महात्मा गाँधी सेतु का इतिहास | Mahatma Gandhi Setu in Hindi

1

Mahatma Gandhi Setu in Hindi / महात्मा गाँधी सेतु बिहार के पटना शहर में स्थित एक ब्रिज (Bridge) है। यह ब्रिज पटना को हाजीपुर से जोड़ता है। इस पल को गंगा नदी के उत्तर-दक्षिण की दिशा में बनाया गया है। इसकी लम्बाई 5,575 मीटर है। महात्मा गांधी सेतु विश्व के सबसे बड़े सेतुओं में से एक है जिसका उद्घाटन 1982 में हुआ था।

महात्मा गाँधी सेतु का इतिहास | Mahatma Gandhi Setu in Hindi

महात्मा गाँधी सेतु का इतिहास और जानकारी – Mahatma Gandhi Patna in Hindi

48 स्तंभों में टिका महात्मा गाँधी सेतु कभी एशिया की शान हुआ करता था। यह पुल इस संपूर्ण क्षेत्र के परिवहन की गति बढ़ाने और ट्रेफिक प्रबंधन में सहायक है। महात्मा गांधी सेतु वास्तुकला की दृष्टि और बेदाग़ निष्पादन का उल्लेखनीय उदाहरण है। भारत की पूर्व प्रधान मंत्री श्रीमती इंदिरा गाँधी ने इसका उद्घाटन मई 1982 में किया था।

इसका निर्माण गैमोन इंडिया लिमिटेड ने किया था। वर्तमान में यह राष्ट्रीय राजमार्ग 19 का हिस्सा है। इसके निर्माण में महज 81 करोड़ की लागत आई थी। हालाँकि समय के साथ और भारी वजनी गाड़ियों के आवाजाही के वजह से समस्या का भी सामना करना पड़ा।

महात्‍मा गाँधी सेतु पटना को सिर्फ उत्तर बिहार ही नहीं, नेपाल के अन्‍य पर्यटन स्‍थल को भी सड़क माध्‍यम से जोड़ता है। कभी लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स की भी शान बढा़ चुका यह पुल। इसकी लम्बाई 5.75 कि.मी हैं। पुल जर्जर स्थिति में होने के कारण अभी इस पुल का रिपेयरिंग किया जा रहा हैं।


और अधिक लेख –

I hope these “Mahatma Gandhi Setu History & Information in Hindi” will like you. If you like these “Women Quotes in Hindi” then please like our facebook page & share on Whatsapp.

1 COMMENT

  1. Sir , ये बहुत ही अच्छी जानकारी आपने पोस्ट की है , महात्मा गांधी सेतु वास्तव में अपनी एक अलग पहचान रखता है ,
    क्योकि ऐसे कई ब्रिज है भारत मे जो काफी विशाल है पर लोगों को जानकारी नही है ,
    आपने ये सेतु की बात इस आर्टिकल से समझाई , जो कि काफी अच्छी है ,
    खासकर 48 खम्भो पर टिका ये सेतु ।
    बहुत लाभदायक जानकारी ….

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here