26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर भाषण | 26 January Speech in Hindi

1

Republic Day Speech in Hindi / गणतंत्र दिवस के अवसर पर अच्छीज्ञान की तरफ यहां संक्षिप भाषण प्रस्तुत किया जा रहा हैं, जिसे टीचर, स्टूडेंट, नेता अपने भाषण के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।

(26 जनवरी) गणतंत्र दिवस पर भाषण | Republic Day Speech in Hindi 2019

गणतंत्र दिवस पर भाषण – 26 January Speech in Hindi 

आदरणीय मुख्य अतिथि महोदय, शिक्षक-शिक्षिका एवं सभी विद्यार्थियों को मेरा नमस्कार। आज हम सब यहाँ गणतंत्र दिवस मनाने के लिए एकत्रित हुए हैं। इस शुभ अवसर मैं एक भाषण प्रस्तुत करता हूं।

हमारे संविधान ने भारत के हर नागरिक को समान अधिकार देकर बड़े-छोटे, अमीर-गरीब, गोरे-काले, जाति-धर्म, लिंग का भेदभाव समाप्त किया। सन् 1930 से भारत के क्रांतिकारी भारत को एक संविधान वाला देश बनाना चाहते थे। आजादी के बाद एक ड्राफ्टिंग कमेटी को 28 अगस्त 1947 की मीटिंग में भारत के स्थायी संविधान का प्रारुप तैयार करने को कहा गया।

4 नवंबर 1947 को डॉ बी.आर.अंबेडकर की अध्यक्षता में भारतीय संविधान के प्रारुप को सदन में रखा गया। इसे पूरी तरह तैयार होने में लगभग तीन साल का समय लगा और आखिरकार इंतजार की घड़ी 26 जनवरी 1950 को इसको लागू होने के साथ ही खत्म हुई। साथ ही पूर्णं स्वराज की प्रतिज्ञा का भी सम्मान हुआ।

26 जनवरी 1950 को, हमारा देश भारत संप्रभु, धर्मनिरपेक्ष, समाजवादी, और लोकतांत्रिक, गणराज्य के रुप में घोषित हुआ अर्थात भारत अब स्वतंत्र था उस पर कोई बाहरी शक्ति शासन नहीं करेगी। इस घोषणा के साथ ही दिल्ली के राजपथ पर भारत के पहले राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद द्वारा झंडा फहराया गया साथ ही परेड तथा राष्ट्रगान से पूरे भारत में जश्न का माहौल शुरु हो गया।

आज गणतंत्र दिवस एक राष्ट्रीय त्योहार है, जो बड़े धूम-धाम के साथ मनाया जाता है। इस दिन सभी जगहों पर तिरंगा फहराया जाता है, साथ ही प्रधानमंत्री दिल्ली के लाल किले पर तिरंगा फहराते है। गणतंत्र का अर्थ है देश में रहने वाले लोगों की सर्वोच्च शक्ति और सही दिशा में देश के नेतृत्व के लिये राजनीतिक नेता के रुप में अपने प्रतिनीधि चुनने के लिये केवल जनता के पास अधिकार है। इसलिये, भारत एक गणतंत्र देश है जहाँ जनता अपना नेता प्रधानमंत्री के रुप में चुनती है।

दोस्तों हमें जो आजादी मिली हैं इसे पाने में कई क्रांतिकारियों ने अपने प्राणो की आहुति दी। एक समय था जब भारत अंग्रेजो की गुलामी में जकड़ा हुआ था। लेकिन आज भारत के आजाद देश हैं। इसलिए हमारा दायित्व हैं की हम स्वंतंत्रता को बर्बाद न करे। भारत के विकास में अपना सहयोग दे और एक विकसित देश बनाये।

