बालों की देखभाल कैसे करे: घरेलू उपाय | Hair Care Tips in Hindi

Hair Care – चाहे महिला हो या पुरुष दोनों को ही अपने बालों से बेहद लगाव होता है। और आज की धूल-धूप, प्रदूषण व बदलती लाइफ स्टाइल के कारण हमारे बालों का हाल बेहाल है। मौसम के बदलाव में हम अपने चेहरे की सुरक्षा तो कर लेते हैं परंतु अपने बालों की अनदेखी भी कर देते हैं। जिस कारण बाद में हमें कई परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं जैसे- गंजेपन, रुसी, जल्दी सफ़ेद होना आदि..। तो चलिए हम आपको बताते हैं बालों की देखभाल के कुछ आसान उपाय…

बालों की देखभाल कैसे करे: घरेलू उपाय | Hair Care Tips In Hindiइस तरह से करे बालों की देखभाल – Hair Care Tips in Hindi

  • नहाने से पहले बालों में नींबू का रस लगाएं।
  • सप्ताह में एक बार अच्छी तेल की मालिश जरूर करें।
  • बालों को बहुत अधिक कसकर नहीं बांधना चाहिए।
  • बालों में बार-बार कंघी ना करें।
  • बालों को पहले चौड़ी कंघी से सुलझाएँ फिर बारीक कंघी से सुलझाएँ।
  • भीगे बालों को प्राकृतिक हवा या धूप में ही सुखाएं।
  • बालों को सुख ना रखें तेल जरूर लगाएं।
  • बालों में रूसी एवं खाज-खुजली होने पर फौरन उपचार करें।
  • किसी शैंपू या साबुन से केश गिरने लगे तो उसे तत्काल बंद कर दें।
  • हेयर ड्रायर, हेयर स्प्रे एवं हेयर रोलर का प्रयोग कभी भी ना करें।
  • अधिक धूप गर्मी में खुले सिर सड़कों पर ना चले।

बालो के लिए उपचार – Hair Treatment at Home in Hindi

  • खाने में गाजर, ककडी, सेब, आम एवं अंगूर का प्रयोग ज्यादा करें।
  • आँवला हमारी आँखों व बालों दोनों के लिए फायदेमंद होता है। यदि आप रात में आँवला, शिकाकाई व रीठा पावडर को पानी में घोलकर सुबह इस पानी से अपने बालों को धोएँगे तो इससे आपके बाल घने व काले होंगे।
  • मुल्तानी मिट्टी 100 ग्राम एक कटोरी में लेकर पानी में भिगों दें। जब दो घंटे में यह फूलकर लुगदी सी बन जाए तो हाथ से मसल कर गाढ़ा घोल बना लें। इस गाढ़े घोल को सूखे बालों में ही डाल कर मुलायम हाथों से धीरे-धीरे रगड़ें। पांच मिनट बाद सर्दियों में गुनगुने और गर्मी में ठंडे पानी से धो लें। इस प्रकार साबुन की जगह मुल्तानी मिट्टी से बालों को हफ्ते में दो बार धोने से उसमें जबरदस्त निखार आता है और बाल रेशम के समान मुलायम और लंबे हो जाते हैं।
  • मेथी में प्रोटीन और निकोटीनिक एसिड होता है, जो बालों के लिए काफी फायदेमंद है। इस पेस्ट को बनाने के लिए मिक्सी में पानी डालकर मेथी पीस लें। थोड़ा सा नारियल का तेल डालकर इसे करीब आधे घंटे के लिए अपने बालों और स्कैल्प पर लगाएं। हल्के शैंपू के इस्तेमाल से धो लें। ये बालों के विकास के अलावा उसके प्राकृतिक रंग को भी बनाए रखेगा।
  • बाल केवल बहारी उपायों से ही सुरक्षित नहीं होते हैं बल्कि वे शरीर के अंदर मौजूद प्रोटीन और विटामिनों से ज्यादा सुरक्षित होते हैं। जिसके लिए आपको अपने आहार पर ध्यान देना चाहिए। यानि आपको अपने खाने में हरी सब्जियों, दूध, मछली व अंड़ों का प्रयोग करते रहना चाहिए। क्योंकि ये आहार आपको बालों के चिपचिपेपन से  दूर करते हैं। फलों का जूस नियमित रूप से पीते रहें। एैसे में पानी का तो कोई जवाब ही नहीं है पानी जितना पीऐगें बाल उतने ही मजबूत और सुरक्षित रहेगें।
  • शरीर में पानी नहीं है तो आपकी त्वचा और बालों के सेल बढ़ और पनप नहीं पाते हैं। अपने बालों को बढ़ने और स्वस्थ रखने के लिए और डीहाईड्रेशन (dehydration) से बचने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पिएँ।
  • एंड्रोजेनिक एलोपिशिया का तनाव से कोई सम्बंध नहीं है परंतु, तनाव के कारण बाल झड़ते हैं। अपने बालों को स्वस्थ्य रखने के लिए उन चीजों से बचे जिनकी वजह से आप की ज़िंदगी में तनाव सक्रिय होता है। तीन तरह के तनाव से बाल झड़ने की अवस्थाओं को मान्यता प्राप्त है।
  • बालों की मुख्य समस्या होती है रूसी । जो बालों को धीरे-धीरे कमजोर कर देती है। इस समस्या को दूर करने के लिए रात को सिर पर ऐलोवेरा लगाकर छोड़ दें। और सुबह पानी से बालों को धो लें। शहद और एलोवेरा को बराबर मात्रा में मिलाकर  बालों पर लगा लें और आधे घंटे के बाद बालों को धो लें।
  •  गीले बालों को तौलिए से झटक-झटककर बालों को पोंछने से बाल दो मुँहे व कमजोर होकर टूटते हैं।
  • नशे वाली सभी चीजों को बंद कर दे। चाय, कॉफी, सिगरेट, गुटखा, चरस, गांजा आदि का सेवन कभी ना करें।
  • बालों को अधिक धूप गर्मी, नमी और सूखे वातावरण से सदा दूर रखें।
  • ज्यादा चिंता, गुस्सा, कपट, तनाव या उलझन आदि से हमेशा दूर रहें।

>> बालों को पोषण देने के लिए नारियल के दूध का इस्‍तेमाल करें। नारियल का दूध बालों को पोषण तो देता ही है, साथ ही यह बालों को लंबा भी करता है।


और अधिक लेख –

Leave a Comment

Your email address will not be published.