शिमला के प्रमुख दर्शनीय स्थल की जानकारी व इतिहास | Shimla Tourist Place

Shimla Tourist Place in Hindi/ पहाड़ों की रानी के नाम मशहूर शिमला, हिमाचल प्रदेश की राजधानी है और शिमला ज़िले का प्रशासनिक मुख्यालय भी है। शिमला, एक ख़ूबसूरत हिल स्टेशन है। समुद्र की सतह से 2202 मीटर की ऊँचाई पर स्थित इस जगह को ‘समर रिफ्यूज’ और ‘हिल स्टेशनों की रानी’ के रूप में भी जाना जाता है। यहाँ बर्फीले पहाड़ भी है, तो सुंदर हरियाली भी है। भारत में नए शादीशुदा जोड़ो का हनीमून मनाने के लिए ये पहली पसंद हुआ करता है। शिमला भारत के साथ-साथ पूरी दूनिया में अपने अनुपम सौंदर्य के कारण सैलानियों का प्रिय दर्शनीय स्थल रहा है।

शिमला के प्रमुख दर्शनीय स्थल की जानकारी व इतिहास | Shimla Tourist Place

शिमला का संक्षिप्त परिचय – Shimla, Himachal Pradesh in Hindi 

Contents

नाम शिमला (Shimla)
राज्य हिमाचल प्रदेश
ज़िला शिमला
जनसंख्या 163,000 (2001 तक)
क्षेत्रफल 25 कि.मी²
भौगोलिक स्थिति उत्तर-31° 6′ 12″, पूर्व-77° 10′ 20″
प्रसिद्धि के कारण एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल, शिमला को अक्सर पहाड़ों की रानी के रूप में जाना जाता है।
कब जाएँ मई से अक्टूबर
एस.टी.डी. कोड 0177
कहाँ ठहरें होटल, अतिथि-ग्रह, धर्मशाला

शिमला की जानकारी – Shimla Information in Hindi

शिमला, रोमांचक खेलों जैसे स्कीइंग, ट्रेकिंग, फिशिंग और गोल्फ के लिए एक सुविधाजनक बेस का काम भी करता है। वर्तमान का शिमला जिला 1972 में निर्मित किया गया था। इस जगह का यह नाम ‘माँ काली’ के दूसरे नाम ‘श्यामला’ से व्युत्पन्न है। जाखू, प्रॉस्पैक्ट, ऑव्सर्वेटरी, एलीसियम और समर इस जगह की महत्वपूर्ण पहाड़ियाँ हैं। यहाँ की जलवायु में ऐसा नशा व जादू है कि जो एक बार यहाँ आता है, इस जगह का दीवाना हो जाता है। वो यहाँ बार बार आना चाहता है।

मन को सुकून देने वाली हरियाली से घिरे शिमला को सात पहाड़ियों का शहर भी कहा जाता है। समय के साथ शिमला आने वालों की संख्या बढ़ी है तो यहां भीड़ ज्यादा रहने लगी है लेकिन अब भी किसी हिल स्टेशन के मुकाबले शिमला का आकर्षण कम नहीं हुआ है। शिमला आने वाले सैलानियों के लिए यहां घूमने-फिरने के अलावा भी बहुत कुछ है।

देश की आज़ादी के एक वर्ष बाद तक यह ग्रीष्मकालीन राजधानी के रूप में अपनी महत्ता सिद्ध करता रहा। यद्यपि ब्रिटिश साम्राज्य समाप्त हो चुका है पर इसकी छाप अभी भी शिमला में दिखाई पड़ती है। भारत में ब्रिटिशों की ग्रीष्मकालीन राजधानी रहा यह शहर पहले से ही आकर्षण का केंद्र रहा है। अब हिमाचल प्रदेश राज्य की राजधानी के रूप में शिमला में सभी सुविधाएँ मौजूद हैं।

शिमला समुद्र तल से 6890 फीट ऊंचा, देश का सर्वाधिक ख़ूबसूरत हिल स्टेशन है, जो कि 12 किलोमीटर लम्बाई में फैला हैं। शिमला चंडीगढ़ से 114 किलोमीटर उत्तर में लगभग 2,200 मीटर की ऊँचाई पर लघु हिमालय की एक पर्वत चोटी पर स्थित है। शिमला लगभग 7267 फीट की ऊँचाई पर स्थित है और यह अर्ध चक्र आकार में बसा हुआ है। जहां पूरे वर्ष ठण्‍डी हवाएँ बहने का वरदान है।

