दौड़ने के 21 जबरदस्त लाभ, फायदे | Benefits of Running in Hindi

Running Benefits Hindi/ अपने आप को फिट और तंदुरुस्त रखने के लिए दौड़ सबसे अच्छा विकल्प हैं। दौड़ना व्यायाम के सबसे सरल रूपों में से एक है, क्योंकि यह सिर्फ आपके अतिरिक्त वजन को कम करने में ही मदद नहीं करता है, बल्कि आपको स्वस्थ और फिट बनाने में भी मदद करता है। चाहें बच्चे हो या बड़े या फिर बूढ़े लोग, हर कोई दौड़ लगा सकता है और यह स्वास्थ्य के लिए भी बहुत ही लाभदायक होता है। आइये जाने Daudane ke Fayde..

दौड़ने के 21 जबरदस्त लाभ, फायदे | Benefits of Running in Hindi

एक अध्‍ययन के अनुसार जो व्‍यक्ति एक सप्‍ताह में 50 मील तक दौड़ता है उनमे अन्‍य की तुलना में एचडीएल अधिक बढ़ता है, कोलेस्‍ट्रॉल (अच्‍छा वसा) कम होता है और शरीर में वसा में बहुत ज्‍यादा कमी होती है, सीराइड की मात्रा कम होती है और चक्रिय हृदय रोग घटते हैं, उन लोगों की तुलना में जो प्रति सप्‍ताह 10 मील दौड़ता है। दौड़ने से ना केवल मांस पेशियां मजबूत होती हैं, इससे वजन नियंत्रित होता है साथ ही आप पर उम्र का असर भी देर से दिखाई देता है।

दौड़ने के फायदे – Health Benefits Of Running & Jogging in Hindi 

1). हड्डियों को मजबूत करता है :- नियमित रूप से दौड़ लगाने से हड्डियां और मांसपेशियां मजबूत बनती हैं। इससे हड्डियों संबंधित बीमा‍रियों जैसे ऑस्टियोपोरोसिस और अर्थराइटिस होने का खतरा काफी कम हो जाता है। इसके साथ ही दौड़ने से टांगों और कूल्‍हों की हड्डियों का घनत्‍व भी बढ़ता है।

2). दिल बनाये मजबूत :- Running से हमारे शरीर में रक्‍त प्रवाह सुधरता है, इससे हमारे दिल की सेहत पर अच्‍छा असर पड़ता है। इसके साथ ही दौड़ने से रक्‍तचाप भी कम होता है जिससे हृदय संबंधी कई रोग होने का संभावित खतरा भी कम हो जाता है।

3). वजन घटाता है :-अगर आपको अपना वजन कम करना है, तो दौड़ने से अच्‍छी एक्‍सरसाइज और कोई नहीं हो सकती। यह एक बहुत ही लाभदायक कार्डियो एक्‍सरसाइज है जो कि वजन कम करने सहायता करता हैं। क्योंकि यह कैलोरी को जला देता है।

4). प्रतिरक्षा स्वास्थ्य को बढ़ाता है :- यदि आप नियमित रूप से जॉगिंग करते हैं, तो आप एलर्जी, सर्दी, खांसी, फ्लू आदि जैसी स्वास्थ्य समस्याओं से ग्रस्त नहीं होंगे। नियमित रूप से दौड़ने से आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली बढ़ती है और यह रोगों के सभी प्रकार का प्रतिरोध करता है।

5). ऊर्जा को बढ़ाये :- क्या आप जब उठते हैं, तो आप ऊर्जाहीन महसूस करते हैं ? यदि ऐसा है तो यह ऊर्जा का स्तर बढ़ा देता है और आप अपनी दैनिक दिनचर्या ऊर्जा के साथ कर सकते हैं।

6). पाचन शक्ति सुधारे :- दौड़ना पाचन में सुधार करने में मदद करता है और यह भूख बढ़ाता है। यह कैलोरी को जला देता है इसलिए आपको दौड़ने के बाद भूख लगने लगेगी। हालाँकि यह सुनिश्चित करें कि आप एक स्वस्थ नाश्ता ले रहे हैं।

7). चर्बी को जलाता है :- दौड़ना अधिक वसा कोशिकाओं को जलाने में मदद करता है और शरीर को दुबला पतला बना देता है। यह आपके चयापचय को भी बढ़ा देता है और आपको अवांछित वसा से छुटकारा पाने में मदद करता है।

8). मस्तिष्क के स्वास्थ्य में सुधार :- दौड़ना पूरे शरीर में प्रवाह को बढ़ावा देने में मदद करता है। इस के कारण, आपके दिमाग को अधिक ऑक्सीजन और पोषक तत्व मिलते हैं, जो आपको काम पर ध्यान केंद्रित करने के लिए सक्षम बनाते हैं।

9). बेहतर नींद लेने में मदद करता है :- अनिद्रा शारीर के लिए बहुत बड़ा रोग है क्योंकि इससे अपचन, सिर में दर्द और काम करते समय मुश्किलें पैदा होती हैं। ऐसे में प्रतिदिन सुबह-शाम दो बार दौड़ने या जॉगिंग करने से अच्छी नींद आती है और खाना हज़म भी होता है।

10). मधुमेह के खतरे को कम करता है :- अध्ययनों से पता चला है कि नियमित रूप से दौड़ना टाइप -2 मधुमेह के खतरे को कम करने में मदद करता है।

11). अवसाद में मदद करता है :- दौड़ना अवसाद और चिंता के स्तर को कम करने में मदद करता है और आप अपने बारे में अच्छा महसूस करते हैं।

12). बढ़ती हुई उम्र को धीमा करता है :- नियमित रूप से दौड़ने से शरीर की प्रणाली की कंडीशनिंग होती है जिससे उम्र बढ़ने की प्रक्रिया धीमी हो जाती है। यह हड्डियों और मांसपेशियों जो हमारी उम्र के साथ कमजोर होती जाती हैं, के बनने और उन्हें मजबूत करने में मदद करता है।

13). कोलेस्ट्रॉल कम करता है :- दौड़ना आपके शरीर में एक स्वस्थ कोलेस्ट्रॉल स्तर को बनाए रखने में मदद करता है, और इसके साथ जुड़े विभिन्न समस्याओं के खतरे को कम करता है।

14). जोड़ों के स्वास्थ्य को बढ़ाता है :- दौड़ना आपके स्नायुबंधन और नसों की ताकत को बढ़ाने में मदद करता है, जिससे जोड़ों की ताकत बढ़ती है और एड़ियों और घुटनों के घायल होने की संभावना कम होती है।

15). शरीर का संतुलन ठीक करता है :- नियमित दौड़ना हाथ से आँख के समन्वय को बढ़ाने में मदद करता है और शरीर के संतुलन में भी मदद करता है।

16). एक स्वस्थ शरीर देता है :- आप फिट रहना चाहते हैं, तो अपने खाली समय के दौरान सैर करें या दौड़ें। नियमित दौड़ना फिट रहने के लिए सबसे आसान तरीका है।

17). सहनशक्ति बनाता है :- दौड़ने की एक नियमित गति को बनाए रखने से मांसपेशियों की ताकत और सहनशक्ति में सुधार लाने में मदद मिलती है, यह लोगों में स्‍टेमिना भी बढ़ाता है।

18). एरोबिक व्यायाम :- नियमित रूप से दौड़ना एरोबिक व्यायाम का एक रूप भी है, यह आपका मूड अच्छा करने में मदद करता है आप शारीरिक रूप से फिट बने रहते हैं और आपके स्वास्थ्य में सुधार होता है।

19). आपको अच्छा महसूस कराता है :- नियमित रूप से दौड़ना आपको अच्छा महसूस कराएगा, क्योंकि यह आपके शरीर को ठीक करने और स्वस्थ बनाने में मदद करता है। यह हमारे जैविक स्वास्थ्य, शारीरिक स्वास्थ्य, मानसिक स्वास्थ्य और भावनात्मक स्वास्थ्य में सुधार करने में भी मदद करता है।

20). तनाव को खत्म करता है :- दौड़ना व्यायाम का एक आरामदायक रूप है, क्योंकि यह स्वास्थ्य को बढ़ा देता है और आपके तनाव के स्तर को कम करने में मदद करता है।

21). मनोवैज्ञानिक लाभ :- दौड़ने के कई मनोवैज्ञानिक लाभ भी हैं। दौड़ते समय एंडोर्फिन नामक हार्मोन शरीर में छोड़ा जाता है जो फील गुड फैक्टर की भावना देता है। धावक खुश और तनावपूर्ण कम लगता है। चूंकि दौड़ना एक बहुत ही चुनौतीपूर्ण गतिविधि है यह हर सत्र को पूरा करने पर उपलब्धि और गर्व की भावना देती है।

