पढ़ाई मे तेज बनने का असान तरीका – Padhai Study Kaise kare

Padhai kaise Kare

कई स्टूडेंट्स के साथ एक ही समस्या होती हैं की वो बहुत पढ़ते हैं पर एग्ज़ॅम के वक्त सब भूल जाते हैं। उसका कारण हैं तनाव. और तनाव इसलिए होता हैं की आप क़ायदे से पढ़ाए नही करते हैं। अगर आप सही ढंग से पढ़ेंगे तो आपको ये प्राब्लम नही होगी। तो चलिए मैं आपको पढ़ाई करने का कुछ बेहतरीन टिप्स बताता हूँ। जिसे फॉलो करके आप अच्छे मार्क्स ला सकते है और ना ही कोई तनाव रहेगा।

चिंतन-मनन कीजिए – Revision

आप जो भी पढ़ाई किए उसके बारे मे चिंतन-मनन कीजिए, कहने का मतलब हैं की उसपे ध्यान लगाए आप ने क्या-क्या पढ़ा। रात मे सोने से पहले या कोई एकांत जगह मे बैठ के सोचे की आपको क्या याद हैं कितना पढ़ा और क्या बाकी हैं। इससे आपका दिमाग़ मे रिभिजन होगा और आपने जो पढ़ा है वो ज़रूर याद होगा।

आप पढ़ते वक्त जो भी पढ़ रहे है उसे लिखते भी जाए. इससे आपको जो पढ़े वो अच्छी तरीका से याद होगा साथ मे एग्ज़ॅम के टाइम लिखने मे प्राब्लम नही होगा। ये एक बेहतरीन तरीका है अपने पढ़ाई के क्वालिटी को इंप्रूव करने का।

पढ़ाई का तरीका और प्लानिंग : –

बहुत से स्टूडेंट्स का आदत होता है की वो जब एग्ज़ॅम करीब हो जाता है तब पढ़ना स्टार्ट करते है। ये बहुत ही बुरा आदत है इसे पढ़ाई नही कहते हैं। और इसलिए एग्ज़ॅम के टाइम सब भूल जाते है और तनाव रहता हैं। क्यूंकी जल्दबाज़ी मे हर काम खराब ही होता है। जिस तरह से बूंद-बूंद से घड़ा भरता है ठीक उसी तरह रोजाना और लम्बे समय तक थोडा-थोडा पढने से आपकी अच्छी तायारी होगी।

जब आपका सेमेस्टर स्टार्ट हो उसी टाइम आप सोच ले की इस बार मुझे अपने दोस्तो से ज़्यादा मार्क्स लाना है। आपका एक सही डिसीजन आपका रिज़ल्ट बदल सकता हैं। इसलिए पहले दिन से ही पढ़ना स्टार्ट करे और ऐसा नही की एक दिन मे 2-3 चेपटर ख़तम कर दे और अगले चार-पाँच दिन प्रॅक्टीस भी ना करे। ऐसा ग़लती बिल्कुल ना करे। हर रोज थोड़ा-थोड़ा पढ़े और जो पढ़ रहे है उसे अच्छी तरह समझे, और जब भी पढ़ते वक्त बोर होने लगे या आलाश आने लगे तो थोड़ा देर रिलॅक्स कर ले।

जब तैयारी अच्छी होगी तो एग्ज़ॅम के दौरान आप तनाव में नहीं रहेंगे। परीक्षा के वक्त तब आपको नये टॉपिक्स पढने की जरूरत नहीं होगी। यानि सभी विषय और लेसन आपके द्वारा पहले से ही पढ़े हुए होंगे तो इससे रिविजन के लिए भी आपको पर्याप्त समय मिल जायेगा। इसलिए यदि आप एक अच्छे स्टूडेंट है और आपको परीक्षा में सफलता चाहिए ती रेगुलर स्टडी के लिए समय निकाले और धैर्य के साथ पूरे साल पढाई करे। नियमित रूप से पढने के यह मतलब बिलकुल भी नहीं की आप पूरे दिनभर पढाई ही करते रहे। प्रतिदिन पढाई के लिए समय निर्धारित कर ले. उस दौरान सिर्फ पढने में ही मन लगाये।

आपको जो भी पढाई करनी है उसकी पूरी प्लानिंग कर ले. और जब किसी चीज़ का प्लानिंग करे तो उसे पूरा भी करे ऐसा नही की भूल जाए। और प्लानीग करने का तरीका भी होना चाहिए. ज़्यादा प्लान ना करे। उतना ही प्लान करे जितना आपसे हो पाएगा। पूरा साल भर का प्लान ना करे। एक वीक का प्लान करे और उसे पूरा करे फिर दूसरे वीक का प्लान करे। इसी तरह एक सब्जेक्ट का प्लान करे। इसका फ़ायदा होगा की एग्ज़ॅम के समय आपको रात-रात भर जाग के पढ़ना नही पढ़ेगा, और सारा सिलेबस अपने पढ़ा होगा तो एग्ज़ॅम के टाइम सिर्फ़ रिभिजन करना होगा।

मन शांत करके पढ़े – Mind Set Kare :-

पढ़ाई के दौरान आपकी स्थिति अच्छी होनी चाहिए। मन(Mind) शांत होना चाहिए. क्यूंकी जब भी आप कुछ पढ़ोगे उस वक्त आपका सबसे ज़्यादा मन काम करेगा, आप क्या पढ़ रहे हो उसे समझने के लिए आपका मन शांत होना ज़रूरी हैं। इसलिए आपको मन काबू मे रखना होगा, पढ़ाई के समय मन ना भटकाए. पढ़ाई मे ही कॉन्सेंट्रेट करे। मेडिटेशन से मन काबू मे करे। पढ़ाई करते वक्त हमारा माइंड फ्रेश रहना चाहिए. थका-हारा इंसान कुछ पढ़ नही सकता।

पढ़ाई का सही वक्त :- 

पढ़ाई के लिए रूटीन जब भी बनाए तो सुबह का समय को ज़्यादा महत्व दे. सुबह का वक्त सबसे अच्छा है पढ़ने के लिए। इस समय माइंड पूरा फ्रेश रहता हैं और ग्रॅसपिंग पावर ज़्यादा होती हैं। दिन का 5 घंटा और सुबह का 1 घंटा बराबर हैं।

आप जो भी स्टडी कर रहे हो आपको वो एंजाय करना आना चाहिए. ऐसा नही है की सारे ही आन्सर्स याद हो. बल्कि टेक्स्ट से पढ़ कर हम कुछ नया पता लगाने का सोचते है जो अपने आप मे इंट्रेस्टिंग बन जाता है। इट ईज़ ऑल्वेज़ फन तो एक्सप्लोर। आपको नही पता होता की जब आप लर्निंग प्रोसेस मे होते हो तो आपके रास्ते क्या क्या मुश्किले आती है। सो अपने आइज़ आंड माइंड को ओपन रखो. प्लस अगर आपका सब्जेक्ट आपके लिए नया है तो, उसके साथ फेमिलियर रहने का ट्राइ करे। आपके कुछ कोड वर्ड्स या राइम्स यूज़ कर सकते है ताकि आपको याद किया हुआ याद रहे।

कैसे पढ़े :-

वेन यू आर स्टडीयिंग, एक साथ सब कुछ याद करने का ना सोचे. ऐसा करने से आपके माइंड ब्लॉक हो जाता है ओर साथ ही साथ ब्रायन की प्रोसेस भी स्टॉप हो जाती है। सो आप जब भी आप स्टडी करने के लिए बैठे तो मेथ्स, इंग्लीश, हिस्टरी या सोशियालजी एक साथ ट्राइ ना करे. एक सब्जेक्ट की स्टडी का प्लान करे ताकि वो चीज़े आपको लोंग टाइम तक याद रहे।

ये भी ज़रूर पढ़े  – Also Read More :-

Please Note : – Padhayi Kaise Kare & Study Tips In Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे करे. Padhne Ke Tips & Study Karne Ke Tarike व नयी पोस्ट डाइरेक्ट ईमेल मे पाने के लिए Free Email Subscribe करे, धन्यवाद।

loading...

3 COMMENTS

  1. sir,thank you for your suggestion..padhi hua topics ko yaad krne k kuch tips btiya. mai 12 science ,ka student hu ,exam ko sirhf sir,3mahine h,kaise or kitna padhi karu plz given sure ans

    • चिंता की कोई बात नही हैं इंदल कुमार आप इसे पढ़े >> कैसे बने परीक्षा मे टॉपर – Exam Me Top Karne Ke Liye Kaise Padhe << और यहा बताया हुआ टिप्स के अनुसार चले 3 महीना मे तैयारी हो जाएगा और साथ ही आप जो भी पढ़े उसे कोई एकांत जगह मे चिंतनन-मनन कीजिए उसे याद कीजिए की आपने आज क्या-क्या पढ़ा हैं, इससे भूलने की बीमारी कम हो जाएगी,

LEAVE A REPLY