शिमला का इतिहास – Shimla History in Hindi

शिमला की खोज अंग्रेजों ने सन् 1819 में की थी। शिमला की ख़ूबसूरती अंग्रेजों के शासन काल में भी प्रसिद्ध थी। इसकी खूबसूरती उन्हें भी आकर्षित करती थी, इसलिए उस समय उन्होंने इसे ग्रीष्मकाल की राजधानी घोषित कर दिया था। चार्ल्स कैनेडी ने यहाँ पहला ग्रीष्‍मकालीन घर बनाया था। जल्दी ही शिमला लॉर्ड विलियम बेन्टिन्क की नज़रों में आ गया, जो कि 1828 से 1835 तक भारत के गवर्नर जनरल थे।

19 वीं सदी के अतं में यहाँ ब्रिटिश वाइसरॉय के आवास (राष्ट्रपति निवास) का निर्माण हुआ था। अंग्रेज वहां जाकर रहा करते थे, इसका प्रमाण आज भी मिलता है, वहां बड़े बड़े भवनों का निर्माण अंग्रेजों द्वारा किया था, जो आज पर्यटन का मुख्य हिस्सा है। शिमला शहर को 1972 में पुनः नवनिर्मित किया गया और इसे जिला बनाया गया। स्वतन्त्रता के बाद यह जगह कुछ समय तक पंजाब की राजधानी भी रही। बाद में शिमला को हिमाचल प्रदेश की राजधानी बना दिया गया।

शिमला की संस्कृति – Shimla Culture in Hindi

यहाँ विभिन्न त्यौहारों को मनाया जाता है। शिमला समर फेस्टिवल, पीक पर्यटन सीजन के दौरान हर साल रिज पर आयोजित किया जाता है। इसका मुख्य आकर्षण सभी देश भर से लोकप्रिय गायकों द्वारा प्रदर्शन शामिल है। दोरजे ड्रैक मठ विहार, निंगमा परंपरा से संबंधित है जो तिब्बती बौद्ध संस्कृति को प्रदर्शित करता है। वहीं दूसरी ओर माँ काली देवी को समर्पित, काली बाड़ी मंदिर है जहाँ पूरे साल भक्तों का तांता लगा रहता है। दीवाली, नवरात्री और दुर्गा पूजा जैसे हिंदू त्योहार इस मंदिर में पूरी धूमधाम और हर्षोल्लास के साथ मनाए जाते हैं।

शिमला का मौसम – Shimla in Hindi

शिमला में साल भर एक सुखद जलवायु का आनंद मिलता है जो इसे पूरे साल पर्यटन के लायक बनाता है। हालाँकि गर्मियों में ये ज्यादा सुखद होता है, देश के विभिन्न स्थान में भीषण गर्मी पड़ती है, ऐसे में ये छुट्टी मनाने के लिए सबसे अच्छा है।

शिमला के प्रसिद्ध पर्यटक स्थल – Shimla Tourist Place List in Hindi

1). रिज – Ridge

शिमला शहर के हृदय में स्थित यह रिज पहाड़ी श्रंखला का मनोहारी दृश्य प्रस्तुत करती है। यह एक बड़ी खुली जगह है, जो पश्चिम में स्कैंडल प्वाइंट से जुड़ी हुई है पूर्व की ओर लक्कर बाज़ार है, जहाँ पर्यटक हस्तकला से सज्जित विभिन्न प्रकार के लकड़ी की वस्तुएँ खरीद सकते हैं। यहाँ पानी का एक बड़ा जलाशय है जो शहर में पानी की आपूर्ति करता है। मई के महीने में यहाँ ग्रीष्मकालीन उत्सव मनाया जाता है। इसके अलावा सरकार द्वारा आयोजित विभिन्न कार्यक्रम एवं नव-वर्ष की पूर्व संध्या पर स्थानीय समारोहों का भी इस रिज पर आयोजन किया जाता है। इस जगह पर खूबसूरत परिवेश में लम्बी पैदल यात्रा का आनंद उठाया जा सकता है। खूबसूरत चर्च, वाचनालय और कई सारे स्टैचू इस प्रसिद्ध जगह की खूबसूरती में चार चाँद लगाते हैं।

2). समर हिल – Summer Hill

समर हिल, शिमला-रेलवे लाइन पर, समुद्र तल से 1283 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है। यह एक छोटा सा टाउन है, जो शिमला के मशहूर रिज से 5 किलोमीटर दूर है। आगंतुक इस खूबसूरत जगह के शांत वातावरण में एक प्रकृति वॉक ले सकते हैं। ‘मैनोर्विल हवेली’ और ‘हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय’ इस पहाड़ी पर स्थित हैं। पाइन और देवदार के पेड़ों से भरी हुई यह जगह, प्रकृति प्रेमियों को लुभावने परिदृश्यों का आनंद देती है।

3). जाखू हिल – Jakhu Hill

यह स्थान शिमला से 2 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह शिमला की सबसे ऊँची चोटी है (8000 फीट) जिसके कारण यहाँ से शक्तिशाली हिमालय और उसके आसपास का शानदार दृश्य दिखाई पड़ता है। यह जगह प्रकति के चाहने वालों के लिए ये किसी जन्नत से कम नहीं हैं। प्रसिद्ध जाखू मंदिर भी पहाड़ी पर स्थित है। ‘जाखू’ शब्द की उत्पत्ति पौराणिक कथाओं के एक चरित्र ‘यक्ष’ से हुई है जो देवताओं के ख़जाने की रक्षा करता है।

4). इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ एडवांस्ड स्टडीज – Indian Institute of Advanced Study

इस एतेहासिक धरोहर को ब्रिटिश कालीन सरकार द्वारा 1880 में बनाया गया था। इसे भारत के राष्ट्रपति के गर्मी के मौसम में रुकने के लिए बनाया गया था। डॉ राधाकृष्णनन के द्वारा इसे 1965 में इंस्टिट्यूट में तब्दील कर दिया गया। इस विशाल ईमारत की दीवारें फायर प्रूफ है।

5). हिमाचल राज्य संग्रहालय और पुस्तकालय – Himachal State Museum Library

हिमाचल राज्य संग्रहालय और पुस्तकालय, स्कैंडल प्वाइंट से लगभग 3 किमी की दूरी पर स्थित है, इसे शिमला राज्य संग्रहालय के रूप में भी जाना जाता है। यह संग्रहालय सन् 1947 में स्थापित किया गया था, और इसमें पहाड़ी लघु चित्रों, मुगल, राजस्थानी और समकालीन पेंटिंग का एक खूबसूरत प्रदर्शन है। विभिन्न कांस्य कलाकृतियाँ, तस्वीरें, टिकट संग्रह, और मानवविज्ञान से सम्बंधित वस्तुएँ भी संग्रहालय में संरक्षित की गई हैं। कुछ तो इसमें से 100 साल से भी अधिक पुरानी है।

6). अन्नान्दाले – Annandale

अन्नान्दाले, हरे भरे देवदार के वनों से सजा एक सुंदर पिकनिक स्पॉट है। यह रिज ने 4 किलोमीटर दूर है। ब्रिटिश राज में ये विभिन्न खेल खेलने की मुख्य जगह हुआ करती थी, पोलो, रेसिंग, क्रिकेट मुख्य रूप से खेला जाता था। आज के समय में इस रेसकोर्स को मिनी गोल्फ कोर्स में बदल दिया गया है, जो गोल्फ चाहने वालों की पहली पसंद हुआ करती है। शिमला में ये बड़े वीआईपी नेता अभिनेता की पहली पसंद है। इसे हेलीपैड के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है।

7). शैली पीक, नालदेहरा – Shaily Peak

नालदेहरा समुद्र तल से 2044 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। शैली पीक नालदेहरा से 23 किमी दूर महाकाली झील के निकट स्थित है। आगंतुकों को इस खड़ी चोटी तक पहुँचने के लिये ट्रैकिंग करनी पड़ती है, जो घने जंगलों से घिरा हुआ है। ट्रैकिंग के अलावा, लोगों टट्टू पर भी पहाड़ी की चोटी तक पहुँच सकते हैं।

8). चाडविक फॉल – Chadwick Falls

यह शिमला से 7 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है, यहाँ पानी 1586 मीटर उचांई से गिरता है। यह समर हिल के पास ही स्थित है। झरने के चारों ओर घने हरे वृक्ष है, जो इसकी सुन्दरता और बढ़ाते है। इस झरने के द्वारा ही शिमला में पानी की सप्लाई होती है। मानसून के समय यहाँ पानी का स्तर बढ़ जाता है, जिससे ये और भी अधिक आकर्षक लगता है।

9). दरान घाटी अभयारण्य – Daranghati Sanctuary

168 किलोमीटर के क्षेत्र में फैला दरान घाटी अभयारण्य शिमला से 150 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह शिमला का उपरी क्षेत्र है. यहाँ पहले बड़े राजा महाराजा शिकार करने आया करते थे। इस क्षेत्र को फोरेस्ट एरिया के रूप में 1962 में अधिसूचित किया गया था। अभी यह जगह पर्यटको को आकर्षण केंद्र बना हैं।

10). क्राइस्ट चर्च – Christ Church

शिमला में स्थित यह क्राइस्ट चर्च भारत के उत्तरी भाग में दूसरी सबसे पुरानी चर्च मानी जाती है। इसका निर्माण 1846 से 1857 के बीच की अवधि के दौरान किया गया था। रिज से देखने पर चर्च की खिड़कियाँ रंगीन ग्लासों और ब्रास के सुन्दर टुकड़ों से सजी हुई दिखाई पड़ती हैं। क्राइस्ट चर्च भारत में ब्रिटिश सरकार के लम्बे तक शासन करने का प्रतीक है।

