुछ अन्य स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं।

4). कई लोगों को अंडों से एलर्जी भी होती है। पांच साल से कम उम्र के बच्चों को ये शिकायत ज्यादा होती है। एलर्जी होने पर हमेशा डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

5). जिन लोगों को हाई ब्लड प्रेशर, डाइबिटीज़ व हृदय संबंधी रोग है, उन्हें अंडे का पीला वाला हिस्सा नहीं खाना चाहिए। इसमें बहुत ज्यादा मात्रा में कोलोस्ट्रोल होता है जो हृदय के लिए नुकसानदेह है।

6). बहुत अधिक अंडे खाना से लकवा, नपुंसकता, पैरों में दर्द, मोटापे की समस्या हो सकती है।

वीडियो में देखे –


और अधिक लेख – 

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *