घुटनो में दर्द का कारण और घरेलु उपचार Ghutno ka Dard ka Ilaj in Hindi

मानव शरीर में पैर जितने ही महत्त्वपूर्ण हैं, उतने ही उनके बीच में बने घुटने। उन्हीं से पैरों को मुड़ने की क्षमता मिलती है। इन्हिं घुटनों में कई कारणों से दर्द होने लग जाता है। यह समस्या बढ़ती उम्र के साथ और बढ़ जाती है। यह रोग पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं में ज्यादा पाया जाता है। इसका कारण है महिलाओं में माहवारी बन्द होने पश्चात् स्त्री हारमोन ‘इस्ट्रोजन’ का स्राव काफी कम हो जाता है, जिससे शरीर का वजन बढ़ने व आस्टियोपोरोसिस व कार्टिलेज क्षरण की प्रक्रिया तेज हो जाती है। हालाँकि इसके और भी कारण हो सकते हैं। आइये जाने घुटनो का दर्द से निजात पाने का घरेलु तरीका..(Knee Pain Treatment in Hindi)

घुटनो का दर्द का कारण और घरेलु उपचार Ghutno ka Dard ka Ilaj in Hindi, Knee Pain

घुटनो पर दर्द होने का कारण – Ghutno me Dard ka Karan

  • बरसाइटिस– घुटने पर बार-बार दबाव से सूजन (जैसे लंबे समय के लिए घुटने के बल बैठना, घुटने का अधिक उपयोग करना अथवा घुटने में चोट)
  • लुब्रिकेंट की कमी – शरीर के जोड़ो में दर्द का कारण हैं शरीर से लुब्रिकेंट की कमी हो जाती हैं एक ऐसा तरल पदार्थ जिसके कारण जोड़ो को मूव करने में आसानी होती हैं अगर इसकी कमी हो जाती हैं तो घुटनों में दर्द रहता हैं।
  • टेन्टीनाइटिस- आपके घुटने में सामने की ओर दर्द जो सीढ़ियों अथवा चढ़ाव पर चढ़ते और उतरते समय बढ़ जाता है। यह धावकों, स्कॉयर और साइकिल चलाने वालों को होता है।
  • बेकर्स सिस्ट- घुटने के पीछे पानी से भरा सूजन जिसके साथ अर्थराइटिस जैसे अन्य कारणों से सूजन भी हो सकती है। यदि सिस्ट फट जाती है तो आपके घुटने के पीछे का दर्द नीचे आपकी पिंडली तक जा सकता है।
  • घिसा हुआ कारटिलेज घुटने के जोड़ के अंदर की ओर अथवा बाहर की ओर दर्द पैदा कर सकता है।
  • झटका लगना अथवा मोच- अचानक अथवा अप्राकृतिक ढंग से मुड़ जाने के कारण लिगामेंट में मामूली चोट।
  • जोड़ में संक्रमण (इंफेक्शन)।
  • घुटने की चोट- आपके घुटने में रक्त स्राव हो सकता है जिससे दर्द अधिक होता है |
  • श्रोणि विकार (Pelvic Disorder)– यह दर्द उत्पन्न कर सकता है जो घुटने में महसूस होता है। उदाहरण के लिए इलियोटिबियल बैंड सिंड्रोम एक ऐसी चोट है जो आपके श्रोणि से आपके घुटने के बाहर तक जाती है।
  • मोटापा, जिसके कारण घुटनों पर अधिक बोझ पड़ता है, जिससे घुटने का कार्टिलेज घिस जाता है। हड्डी के सिरों पर पड़ने वाला अधिक दबाव इस दर्द को और अधिक बढ़ा देता है।

घुटनों में दर्द के लिए घरेलु इलाज – Ghutno ka Ayurvedic Dard ka Ilaj in Hindi

नित्य दिन में तीन बार कम से कम 50 ग्राम नारियल की गिरी खाएं। इससे घुटनों का दर्द जल्दी ही ठीक हो जाता है।

5-6 अखरोट की मींगी जलपान से पहले खाने पर भी घुटने के दर्द में आराम मिलता है।

आसान तरीका हैं की कपड़े को गर्म पानी में भिगोकर बनाए पैड से सिंकाई करने से घुटने के दर्द में आराम मिलता है।

एक से डेढ़ कप तेल में दो बड़े चम्मच लाल मिर्च पाउडर डालकर एक पेस्ट तैयार करें। कम से कम एक सप्ताह तक हर दिन दो बार यह पेस्ट घुटनों पर लगाएं। घुटनों के दर्द से राहत मिलेगी।

मैथीदाने का बारीक चूर्ण बनाकर 3 चम्मच शुद्ध जल के साथ लेने से घुटनों के दर्द में लाभ होता है। इससे एड़ी का दर्द भी खत्म हो जाता है।

एक कप सेब के सिरके में एक चौथाई या आधा चम्मच लाल मिर्च पाउडर डालकर मित्रण तैयार करें। इस मित्रण को घुटनों पर लगाने से दर्द और सूजन कम हो जाती है। जब तक घुटनों दर्द से राहत न हो तब तक हर दिन इस पेस्ट को 20 मिनट के लिए घुटनों पर लगा सकते हैं।

एक कप पानी में थोड़ा सा अदरक का टुकड़ा लेकर 10 मिनट उबाल लें। इसके बाद इसको ठंडा करके इसमें थोड़ा सा नींबू का रस और शहद मिलाएं। इस घोल को रोज पीएं। आप चाहें तो अदरक के तेल से घुटनों की मालिश भी कर सकते हैं।

एक कप पानी में अदरक और हल्दी को थोड़ा थोड़ा मिलाकर 10 मिनट के लिए इसे उबाल लें। इसके बाद इसको गुनगुना होने के बाद शहद मिलाएं। दिन में दो बार इसे पीएं।

एक गिलास दूध में हल्दी डालकर उबालें और उसमें शहद मिलाकर पीएं। इससे भी घुटनों का दर्द ठीक होता है।

हल्दी चूर्ण, गुड़, मेथी दाना पाउडर और पानी सामान मात्रा में मिलाएं। थोड़ा गर्म करके इनका लेप रात को घुटनों पर लगाएं और पट्टी बांधकर लेटें। जल्दी आराम मिलेगा।

यदि आपके घुटनों में दर्द है, तो रात को 100 ग्राम खजूर एक गिलास पानी में भिगोकर रखें और सुबह खाली पेट इसे चबाकर खाएं। इससे घुटनों के दर्द में आराम मिलता है।

एक नींबू छोटे-छोटे टुकड़ों में काटें। इन टुकड़ों को सूती कपड़े में डालकर गर्म तिल के तेल में डुबाएं। इसके बाद पांच से 10 मिनट के लिए प्रभावित घुटने पर कपड़ा रखें। एक दिन में दो बार ऐसा करने से दर्द पूरी तरह चला जाता है।

यदि आप घुटनों के दर्द से परेशान हैं तो रोजाना नारियल की गिरी का सेवन कीजिए। यह घुटनों के लिए बहुत ही लाभकारी है।

एक पतली तौलिया में बर्फ के टुकड़े लपेट लें। 10 से 20 मिनट के लिए दर्द प्रभावित घुटने के हिस्से को सेकें। आपका दर्द धीरे धीरे दूर हो जाएगा। इस उपाय को रोजाना दो या तीन बार कर सकते हैं।

घुटनों के दर्द का एक बहुत बड़ा कारण शरीर में कैल्शियम की कमी है। इसलिए दूध और दूध से बनी चीजों का ज्यादा सेवन कीजिए। इससे हड्डियां मजबूत रहती हैं और जोड़ों के दर्द से राहत मिलती है।

अपने आहार में आप सोयाबीन, गोभी, हरी पत्तेदार सब्जियों के साथ खीरे, ककड़ी, गाजर, और मेथी को अवश्य शामिल करें। इससे आपको घुटनों के दर्द में राहत मिलेगी।

इन बातों का ख्याल रखे  – Ghutno ka Dard  ka Ilaj 

  • आराम करें और ऐसे कार्यों से बचे जो दर्द बढ़ा देते हैं, विशेष रूप से वजन उठाने वाले कार्य
  • बर्फ लगाएं। पहले इसे प्रत्येक घंटे 15 मिनट लगाएं। पहले दिन के बाद प्रतिदिन कम से कम 4 बार लगाएं।
  • किसी भी प्रकार की सूजन को कम करने के लिए अपने घुटने को यथा संभव ऊपर उठा कर रखें।
  • कोई ऐसा बैंडेज अथवा एलास्टिक स्लीव पहनकर घुटने को धीरे धीरे दबाएं। ये दोनों वस्तुएं लगभग सभी दवाइयों की दुकानों पर मिलती है। यह सूजन को कम कर सकता है और सहारा भी देता है।
  • घुटनों के नीचे अथवा बीच में एक तकिया रखकर सोएं।
  • घुटनो के दर्द से छुटकारा पाने के लिए नियमित रूप से व्यायाम करे।

घुटनों के दर्द में घरेलू उपाय के साथ-साथ डॉक्टरी इलाज करवाना न भूलें। कोई भी तरीका अपनाने से पहले डॉक्टर से सलाह लें। किसी भी तरह की कठिन एक्‍सरसाइज से बचें और ज्यादा आराम न करें।


और अधिक लेख –

1 thought on “घुटनो में दर्द का कारण और घरेलु उपचार Ghutno ka Dard ka Ilaj in Hindi”

Leave a Comment

Your email address will not be published.