11). कुफरी – Kufri

शिमला से 19 किलोमीटर दुरी पर स्थित कुफरी समुद्र तल से 2622 मीटर ऊंचाई पर है। इस जगह का नाम ‘कुफ्र’ शब्द से पड़ा है, जिसका स्थानीय भाषा में मतलब है ‘झील’। इस जगह के साथ जुड़े आकर्षण के कारण यहाँ वर्ष भर पर्यटक आते हैं। महासू पीक, ग्रेट हिमालयन नेचर पार्क, और फागू कुफरी में कुछ प्रमुख पर्यटन स्थलों में से हैं।

12). चैल – Chail

यहाँ दुनिया की सबसे अधिक ऊंचाई पर स्थित क्रिकेट पीच है, जिसके चारों ओर एक तरह के समान पेड़ लगे हुए है, जो वातावरण को अनूठा बना देते है। यह फेमस वास्तुशास्त्र चैल पैलेस का घर हुआ करता था। यहाँ से पुरे शहर की सुन्दरता को देखा जा सकता है।

13). तारा देवी मंदिर – Tara Devi Temple

तारा देवी मंदिर, शिमला-कालका रोड पर समुद्र तट से 6070 फीट की ऊँचाई पर स्थित है। यह स्थान बुलंद ओक् और रोडोडेंड्रॉन से घिरा हुआ एक आदर्श पिकनिक स्पॉट है। पर्यटक इस मंदिर से आसपास के मनोरम दृश्यों का भी आनंद ले सकते हैं।

14). आइस स्केटिंग – Ice Skating

आइस स्केटिंग, शिमला के प्रसिद्ध खेलों में से एक है। यह खूबसूरत स्थान देश का सबसे बड़ा आइस स्केटिंग रिंक है। दिसम्बर से फरवरी के महीनों के दौरान स्केटिंग सबसे अच्छी तरह से की जा सकती है जब जमीन प्राकृतिक बर्फ के ढँक जाती है। ‘शिमला आइस स्केटिंग क्लब’ अपने 75 साल पूरे कर चुका है।

15). टाउन हॉल – Town Hall

टाउन हॉल शिमला शहर की एक प्रसिद्ध विरासत इमारत है जिसका निर्माण सन् 1910 किया गया था, वर्तमान में इसका जीर्णोद्धार किया जा रहा है और यह शहर के नगरपालिका भवन के रूप में सेवारत है। यह इमारत जो मॉल रोड पर स्थित है औपनिवेशिक वास्तुकला की गौरवमयी शैली का प्रतिनिधित्व करती है।

16). मॉल – Mall

मॉल, शिमला में स्थित एक लोकप्रिय शॉपिंग क्षेत्र है। यह ओबेरॉय क्लार्क होटल से स्कैंडल पॉइंट तक फैला हुआ है। मॉल के अन्दर कई रेस्तरां, बैंक, क्लब और पर्यटन केंद्र हैं। ऐतिहासिक दुकानें, कैफे और रेस्तरां इस क्षेत्र के प्रमुख आकर्षण हैं। सही तरीके से देखा जाए तो इस क्षेत्र को शिमला के सामाजिक जीवन का केंद्र कहा जा सकता है। यहाँ के रेस्तरां उचित मूल्य पर स्वादिष्ट खाद्य-पदार्थों की बड़ी रेंज परोसते है।

कैसे जाएँ – Shimla Tour & Travels Guide in Hindi 

शिमला मुख्य परिवहन माध्यम वायु, रेल और सड़क द्वारा अच्छी तरह जुड़ा हुआ है।

हवाई मार्ग – जुबर्हाती एयर पोर्ट इस स्थान के लिए निकटतम एयर बेस है। इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से इस एयरबेस के लिए अनेक उड़ानें हैं।

रेल मार्ग – शिमला के पास कालका में बड़ा स्टेशन है, जो सभी बड़े स्टेशनों को जोड़ता है। कालका से शिमला छोटी लाइन पर ट्रेन चलती है। ये बच्चों वाली ट्रेन कहलाती है, जो पर्यटकों को बेहद आकर्षित करता है।

सड़क मार्ग – दिल्ली से शिमला 350 किलोमीटर दूर है व चंड़ीगढ़ से 118 किलोमीटर. प्राइवेट व सरकारी बसें, और टैक्सी इस रुट में आसानी से मिल जाती है। इसके अलावा बड़े पड़ोसी शहरों से शिमला के लिए बसें भी उपलब्ध हैं।


और अधिक लेख –

Please Note : – Shimla Tourism In Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे करे.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *