क्रिकेटर विराट कोहली की जीवनी | Virat Kohli Biography In Hindi

Virat Kohli / विराट कोहली एक भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी है वे अभी भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान और सीमित ओवरो के उपकप्तान हैं। सन 2008 की 19 वर्ष से कम आयु वाले विश्व कप क्रिकेट विजेता दल के कप्तान भी रह चुके हैं। कोहली दुनिया के बेहतरीन बल्लेबाजों में शामिल हैं। कई विश्व रेकॉर्ड उनके नाम हैं।

Virat Kohli Biography In Hindiजीवन परिचय / Virat Kohli Biography In Hindi

विराट कोहली का जन्म 5 नवम्बर 1988 को दिल्ली  मे हुआ था। उनके पिता प्रेम कोहली एक वकील थे और माता सरोज कोहली गृहिणी। उनका एक बड़ा भाई, विकास और एक बड़ी बहन, भावना है। वे एक पंजाबी परिवार से ताल्लुक रखते हैं।

उन्होने अपनी स्कूली शिक्षा विशाल भारती पब्लिक स्कूल से इसके बाद इंटर की पढ़ाई सवियर्र कॉन्वेंट से की, विराट पढ़ाई मे बहुत होनहार छात्र थे। हालाँकि कोहली ने 12 वी के बाद पढाई छोड़ दी, वे कभी कॉलेज नहीं गए. इसके बाद उन्होंने अपना पूरा समय अपने खेल को दिया।

कोहली का बचपन परिवार के साथ दिल्ली के उत्तम नगर मे बिता। उनके परिवार के अनुसार कोहली जब 3 वर्ष के थे उसी टाइम हाथ मे बल्ला उठा लिया था और अपने पिता को बॉल फेंकने के लिए बोले।

पश्चिमी दिल्ली क्रिकेट अकादमी मे कोहली 9 साल की आयु में ही उसमे शामिल हुए। कोहली के पिता ने तभी कोहली को अकादमी में शामिल किया जब उनके पडोसी ने उनसे कहा की, “विराट को गल्ली क्रिकेट में समय बर्बाद नही करना चाहिये बल्कि उसे किसी अकादमी में व्यावसायिक रूप से क्रिकेट सीखना चाहिये।”

इसके बाद राजीवकुमार शर्मा के हाथो कोहली ने प्रशिक्षण लिया और सुमित डोगरा अकादमी में मैच भी खेला।

कोहली को बहुत आहत पहुँचा जब उनके पिता 18 दिसम्बर 2006 को ब्रेन स्ट्रोक की वजह से मृत्यु हो गयी। कोहली अपने पुराने दीनो को याद करते हुवे बताते हैं. ‘मैंने अपने जीवन में बहुत कुछ झेला हैं। मैं युवा दिनों में ही अपने पिता को खो दिया, जिससे पारिवारिक आर्थिक स्तिथि भी डगमगा गया था, इस वजह से मुझे किराये की रूम में भी रहना पड़ा। ये समय मेरे और मेरे परिवार के लिए काफी मुश्किल था।

लव अफेर –

विराट कोहली बॉलीवुड एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा को डेट कर रहे थे। विराट और अनुष्का ने 2015 में अपने रिश्ते को सबके सामने लाया था, जिसके बाद मीडिया में इसके काफी चर्चे हुए। लेकिन 2016 की शुरुवात में खबर आई की, ये दोनों अलग हो गए। दोनों के बीच अब कोई सम्बन्ध नहीं है। हालाँकि लोगो कहना हैं की ये महज एक अफवाह हैं विराट-अनुष्का अभी भी साथ हैं। हालाँकि अनुष्का से सम्बन्ध के दौरान उनका खेल का ग्राफ थोडा निचे चला गया था, जिसे सबने अनुष्का के साथ जोड़ दिया। कोई भी मैच अगर विराट हारते, तो सब इसका जिम्मेदार अनुष्का को ठहराते। अलग होने के बाद जब विराट कोई मैच जीतते तो भी लोग अनुष्का को नहीं छोड़ते, यही बोला जाता कि गर्लफ्रेंड से अलग होकर विराट अच्छा खेलने लगे है। इन सब बातों से परेशान होकर विराट ने सभी को मुंह तोड़ जबाब दिया, और उनकी निजी जिंदगी को खेल से दूर रखने को कहा। अब सच्चाई क्या हैं ये वक्त ही बताएगा।

Virat Kohli With Anushka Sharmaविराट कोहली का क्रिकेट करियर / Cricket Career :

कोहली सुर्खियों में आऐ जब कर्नाटक के खिलाफ रणजी ट्रॉफी मैच में दिल्ली के लिए खेल रहे थे। उन्होंने घरेलु क्रिकेट में विविध-उम्र की टीम में दिल्ली का प्रतिनिधित्व भी किया है। वे अंडर-19 टीम में भारत के कप्तान थे। जिसने 2008 में मलेशिया के अंडर-19 विश्वकप में इतिहास रचा था। इसके कुछ महीनो बाद ही उन्होने आइडिया कप में श्रीलंका के खिलाफ एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में अपनी शुरुआत की। उन्होंने अन्तराष्ट्रीय खेल में मात्र 19 साल में कदम रख दिया था. इसके बाद विराट को मौके मिलते चले गए, उन्हें बहुत से मैच में खेलने का मौका मिला।

