कनखजूरे काटने का इलाज और छुटकारा पाने का तरीका Kankhajura

Earwig Bite Treatment – मौसम के बदलाव के अनुसार कई कीड़े मकोड़े आ जाते है जिनका डंक दर्दनाक तो होता ही है साथ ही उनका जहर भी काफी समस्यायें उत्पन्न कर देता है कुछ जीवों के काटने से तो मनुष्य की मृत्यु तक हो जाती है। कनखजूरे या कर्णकीट (kankhajura) भी इन्ही में एक हैं, जो की काटने के साथ कभी-कभी शरीर में चिपक जाते है या कान में घुस जाते हैं। तो चलिए जानते हैं कनखजूरे काटने के आयुर्वेदिक घरेलु इलाज और घर पर इसे आने से कैसे रोके …

कनखजूरे काटने का इलाज और छुटकारा पाने का तरीकाकनखजूरे का घरेलु उपचार – Kankhajura ka Ilaj in Hindi

  • यदि कनखजूरा कान में घुस जाए तो तत्काल पानी में सेंधा नमक मिलाकर कान में टपकाए। वह मर जाएगा और पानी के साथ बाहर निकल जाएगा।
  • यदि कनखजूरा किसी अंग से चिपक जाए तो उसके मुंह पर चीनी या बुरा डाले। वह तुरंत भाग जाएगा।
  • यदि कनखजूरा काट ले तो हल्दी, दारू हल्दी और सेंधा नमक का संभाग मिलाकर कूट-पीसकर कपड़छन कर ले। फिर गाय के घी में मथकर लेप कर दे। विष फौरन खत्म हो जाएगा।
  • विषैले कीड़े, बर्र, कनखजूरा और बिच्छू काटने पर प्याज को कुचलकर उसका लेप लगाना चाहिए।

कनखजूरों से छुटकारा पाने का तरीका –

कनखजूरे या कर्णकीट को सड़े-गले पौधे और गीली पत्तियाँ खाना पसंद है। वे आपकी फुलवारी और बगीचे में घुस जाते हैं और वे आपके घर में भी घुस जाते हैं। कनखजूरे से छुटकारा पाने के लिए इन तरीको का पालन करें।

  • एक टीन के डब्बे का जाल बनायें: अपने यार्ड में उथले टीन का डिब्बा रखें (जो बिल्ली के भोजन के डिब्बे की तरह हो)I उसे डेढ़ इंच (1.25 से. मी.) तक वनस्पति तेल से भरें। यह कनख़जूरों को आकर्षित करेगा, वे रेंगते हुए आएंगे और डूब जाएंगे। टीन के डिब्बे को खाली करके जरूरत के अनुसार दोबारा भर लें।
  • अपने घर की नींव के चारों ओर उपयुक्त कीटनाशकों का छिड़काव करें। अपनी फुलवारी की सड़ी हुई घास पर अच्छी तरह छिड़काव करें और अपने घर के उप मंजिल के नीचे, रेंगने के स्थान को न भूलें। पहले छिड़काव की कोशिश करें। अगर उससे काम न बने तो पायसीकरणीय कीटनाशक (emulsifiable insecticide) को भरपूर पानी में मिलाकर उसका प्रयोग करें कनख़जूरों के लिए, जो मिट्टी के नीचे छिपे हुए होते हैं।
  • जो जानवर कनख़जूरों का शिकार करते हैं, वे उनकी जनसंख्या को कम करने में मदद कर सकते हैं और इसे नियंत्रण में रख सकते हैं। पक्षियों को आकर्षित करने के लिए पक्षियों का चुग्गा या घोसलों के लिए डिब्बे लगाएं। ये आपको कनखजूरों से छुटकारा दिल सकते हैं।

>> दीना, तुलसी और निम्बू, अजवायन के फूल के रूप में जड़ी बूटियाँ कनख़जूरों तथा अन्य कीड़ों के प्रवेश को रोक सकते हैं। उन्हें घर के पास ही लगाएं, साथ ही वे खाना पकाने के लिए भी उत्तम हैं!


और अधिक लेख –

18 thoughts on “कनखजूरे काटने का इलाज और छुटकारा पाने का तरीका Kankhajura”

  1. Agar kankhajura kan me ghus jayy tohh pani me sendha namak milakar kan me tapkane se kya wo katega nii ????
    Agar kan me kat gya tohh wo tohh r bura hoga..

  2. Dear sir.
    Mere kankhajure ne 2 saal pehle kata tha aur ab mere dard aur Sujan bhi aati h to sir. Main kya kr sakta hu kuch batay please

Leave a Comment

Your email address will not be published.