पैरों में दर्द के कारण और घरेलु उपचार | Foot Pain Treatment Home Remedies in Hindi

पैरों में दर्द या खिंचाव एक ऐसी स्वास्थ्य समस्या है जो कई कारणों से होती है। इससे चलने-फिरने ज्यादा परेशानी होती हैं। हालाँकि पेरो के दर्द को हलके में नहीं लेना चाहिए इससे बड़ी समस्या उत्पन्न हो सकती हैं। आमतौर पर पैरो में दर्द की ज्यादा संभावना 40 साल के बाद उत्पन्न होती है, लेकिन कुछ कारणों से पहले भी होती हैं। निचे पैरो में दर्द के कारण और उनके घरेलु उपचार जाने.. (Pero Me Dard ka Ilaj in Hindi)  

पैरों में दर्द के कारण और घरेलु उपचार | Foot Pain Treatment Home Remedies in Hindiपैरो में दर्द के कारण – Foot pain Causes in hindi

पैरों में दर्द कई कारणों से हो सकती हैं, जैसे – मांसपेशियों में सिकुड़न, मसल्स की थकान, ज्यादा वॉक करना, एक्सरसाइज, स्ट्रेस, ब्लड क्लॉटिंग की वजह से बनी गांठ, घुटनों, हिप्स व पैरों में सही ब्लड सर्कुलेशन न होना। पानी की कमी, सही डाइट ना लेना, सूजन, खाने में कैल्शियम व पोटेशियम जैसे मिनरल्स और विटामिंस की कमी, अंदर गहरी चोट होना, किसी प्रकार का संक्रमण हो जाना, नाखून का पकना आदि। कई बार शरीर की हड्डियां कमजोर होने से भी पैरों में दर्द की शिकायत हो जाती है। वैसे तो इस दर्द का कारण सामान्य होता है, लेकिन कई इसकी दर्द असहनीय हो जाती है, जिसके चलते रोजमर्रा के काम में दिक्कत होते हैं।

पैरो में दर्द करने के घरेलु आयुर्वेदिक इलाज – Gharelu nuskhe for foot pain in hindi

असगंध और चोपचीनी का चूर्ण एक-एक छोटा चम्मच दूध के साथ दिन में दो बार लेने से पैरों के दर्द में लाभ होता है।

नीम के पत्तो को पानी में उबाले और इस पानी में थोड़ी फिटकरी भी मिक्स कर ले, जितना गर्म सह सको इस पानी में अपने पैरो को 10 से 15 मिनट तक रखे।

सरसों के तेल में लहसुन को भूनकर उससे मालिश करें। पैरों का दर्द अवश्य ठीक हो जाएगा।

पानी पीना बहुत जरूरी है। यह मसल्स की सिकुड़न और पैरों के दर्द को कम करता है। जिम या वॉक पर जाने या किसी भी तरह की फिजिकल एक्सरसाइज करने से पहले सही मात्रा में पानी पीएं। यह बॉडी को पूरी तरह हाइड्रेट रखता है।

हल्दी पाउडर, नीम्बू रस और नमक को मिलाकर एक चिकना लेप बनायें। इस लेप को प्रभावित क्षेत्र पर लगायें। यह आपको दर्द से तुरंत आराम देगा और पैरों के दर्द को खत्म भी करेगा।

लौंग के तेल को तिल के तेल के साथ मिलाकर पैरों में लगाएं। इससे पैरों की खुजली दूर होगी।

पैर दर्द का ईलाज, पैरों के व्यायाम करने की भी सलाहा दी जाती है जो अपके शरीर में खून के परिसंचरण को बढ़ाकर आपके पैर के दर्द को आराम पहुंचायेगा।

दूध से बने प्रॉडक्ट्स ज्यादा लें। चीज, दूध, सोयाबीन, सलाद वगैरह से आपको पूरी मात्रा में विटामिंस मिलेंगे। अपने खाने में ऐसी चीजों की मात्रा बढ़ा दें जिनमें कैल्शियम और पोटैशियम ज्यादा हो।

सेंधा नमक गर्म पानी के एक टब में 2-3 बड़े चम्‍मच सेंधा नमक के मिलाकर, इसमें अपने पैरों को 10 से 15 मिनट रखें। जल्दी आराम मिलेगा।

पैरो में दर्द ठीक करने के घरेलु उपाय – How to remove foot pain in hindi

1). एक्युप्रेशर रोलर से दर्द ठीक करे – एक्युप्रैशर प्वाइंट दबाने वाले किसी उपकरण से दर्द वाली जगह का मसाज करें। इसका घर्शण कम से कम पांच मिनट तक बार बार दर्द के स्थान पर करें। इस प्रक्रिया को दिन में 2-3 कर सकते हैं, यह बहुत कारगर हैं, कुछ ही दिनों में राहत मिलेगी।

2). हॉट एंड कोल्‍ड वॉटर थेरेपी से इलाज – एड़ी और तलवों के दर्द से परेशान हैं तो हॉट एंड कोल्‍ड वॉटर थेरेपी बेहतर उपाय हो सकता हैं। इसके लिए दो बाल्टी आधा-आधा पानी लें। इनमें एक बाल्टी में ठंडा और दूसरे में गुनगुना पानी हो। पहले पैरों को गुनगुने पानी में तीन मिनट के लिए डालें और फिर इसके बाद पैरों को ठंडे पानी में तीन मिनट के लिए डालें। इस प्रक्रिया को 3 बार दोहराएं। यानी तीन बार ठंडे पानी में पैर डालें और तीन बार गुनगुने में। आपके देखेंगे आपका दर्द तुरंत गायब हो जायेगा।

इन बातों का ख्याल रखे – Treatment for leg swelling and pain in hindi

ऊंची एड़ियों वाले जूतों / चप्पलों का इस्तेमाल न करे इनसे गिरने की सम्भावना रहती हैं और इसी प्रकार पैरों को लपेट कर न बैठें।

पैरों को धोने के लिए एंटी-बैक्‍टीरियल प्रोडक्‍ट का इस्‍तेमाल करें।

फुट मसाज: पैरों के दर्द को दूर करने में फुट मसाज बहुत कारगर होती है। टेनिस बॉल या रोलिंग पिन से आप फुट मसाज कर सकते हैं। इससे काफी राहत मिलती है।

अगर आपको ऐसा लगता है कि आपके पैर में किसी प्रकार का संक्रमण है तो आप गुनगुने पानी में नमक डालकर पैरों की सिकाई करें। इससे पैरों में होने वाले बैक्‍टीरिया मर जाते हैं।

आप अपने पैरों के दर्द वाले हिस्से पर क्रम से गर्म और ठंडा पानी लगा सकते हैं जो तनावग्रस्त मांसपेशियों को आराम पंहुचयेगा। पैर दर्द का उपचार, आप इसे कई तरीके से कर सकते हैं जैसे कि तौलिये को गर्म पानी में डुबायें और तनावग्रस्त मांसपेशीपर लगा सकते हैं। आप अपनी तनावग्रस्त मांसपेशी पर गुनगुने पानी या भाप का स्नान लें सकते हैं। आप बर्फ लगाकर भी आराम पा सकते हैं।


और अधिक लेख –

Leave a Comment

Your email address will not be published.