Virat Kohli Biography In Hindi

विराट 2011 में विश्व कप टीम में शामिल थे और इसी साल उन्होंने अपना पहला टेस्ट खेल था। जब 2011 में वर्ल्ड कप के लिए विराट व् रैना का नाम भी टीम में शामिल किया गया था। लेकिन देखना ये था कि 11 खेलने के लिए 11 खिलाडीयों में किसका नाम आता है। ऐसे समय में महेंद्र सिंह धोनी ने विराट पर भरोसा दिखाया और उन्हें वर्ल्ड में डेब्यू करने का मौका दिया था। उन्होंने भी भरोसा नहीं तोडा, यहाँ बहुत से शतक व् अर्द्धशतक लगाये। फाइनल मैच में श्रीलंका के खिलाफ विराट ने 37 रन बनाये और गंभीर के साथ 87 रन की पार्टनरशिप की। विराट ने खेल में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, क्यूंकि यहाँ से मैच ने नया रुख ले लिया था।

इसके बाद 2011 से लेकर 2013 तक उन्होंने टीम मैचों में कई शतक लगाए और अपने ऊपर लगे वन-डे स्पेशलिस्ट के लेबल को हटाने में कामयाब रहे। विराट कोहली आई सी सी की रैंकिंग में कई बार बहुत समय तक पहले पायदान पर रह चुके हैं और धोनी की गैर मौजूदगी में कई बार टीम को जीत भी दिलवा चुके हैं।

जब धोनी ने संन्यास लिया तब वे भारतीय टीम के कप्तान बनाये गए। 2015 में विराट ने अपने करियर का दूसरा वर्ल्ड कप भी खेला। किसी भारतीय द्वारा सबसे तेज़ शतक और दुनिया में वन-डे क्रिकेट में सबसे तेज़ 5000 रन और सबसे तेज़ 10 वन-डे शतक मारने वाले कोहली ने कई रिकॉर्ड स्थापित किये हैं। कोहली ऐसे पहले खिलाड़ी हैं जिन्होंने लगातार 4 साल 1000 वन-डे रन बनाये और ऐसा करने वाले वह दुनिया के दूसरे खिलाड़ी बने। वे 20-20 में 1000 रन बनाने का रेकॉर्ड भी उन्ही के नाम हैं।

कोहली अपना हर मैच गंभीरता से लिया करते है। वे बल्लेबाजी के अलावा कभी-कभी गेंदबाजी भी करते हैं और एक अच्छा फ़ील्डर भी हैं। आई पी एल मे रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर के कप्तानी करते हैं। वे दाये-हाथ के बल्लेबाज है।

विराट बहुत आक्रमक किस्म के बैट्समैन है। जिनमें बहुत सी टेक्निकल स्किल भी है। विराट शॉट मरने के लिए फेमस है, अंडर प्रेशर में इन्हें खेलना बहुत अच्छा लगता है। विराट की बैटिंग स्टाइल बिल्कुल सचिन जैसी है, इसलिए उन्हें भविष्य का सचिन कहा जा रहा है। कुछ लोगों को मानना है कि विराट सचिन तेंदुलकर के रनों का स्कोर तोड़ देंगें।

विराट कोहली एक प्रसिद्ध क्रिकेटर के साथ एक फेमोस सेलिब्रिटीज भी हैं। फोबेर्स की सूचि में (2016) वे भारत 3 सबसे पॉपुलर सेलेब्रिटीस हैं। यही कारण है की वे कई कंपनियों के ब्रांड एम्बेसडर हैं।

पुरूस्कार और सम्मान :

कोहली को क्रिकेट मे अपने बेहतरीन योगदान के लिए, कई पुरूस्कारो से नवाज़ा गया है जिनमे शामिल है आईसीसी वन-डे ‘प्लेयर ऑफ़ द ईयर’ 2012 और 2011 से 2012 तक ब्साइ इंटरनेशनल क्रिकेटर ऑफ़ द ईयर। 2013 में इन्हे अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अपने अद्वितीय योगदान के लिए ‘अर्जुन पुरस्कार’ से सम्मानित किया गया। ब्रिटेन में प्रकाशित एक पत्रिका स्पोर्ट्स-प्रो ने विराट को 2014 में दुनिया का दूसरा सबसे अच्छा एथलीट बताया।


और अधिक लेख –

Please Note : – Virat Kohli Biography & Life History In Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे  Comment Box मे करे। Virat Kohli Essay & Life Story In Hindi व नयी पोस्ट डाइरेक्ट ईमेल मे पाने के लिए Free Email Subscribe करे, धन्यवाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here