22). हाई ब्लड प्रेशर नियंत्रण :- दौड़ने से हाई ब्लड प्रेशर भी नियंत्रण में रहता है। इससे धमनी और शिरा मजबूत बनते हैं।

दौड़ने से पहले इन बातों का ख्याल रखे – Jogging karne ke tarike

सबसे पहले अपने डॉक्टर से जरूर मिलें और उनसे अपने दौड़ने के विषय में सलाह लें। यह तब जरूरी होता है जब आपकी उम्र 40 या उससे अधिक हो, आपका मोटापा बहुत ज्यादा हो, लम्बे समय से व्यायाम ना किया हो या आपको किसी अन्य प्रकार की स्वास्थ्य सम्बन्धी असुविधा हो तो।

दौड़ना एक उच्च तीव्रता वाला कार्डियोवास्कुलर वर्कआउट है जिसके कई शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य और फिटनेस लाभ हैं। यह सबसे अधिक आसानी से किया जा सकने वाला एरोबिक व्यायाम है। इसे आसानी से सीखा जा सकता है और दौड़ने के जूतों की एक अच्छी जोड़ी, आरामदायक कपड़े, पानी की बोतल और एक तौलिए के अलावा किसी भी महंगे उपकरण की आवश्यकता नहीं है।

कठोर सतहों जैसे सीमेंट वाली सड़कों और ज़मीन पर दौड़ने से बचें। घास आउटडोर के लिए एक बेहतर विकल्प है। सख्त सतह पर नियमित रूप से उच्च तीव्रता और उच्च प्रभाव वाली गतिविधियां जैसे दौड़ना और जॉगिंग करने से मॅस्कुलोस्केलेटल (मांसपेशी और हड्डी ) की क्षति हो सकती है।

हॉयड्रेशन दौड़ने के पहले, बीच में और बाद में बहुत महत्वपूर्ण है। आप पसीने के रुप में बहुत सा पानी और लवण खो देते हैं और इसलिए इनकी पूर्ति बहुत महत्वपूर्ण है।

सड़क के पास ना दौड़ें। इससे अस्थमा के रोगियों को गाड़ियों के Pollution के कारण सांस की शिकायत हो सकती है। इसलिए जितना हो सके सुबह के समय दौड़ें। (Morning Running Benefits)

Running ke nuksan in hindi

एक गर्म और आर्द्र वातावरण में बाहर न दौड़ें क्योंकि इससे आपकी ऊर्जा और क्षमता खत्म हो जाएगी। गर्म मौसम में दौड़ना खतरनाक हो सकता है क्योंकि यह निर्जलीकरण, ऐंठन, हीट ऐक्जाशन और हीट स्ट्रोक पैदा कर सकता है। हीट ऐक्जाशन से हीट स्ट्रोक हो सकता है जो घातक हो सकता है। दौड़ने का सबसे अच्छा समय सुबह और देर शाम का है।

इसके अलावा अगर मौसम बहुत ठंडा है तो बाहर न दौड़ें क्योंकि इससे हाइपोथर्मिया हो सकता है जिसमें शरीर का तापमान सामान्य से नीचे चला जाता है और खतरनाक हो सकता है। शीतदंश ठंड के मौसम में चलने की एक संभावित समस्या है। यह एक अन्य खतरनाक स्थिति है जिसमें त्वचा का रंग लाल हो जाता है और उसके बाद सुन्न हो जाती है।

>> अगर आपको साँस सम्बंधित बीमारी हैं तो, रनिंग करने से बचे। दौड़ने या जॉगिंग करने से पहले कुछ भी अधिक न खाएं। यह आपको नुक्सान पहुंचा सकता हैं।

Running & Jogging ke Fayade (Video)


और अधिक लेख –

24 thoughts on “दौड़ने के 21 जबरदस्त लाभ, फायदे | Benefits of Running in Hindi”

  1. Duadne ke laabh jaankar wakai hairaan hu mai…aapne bahut hi achhe se bataya hai ki running se hume kaun kaunse labh mil sakte hain. thanks for such a informative post.

  2. Sir mere ko reply jrur kre ki me race ke sat sat kya kru kyonki meri age 20year hone ja rhi or meri hight 5.4ince he mere apni hight 6.4ince tk bdani he

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *