चिनाब नदी की जानकारी | Chenab River Information in Hindi

Chenab River / चिनाब नदी भारत और पाकिस्‍तान दोनों देशों से होकर बहने वाली नदी है। इस नदी को वैदिक साहित्य में ‘असिक्नी’ नाम से सम्बोधित किया गया है। ऊपरी हिमालय पर टांडी में ‘चन्द्र’ और ‘भाग’ नदियाँ मिलती हैं, जो चिनाब नदी कहलाती हैं।

चिनाब नदी की जानकारी एक नजर में - Chenab River Information & Facts in Hindi

चिनाब नदी की जानकारी एक नजर में – Chenab River Information & Facts in Hindi

  • चंद्रभागा नदी भारत के हिमाचल प्रदेश के लाहुली एवं स्पीति जिला में दो नदियों चंद्र नदी एवं भागा नदी के संगम से बनी है। यह आगे जम्मू व कश्मीर से होते हुए पाकिस्तान में सिंधु नदी से जाकर मिलती है।
  • चिनाब नदी का उदगम स्‍थल लाहुल में बरालाचा दर्रे के विपरीत दिशा में 4900 मीटर की ऊॅचाई से है।
  • लाहुल के बारे में अनेक किवंदंतियां भी हैं। प्राचीन काल से ही यह एक धार्मिक तीर्थ रहा है, जिसका वर्णन हिन्‍दू तथा बौद्ध धर्म में किया गया है।
  • भारत में इस नदी की  लंबाई 1180 किमी है।
  • इस नदी की सहायक नदीयॉ रावी, चन्‍द्रा, भामा हैं।
  • इस नदी पर बने बॉध सलाल बॉध और दुलहस्‍ती बॉध हैं।
  • भारत में चिनाब नदी पर 11 सौ करोड़ रुपए की लागत से रेल पुल बनाया गया है जो दुनिया के सबसे ऊँचे पुलों में एक है इस पुल की ऊंचाई कुतुबमीनार से करीब पांच गुना अधिक है यह पुल एफिल टावर से भी ऊँचा है।
  • पुराणों के अनुसार इस नदी का नाम पहले अस्किनी था। यहां ये भी उल्लेख है कि भारत में सूर्य पूजा का प्रचार करने वाले कृष्ण के पुत्र साम्ब को पहली बार सूर्य प्रतिमा यहीं चंद्रभागा नदी में ही मिली थी।
  • लाहुली जनश्रुति और कई महान ऋषि-मुनियों ने इस धार्मिक स्थल को हरिद्वार से अधिक पवित्र बताया है। मान्‍यता है कि इस संगम में 108 सोने की सीढ़ियां हैं तो सीधा स्‍वर्ग के लिए जाती हैं।
  • लोक मान्यता है कि चन्द्रमा की बेटी का नाम था चंद्रा और भगवान सूर्य के पुत्र का नाम था भागा। चंद्रा और भागा आपस में बेहद प्यार करते थे लेकिन किसी कारणवश ये दोनों बिछड़ गए और आपस में मिले भी तो दो नदियों के रूप में।

और अधिक लेख –

Please Note :- Chenab River In Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे करे, धन्यवाद।

Leave a Comment

Your email address will not be published.