अभिनेत्री दिव्या भारती की जीवनी | Divya Bharti Biography In Hindi

Divya Bharti in Hindi/ दिव्या भारती एक भारतीय फिल्म अभिनेत्री थी, जिन्होंने 1990 के शुरुआती दिनों में कई व्यावसायिक रूप से सफल हिंदी और तेलुगु भाषा फिल्मों में अभिनय किया था। मात्र 19 साल की उम्र में बॉलीवुड में राज करने वाली दिव्या भारती को गुजरे 23 साल से अधिक हो गए हैं, लेकिन आज भी वो लोगों के दिलों में जिंदा हैं। वह बहुत ही कम समय में खुद को 90 के दशक की प्रमुख अभिनेत्री के रूप में स्थापित करने में कामयाब रही। अभिनय के अतिरिक्त भारती में एक प्रभावशाली व्यक्तित्व की छवि नज़र आती थी।

अभिनेत्री दिव्या भारती की जीवनी | Divya Bharti Biography In Hindiदिव्या भारती की प्रारंभिक जीवन – Divya Bharti Biography in Hindi

दिव्या भारती का जन्म मुम्बई में ओम प्रकाश भारती के घर में हुआ, जो एक बीमा अधिकारी थे और उनकी पत्नी का नाम मीता भारती था। दिव्या भारती के अपने पिता की पहली शादी से हुयी संतान थी उन्हें और एक छोटा भाई कुणाल और एक छोटी बहन पूनम हैं। अपने शुरुआती वर्षों में, दिव्या भारती अपने चुलबुले व्यक्तित्व के लिए जानी जाती थी और सब लोग उन्हें गुड़िया कहते थे। दिव्या की शुरुवाती शिक्षा मानेकजी कॉपर हाई स्कूल में हुई, दिव्या शुरू से ही पढ़ाई में एक माध्यम स्तर की विद्यार्थी थीं।

दिव्या भले ही टॉप एक्ट्रेस रही हों, लेकिन वह खुद कभी भी हिरोइन नहीं बनना चाहती थीं, दिव्या फिल्म इंडस्ट्री में सिर्फ पढ़ाई से बचने के लिए आई थीं। उन्हें तो उस दौर के निर्देशकों के नाम तक नहीं पता थे। शुरुआत में दिव्या को कई फिल्मों में साइन किया गया और ऐन मौके पर निकाल भी दिया गया।

फ़िल्मी करियर की शुरुआत – Divya Bharti Filmy Career in Hindi

दिव्या भारती ने बहुत छोटी उम्र में फिल्मों में कैरियर की शुरुआत की, और 14 साल की उम्र में उनकी प्रयास शुरू हो गये। कई असफल प्रयासों के बाद, उन्होंने 16 वर्ष की उम्र के सफल तेलुगु फिल्म ‘बोब्बिली राजा’ से सन् 1990 में की। इस फिल्म की कामयाबी के बाद दिव्या को बॉलीवुड में फिल्मों के ऑफर मिलने लगे।

शुरुआती समय में भारती को कम महत्व वाली भूमिकाएँ दी जाती थीं। फ़िल्मी सफर में उन्हें सफलता हिंदी फिल्म विश्वात्मा से मिली। इसी फिल्म के ‘सात समुन्दर पार गाने’ से उन्हें एक अलग पहचान मिली।

सन् 1992 तक भारती स्वयं को बॉलीवुड में एक सफल नायकत्व के रूप में स्थापित कर लिया था। अन्य फिल्में सरूप शोला और शबनम, एक नाटकीय फिल्म जिसमें भारती को निडर रास के भूमिका को दर्शाया। 1992 में बनी प्रेम प्रसंगयुक्त फिल्म दीवाना में भारती के निष्पादन ने उन्हें फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ नवोदित अभिनेत्री के पुरस्कार से नवाजा गया। जिसमे अभिनेता शाहरुख़ खान थे। 1992-1993 के मध्य तक भारती ने मात्र 19 वर्ष की आयु में सात चौदह हिंदी और सात दक्षिण भारतीय फिल्में की। जो की अपने आप में एक रिकॉर्ड हैं। अपने कम समय के करियर के दौरान मुख्यधारा के सिनेमा के अलावा भारती ने एक शक्तिशाली अभिनय की उत्पत्ति की।

उनकी अंतिम पूरी की हुई फिल्में सह अभिनेता कमल सदानाह के साथ रंग, और अभिनेता जैकी श्रॉफ के साथ शतरंज, जिन्हें दिव्या भारती के मृत्यु के बाद रिलीज किया गया।

19 साल की कम उम्र में फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखने वाली दिव्या भारती बहुत कम समय में ही युवाओं के दिल की धड़कन बन गई थीं। उनकी खूबसूरती, एक्टिंग और मासूमियत के लोग दीवाने हो गए थे।

दिव्या भारती व्यक्तिगत जीवन – Divya Bharti Personal Life in Hindi

शोला और शबनम की शूटिंग में गोविंदा के माध्यम से दिव्या भारती की मुलाकात साजिद नाडियादवाला से हुईं और जल्द ही दोनों एक दूसरे के साथ प्यार में पड़ गए। 10 मई 1992 को दिव्या भारती ने नाडियाडवाला से शादी की। हालाँकि दिव्या भारती के पिता इस शादी के खिलाप थे। उन्होंने अपने विवाह के बाद इस्लाम धर्म को कबूल किया और उसका नाम दिव्या भारती से बदल कर साना नाडियाडवाला हो गया।

दिव्या भारती की मृत्यु – Divya Bharti Death Story Hindi

जब दिव्या भर्ती की करियर चरम सीमा पर थी उसी समय खबर आयी जिसने सभी को हिला कर रख दिया। अपने ही घर से गिरकर दिव्या भारती की रहस्यमय मौत हो गई थी। मुंबई पुलिस के मुताबिक दिव्या भारती की मौत एक एक्सिडेंट है। ये हादसा हुआ 5 अप्रैल 1993 को. जगह थी वर्सोवा, अंधेरी वेस्ट मुंबई के तुलसी अपार्टमेंट की पांचवी मंजिल का एक अपार्टमेंट. इस अपार्टमेंट के लिविंग रूम की खिड़की से दिव्या रात 11.30 बजे ग्राउंड फ्लोर पर गिरीं। उन्हें नजदीकी कूपर अस्पताल ले जाया गया. वहां उन्होंने दम तोड़ दिया। 7 अप्रैल को हिंदू रीति रिवाज से उनका अंतिम संस्कार पति साजिद नाडियावाला ने किया।

दिव्या की मौत के बाद कुछ लोगों ने उनकी मौत को हत्या बताया था जिसका शक उनके पति साजिद पर था। दिव्या की मौत हत्या और आत्महत्या के बीच उलझी रह गई जो आज तक नहीं सुलझ पाई। दिव्या की मौत की फाइल पुलिस फाइल बंद कर चुकी है। व्या ने उस वक्त अनिल कपूर के साथ फिल्म लाडला की तकरीबन 80 फीसदी शूटिंग पूरी कर ली थी। बाद में उनकी जगह श्रीदेवी को लेकर फिल्म पूरी की गई। इसके अलावा वह मोहरा, विजयपथ और आंदोलन की भी हीरोइन होने वाली थीं। साजिद नाडियावाला ने साल 2004 तक जो भी फिल्म बनाई, उसे दिव्या को डेडिकेट किया, फिर उनकी शादी हो गई।

दिव्या भारती की प्रसिद्द फिल्में – Divya Bharti Movies 

  • अंधा इंसाफ़ – 1993
  • थोली मुद्धू – 1993
  • शतरंज – 1993
  • क्षत्रिय – 1993
  • रंग – 1992
  • धर्म क्षेत्रम – 1992
  • शोला और शबनम – 1992
  • दीवाना – 1992
  • दिल आशना है – 1992
  • विश्वात्मा – 1992
  • दुश्मन ज़माना – 1992
  • दिल ही तो है – 1992
  • बलवान – 1992
  • गीत – 1992
  • जान से प्यारा – 1992
  • दिल का क्या कसूर – 1992
  • राउडि अल्लुडु – 1991
  • बोब्बिली राजा – 1990

और अधिक लेख – 

Please Note : – Divya Bhart Biography & Life History In Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे  Comment Box मे करे। Divya Bhart Filmography & Life Story In Hindi व नयी पोस्ट डाइरेक्ट ईमेल मे पाने के लिए Free Email Subscribe करे, धन्यवाद।

1 thought on “अभिनेत्री दिव्या भारती की जीवनी | Divya Bharti Biography In Hindi”

Leave a Comment

Your email address will not be published.