सचिन तेंदुलकर जीवनी About Sachin Tendulkar Biography in Hindi

Sachin Tendulkar – सचिन रमेश तेंदुलकर जो की भारतीय क्रिकेटर हैं जिनके नाम इतने रेकॉर्ड्स हैं की किसी क्रिकेटर्स को उनकी बराबरी करना मुस्किल हैं। जिस कारण वह गॉड ऑफ क्रिकेट के नाम से जाने जाते हैं। वे क्रिकेट के इतिहास में विश्व के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ौं में गिने जाते हैं। भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न‘ से सम्मानित होने वाले वह पहले खिलाड़ी और सबसे कम उम्र के व्यक्ति भी हैं। राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित एकमात्र क्रिकेट खिलाड़ी हैं। इसके अलावा सन् 2008 में वे पद्म विभूषण से भी पुरस्कृत किये जा चुके है। उन्होने क्रिकेट मे एक अलग और अमिट छाप छोड़ी हैं जो की प्रेरणा स्रोत हैं।

About Sachin Tendulkar Biography in Hindi,सचिन रमेश तेंदुलकर का परिचय – Cricketer Sachin Tendulkar Biography in Hindi

नामसचिन रमेश तेंदुलकर (Sachin Tendulkar)
जन्म दिनांक24 एप्रिल, 1973
जन्म स्थानमुंबई, भारत
पिता का नामरमेश तेंदुलकर
माता का नामरजनी
पत्नीअंजली तेंदुलकर
संतान2 बच्चे, सारा और अर्जुन
बल्लेबाज़ी शैलीदाएँ हाथ
गेंदबाज़ी शैलीदायें हाथ के लेग स्पिन एवं मध्यम तेज़ गेंदबाज़ी
राष्ट्रीयता भारतीय
सम्मान और पुरस्कारपद्म श्री, राजीव गाँधी खेल रत्न पुरस्कार, पद्म विभूषण, भारत रत्न

सचिन तेंदुलकर क्रिकेट इतिहास में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ों में एक हैं। वे बल्लेबाज़ी में कई रिकॉर्ड्स बना चुके हैं। सचिन तेंदुलकर ने टेस्ट व एकदिवसीय क्रिकेट, दोनों में सर्वाधिक शतक अर्जित किये हैं। वे टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज़ है। इसके साथ टेस्ट क्रिकेट में 15,000 से अधिक रन बनाने वाले वे विश्व के एकमात्र खिलाड़ी हैं। एकदिवसीय मैचों में भी उन्हें कुल सर्वाधिक रन बनाने का कीर्तिमान प्राप्त है। वे क्रिकेट जगत में सबसे ज्यादा अवार्ड्स जितने वाला व्यक्ति हैं, इनके फैन विश्वभर में हैं। उनके फैन उन्हें प्यार से लिटिल मास्टर व मास्टर ब्लास्टर कह कर बुलाते हैं।

प्रारंभिक जीवन  – Early Life of Sachin Tendulkar

सचिन का जन्म 24 अप्रेल, 1973 को राजापुर के एक मराठी ब्राह्मण परिवार हुआ। उनके पिता रमेश तेंदुलकर ने अपने चहेते संगीतकार सचिन देव बर्मन के नाम पर रखा था। सचिन के अंदर बचपन से ही क्रिकेटर का गुण था जिसे इनके भाईं अजित तेंदुलकर भली-भाँति समझ गये, और उन्होने सही से मार्गदर्शन किया। सचिन को क्रिकेट की शुरुआती ज्ञान भी क्रिकेट ‘द्रोणाचार्य”  रमाकांत आचरेकर ने दी। सचिन के एक भाई नितिन तेंदुलकर और एक बहन सविताई तेंदुलकर भी हैं। सामान्य परिवार में बढे हुये सचिन ने अपनी शिक्षा मुंबई के शारदाश्रम विश्वविद्यालय में की।

