कमलाह किले का इतिहास, जानकारी | Kamlah Fort History in Hindi

Kamlah Fort / कमलाह किला 17 वीं सदी का एक किला है जो हिमाचल प्रदेश के मंडी के कमलाह गांव में स्थित हैं। यह मंडी के राजा सूरज सेन द्वारा 1625 में बनाया गया था। किले का नाम यहां के लोकल संत कमलाह बाबा के नाम पर रख दिया गया था। यह किला समुद्र स्‍तर से 4772 फीट की ऊंचाई पर स्थित है।

कमलाह किले का इतिहास, जानकारी | Kamlah Fort History in Hindi

कमलाह किला हिमाचल प्रदेश – Kamlah Fort Himachal Pradesh Information & History in Hindi

Kamlah Kila – कमलाह किला मंडी से करीब 80 किलोमीटर दूर कमलाह गाँव की पहाड़ी में स्थित है। यह किला समुद्र तल से 4772 की फीट की ऊँचाई पर स्थित है। यह हमीरपुर जिले के करीब स्थित है तथा यह किला सिकन्दर धार की रेंज के तहत आता है। किले के ऊपरी भाग में कमलाहिया बाबा का मंदिर है।

राजा हरी सेन जिनका शासन काल 1605 ई से शुरू हुआ, ने सुरक्षा की दृष्टि से कमलाह गढ़ किले का निर्माण कार्य शुरू करवाया। परन्तु वह अपने जीवन काल में कार्य पूरा नहीं करवा सके। उनके बाद पुत्र सूर्यसेन ने 1625 ई में अपने पिता के अधूरे काम को पूर्ण किया।

राजा सूर्य सेन तथा ईश्वरी सेन के राज्य काल तक कमलाह गढ़ में सम्पति का भंड़ार रहा। सूर्य सेन के बाद उनके भाई शयम सेन मंडी शासक बनाया गया। शयम सेन के बाद गुर सेन, ईश्वरी सेन, सिद्ध सेन, जोगेन्द्र सेन मंडी के राजा रहे।

इस किले को 1840 में महाराजा रणजीत सिंह के जनरल वेनतुरा ने नष्ट करवा दिया था। दोबारा मंडी के राजा ने 1846 में इस किले का पुनः निर्माण करवाया था। बाद में यह किला स्थानीय संत कमलाह के नाम पर प्रसिद्ध हो गया। पर्यटक इस स्थान पर साहसिक मार्ग के माध्यम से ट्रेकिंग द्वारा पहुँच सकते हैं। हाल ही में की गई खुदाई में कुछ कंकाल भी इस किले में पाए गए थे।

आज यह किला ऐतिहासिक धरोहर के साथ -साथ लोगों की आस्था का केंद्र बन चुका है लेकिन आज यह किला खंडहर बनने की कगार पर खड़ा है। यह किला देश के साथ -साथ हमारी समृद्ध ऐतिहासिक धरोहर का प्रतीक है। कमलाह किले को कमलाह रियासत का सबसे मजबूत और अजेय गढ़ माना जाता था।


और अधिक लेख –

Please Note : – Kamlah Fort History & Story in Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे करे.

1 thought on “कमलाह किले का इतिहास, जानकारी | Kamlah Fort History in Hindi”

Leave a Comment

Your email address will not be published.