धन्यवाद, जय हिन्द, जय भारत

———————–

गणतंत्र दिवस भाषण स्टूडेंट के लिए – Republic Day Speech for Student in Hindi

अगर आप एक स्टूडेंट हैं और गणतंत्र दिवस भाषण प्रस्तुत करने जा रहे हैं तो मंच पर पहुँच कर सबसे पहले तो सभा में उपस्थित सभी लोगों का अभिवादन करें, अपना परिचय दें, अपना नाम तथा आप कौन-सी कक्षा में पढ़ते हैं, यह बताएं। अपने स्वयं के स्कूल के अलावा यदि किसी अन्य आयोजन में बोल रहे हैं तो अपने विद्यालय या कॉलेज का नाम भी बताएं।

आज हम साल 2020 में हमारे देश भारत का 71वा गणतंत्र दिवस मनाने जा रहे हैं। भारत के लिए गणतंत्र दिवस केवल एक पर्व नहीं, बल्कि गौरव और सम्मान है। यह प्रतिवर्ष 26 जनवरी को मनाया जाता है। इसी दिन सन् 1950 में हमारे देश का संविधान प्रभाव में आया।

‘गणतंत्र’ का अर्थ है- देश में रहने वाले लोगों की सर्वोच्च शक्ति और सही दिशा में देश के नेतृत्व के लिए राजनीतिक नेता के रूप में अपने प्रतिनिधि को चुनने के लिए केवल जनता के पास अधिकार है। इसलिए भारत एक गणतंत्र देश है, जहां आम जनता अपना नेता, प्रधानमंत्री के रूप में चुनती है।

हमारा देश कई वर्षों तक ब्रिटिश सरकार के अधीन था। उस समय अंग्रेजी हुकूमत ने भारतीय लोगों को ज़बरदस्ती अपने कानून का पालन करने को कहा और ना मानाने वालों के साथ अत्याचार भी किया। कई वर्षों के संघर्ष के बाद भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों की कड़ी मेहनत और जीवन न्योछावर करने के बाद भारत को 15 अगस्त 1947 को आज़ादी मिली।

एक स्वतंत्र गणराज्य बनने और देश में कानून का राज स्थापित करने के लिए संविधान को 26 नवम्बर 1949 को भारतीय संविधान सभा द्वारा अपनाया गया और 26 जनवरी 1950 को इसे एक लोकतांत्रिक सरकार प्रणाली के साथ लागू किया गया था। भारत का संविधान एक लिखित संविधान है। हमारे संविधान को बनने में 2 साल 11 महीने और 18 दिन का समय लगा था। 395 अनुच्छेदों और 8 अनुसूचियों के साथ भारतीय संविधान दुनिया में सबसे बड़ा लिखित संविधान है।

लोग गणतंत्र दिवस का बड़ी बेसब्री से इंतज़ार करते हैं और कई दिन पहले से ही इसकी तैयारी करने में जुट जाते हैं। गणतंत्र दिवस के मौके पर राजपथ पर तिरंगा फहराया जाता है। फिर राष्ट्रगान गाया जाता है और 21 तोपों की सलामी होती है। देश के सभी राज्यों क़ी सभी सरकारी, अर्द्ध-सरकारी, निगम एवं प्रशासनिक कार्यालयों में झंडारोहण का कार्यक्रम होता है। स्कूल एवं कालेजों में विभिन्न कार्यक्रम, खेल-कूद एवं प्रतियोगिताओं का आयोजन भी होता है तथा विजेताओं को सम्मानित किया जाता है।

गणतंत्र दिवस के मौके पर अशोक चक्र और कीर्ति चक्र जैसे महत्वपूर्ण सम्मान दिए जाते हैं। इस दिन हम सभी देशवासियो को ये वादा करना चाहिये कि वो अपने देश के संविधान की सुरक्षा करेंगे, देश की समरसता और शांति को बनाए रखेंगे साथ ही देश के विकास में सहयोग करेंगे।

धन्यवाद, जय हिन्द…!

और अधिक लेख –

Please Note : – I hope these “26 January (Republic Day) Speech in Hindi” will like you. If you like these “26 January Par Bhashan Hindi me” then please like our Facebook page & share on Whatsapp.

1 COMMENT

  1. 26 January par aapne wakai ek bahut hi achhi post share ki hai..hamari taraf se bhi AGC ke sabhi readers ko gantantra diwas ki hardik subhkaamnayen.. Thanks.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here