युवाकाल में सचिन अपने कोच के साथ अभ्यास करते थे। उनके कोच स्टम्प पर एक रुपये का सिक्का रख देते और जो गेंदबाज सचिन को आउट करता, वह सिक्का उसी को मिलता था और यदि सचिन बिना आउट हुए पूरे समय बल्लेबाजी करने में सफल हो जाते, तो ये सिक्का उनका हो जाता। सचिन के अनुसार उस समय उनके द्वारा जीते गये वे 13 सिक्के आज भी उन्हें सबसे ज्यादा प्रिय हैं।

1995 में सचिन तेंदुलकर का विवाह अंजलि तेंदुलकर से हुआ, वो पेशे से डॉक्टर हैं। सचिन की दो संतान हैं- पुत्री सारा और पुत्र अर्जुन।

क्रिकेटर लाइफ – Cricket Career of Sachin Tendulkar

सचिन शुरुआत मे तेज गेंदबाज बनने के लिये एम.आर.एफ० पेस फाउण्डेशन के अभ्यास कार्यक्रम में शिरकत की पर वहाँ तेज गेंदबाजी के कोच डेनिस लिली ने उन्हें पूर्ण रूप से अपनी बल्लेबाजी पर ध्यान केन्द्रित करने को कहा। जिसके बाद उन्होने बल्लेबाजी मे ध्यान देने लगे।

इसके बाद 15 साल की उम्र में सचिन ने विनोद काम्बली के साथ मिलकर हारेस शील्ड मुकाबले में 664 रन की पार्टनरशिप की जिसमे सचिन ने अपनी अदभुत प्रतिभा के दम पर 320 रनों की पारी खेली, इस प्रदर्शन से सचिन बहुत प्रसिद्ध हो चुके थे जिस कारण 16 वर्ष की छोटी उम्र में ही उनको टीम इंडिया में जगह मिल गयी और इन्होने सन 1989 में पाकिस्तान के खिलाफ अपने अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट की शुरुआत कर की। सचिन ने अपने लाजबाब क्रिकेट से क्रिकेट प्रेमियों का दिल जीत लिया था।

सन 1990 में इंग्लैंड दौरे में अपने टेस्ट क्रिकेट का पहला शतक लगाया जिसमे उन्होंने नाबाद 119 रन बनाये इसके बाद ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के टेस्ट मुकाबलों में भी सचिन का प्रदर्शन यही रहा और उन्होंने कई टेस्ट शतक जड़े। सचिन ने 1992-93 में अपना पहला घरेलु टेस्ट मैच इंग्लैंड के खिलाफ भारत में खेला जो उनका टेस्ट कैरियर का 22वा टेस्ट मैच था।

सचिन की प्रतिभा और क्रिकेट तकनीक को देखते हुए क्रिकेट इंटरनॅशनल पत्रिका ने उन्हें डॉन ब्रेडमैन की उपाधि दी जिसे बाद में डॉन ब्रेडमैन ने भी खुद इस बात को स्वीकारा, सचिन के शानदार प्रदर्शन को देखते हुए उन्हे टीम इंडिया की कप्तानी भी दी गई लेकिन वे एक कप्तान के रूप मे सफल नहीं हो सके और उनका अपना खेल भी इससे बहुत प्रभावित हुआ, जिस कारण उन्होंने स्वतः ही कप्तानी का पद छोड़ दिया। इसके बाद इन्होने अपना पूरा ध्यान खेल पर लगाया।

23 दिसम्बर 2012 को सचिन ने वन-डे क्रिकेट से संन्यास लिया और वहीँ 16 नवम्बर 2013 को मुम्बई के अपने अन्तिम टेस्ट मैच में उन्होंने 74 रनों की पारी खेलकर टेस्ट क्रिकेट से सन्यास लिया। तेंदुलकर ने अपने कैरियर में 200 टेस्ट मैचों में 53.79 के बल्लेबाजी औसत के साथ 15921 रन बनाये जिसमे उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 246* रन था और वही उनके नाम 51 शतक और 68 अर्धशतक दर्ज है।

गेदबाजी में उन्होंने 46 विकेट लिए, वही वनडे मैचों में सचिन ने 463 मैचों में 44.83 के बल्लेबाजी औसत के साथ 18426 रन बनाये जिसमे उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 200* रन था वही उनके नाम 49 शतक और 96 अर्धशतक दर्ज है।उन्होंने वनडे मैचों में अपनी गेदबाजी से टीम के लिए 154 विकेट भी लिये।

सचिन इतने महान क्रिकेट प्लेयर होते हुए भी ज़मीन से जुड़े व्यक्ति हैं, आज वे हर साल 200 बच्चों के पालन पोषण की जिम्मेदारी हेतु अपनालय नाम का एक गैर सरकारी संगठन मध्यम से करते हैं। आज दुनिया के बच्चा से लेकर बडो के ज़ुबान मे क्रिकेट मतलब सचिन तेंदुलकर हैं। क्रिकेट के अलावा वे अपने ही नाम के एक सफल रेस्टोरेंट के मालिक भी हैं।

Sachin Tendulkar Records in Hindi 

  • सचिन के नाम अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट में 100 शतक :-
  • एकदिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट इतिहास में दोहरा शतक जड़ने वाले वह पहले खिलाड़ी है।
  • वनडे अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबलों में 18426 सबसे ज्यादा रन है।
  • वनडे अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबलों में सबसे ज्यादा 51 शतक।
  • वनडे अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबलों में सबसे ज्यादा रन।
  • टेस्ट अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबलों में सबसे ज्यादा 49 शतक।
  • टेस्ट अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबलों में 15921 सबसे ज्यादा रन है।
  • सबसे अधिक वनडे अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैच (463) खेलने वाले एकमात्र खिलाडी।
  • सबसे अधिक टेस्ट अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैच (200) खेलने वाले एकमात्र खिलाडी।
  • टेस्ट अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबलों में 13000 रन बनाने वाले विश्व के पहले बल्लेबाज।
  • वनडे अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबलों में 16000 रन बनाने वाले विश्व के पहले बल्लेबाज।
  • वनडे अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबलों में सबसे ज्यादा मैन ऑफ द सीरीज।
  • वनडे अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबलों में सबसे ज्यादा मैन ऑफ द मैच।
  • अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबलों में सबसे ज्यादा 34000 हजार से ज्यादा रन बनाने वाले पहले खिलाडी।
  • सबसे ज़्यादा समय तक अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट का कैरियर।

पुरूस्कार और सम्मान (Sachin Tendulkar Awards) 

  • 1994    – अर्जुन पुरस्कार, खेल में उनके उत्कृष्ट उपलब्धि के सम्मान में भारत सरकार द्वारा
  • 1997-98 – राजीव गांधी खेल रत्न, खेल में उपलब्धि के लिए दिए गए भारत के सर्वोच्च सम्मान
  • 1999    – पद्मश्री, भारत के चौथे सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार
  • 2001    – महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार, महाराष्ट्र राज्य के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार
  • 2008    – पद्म विभूषण, भारत का दूसरा सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार
  • 2014    – भारत रत्न, भारत के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार

और अधिक लेख :-

Please Note : – Sachin Tendulkar Biography & Life History In Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे करे। Sachin Tendulkar Short Biography & Life History व नयी पोस्ट डाइरेक्ट ईमेल मे पाने के लिए Free Email Subscribe करे, धन्यवाद।

9 thoughts on “सचिन तेंदुलकर जीवनी About Sachin Tendulkar Biography in Hindi”

  1. Sachin sr ka koi jawab nai I really like sachin sr or unke JesA player koi nai h na hoga. Sachin sr I like your cricket history.. I need your help and I am firoz khan, and I am left arm bollar plz help 9716978990

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *