दिमाग़ काबू मे करने का तरीका – Man Shant Kaise Kare – Mind Control Kaise Kare

13

Mind Control Kaise Kare - Man Shant Kaise Kare

Dimag Shant Kaise Kare – 

जैसे-जैसे ज़िम्मेवारी बढ़ती है मन मे अकबकाहट पैदा होने लगती हैं। क्या, क्यूँ, कैसे, ये सब दिमाग़ मे चलते रहता हैं। मन शांत ही नही रहता। आप हमेशा सोचते रहते है की मन को शांत कैसे करे, मन काबू मे कैसे करे, अपने आप को कंट्रोल कैसे करे, वैसे तो इसका उत्तर भी खुद के पास ही होता है। क्यूंकी आपको तो इतना तो पता होगा की किस प्राब्लम के वजह से आपका मन शांत नही रह रहा हैं। अगर आप इस प्राब्लम से छुटकारा चाहते है तो आप को अपने प्राब्लम से जितना होगा।

रोजमर्रा के जीवन मे हम छोटी-छोटी समस्या को इग्नोर कर देते हैं जो बाद मे बढ़ी समस्या बन जाती है, और मन मे अकबकाहट का कारण बनती है। एक बात याद रखे की समस्या सिर्फ़ आपके साथ ही नही हैं दुनिया मे हर इंसान का कुछ ना कुछ प्राब्लम रहता ही हैं। पर वो प्राब्लम को झेलता है-प्राब्लम को जीतता हैं और जीवन को खुशहाल बनाता हैं।

मन का शांत होना बहुत ज़रूरी है. ज़्यादा टेंसन मे रहने पे दिमाग़ मे असर पड़ता हैं और ब्रायन हेमरेज की आशंकाए बढ़ जाती हैं और इंसान पागल भी हो जाता। तो चलिए आज आपको कुछ जानदार टिप्स बताते हैं अपने मन मे काबू पाने का और टेंसन मुक्त रहने का।

सकारात्मक और नकारात्मक सोच – Positive & Negative Thinking :-

सकारात्मक – एक पॉज़िटिव थिंकिंग आदमी को क्या से क्या बना सकती है। अगर आपके पास पॉज़िटिव थिंकिंग है तो आप जो बनना चाहते हो आप उसे पूरा करने के लिए बहुत मेहनत करेंगे ओर सक्सेस होंगे। कभी हारने का नही सोचेंगे हर समस्या का हसते-खेलते पार करेंगे, और बेशक आप खुशहाल रहेंगे। बस दिल और दिमाग़ मे हमेशा सकारत्मक सोच रखे।

नकारात्मक – हम हमेशा कुछ करने से पहले ये सोचते रहते है की ये काम हमशे होगा या नही, और अंतत अगर ये सोच लिए की नही होगा, इसमे फैल कर जाएँगे। तो इससे आत्मविश्वास कमी आने लगता है। और हमारा दिमाग़ नकारात्मक सोचने लगता है और हमे नकारात्मक सोचने की आदत हो जाती। इससे आप कभी भी शांत नही रह पाएँगे, इसलिए नकारात्मक सोचना बंद करे।

खुद से प्यार करे – Love Your Self :- 

खुद से प्यार करना सीखिए, क्यूंकी जब तक आप खुद को नही चाहेंगे तब तक ना तो आपको दूसरे अच्छे लगेंगे ना ही दूसरे को आप। हम हमेशा अपने बारे मे सोचते रहते है की हम अच्छे है या नही तो इसका सिंपल सा जवाब हैं। अगर आप अच्छे काम कर रहे है तो बेशक आप अच्छे हैं।

इसलिए मन मे शांति लाने के लिए सबसे पहले आपको अपने आप से खुश और प्यार करना होगा, जब तक आपने द्वारा किए गये वर्क्स से खुश नही हैं तब तक आप अपने दिमाग़ को शांति नही दे सकते हैं। जो भी आप काम कर रहे हैं उसे शांत दिमाग से करो और उसपे गर्व करो बेवजह चिड़चिड़ा या गुस्से से करोगे तो ना ही वो वर्क आपका सही होगा ना ही आप प्रॉब्लम्स से उबर सकते हो।

मन की शांति के लिए अच्छी नींद ज़रूरी :-

कम सोना शरीर के लिए काफ़ी नुकसान दायक है, इससे हमारे दिमाग़ पे बहुत ज़्यादा असर पड़ता है जिससे हम पूरे दिन सोया-सोया महसूस करते हैं और हमारा दिमाग़ किसी भी कार्य पे अच्छे और जल्दी से नही लगता है। पूरा दिन मन चिड़चिड़ा रहता हैं व आँखो मे भी समस्या बनी रहती है। तो नींद पूरी ले लगभग 7 से 8 घंटे सोना शरीर के लिए काफ़ी लाभदायक है। इससे आँखो मे भी प्रॉब्लम्स नही आती और आँखे कराब भी नही होती हैं। जीतने फ्रेश आप रहेंगे उतना ज़्यादा आपका मन शांत रहेगा।

अपने आप को खुश रखे :-

अपने आप को खुश रखने की कोशिश करे अगर खुश नही रहते तो ये आपकी सबसे बड़ी प्राब्लम है। इस दुनिया मे कोई भी ऐसा नही है जो प्रॉब्लम्स मे नही हैं। सब अपने अपने प्रॉब्लम्स मे फँसे हुए हैं। अगर आपको अपनी लाइफ मे कुच्छ करना है तो आपको हर वक़्त खुश रहना पड़ेगा जिससे आपके मन मे भी शांति रहेगी। आजकल की दुनिया लोग उसी को पसंद करती है जो हँसमुख हो, अगर आप खुश होकर अपने काम को कर रहे हैं तो वो कार्य भी यूँ ही पूरा हो जाता है।

सांसो का व्यायाम – Meditation :-

दिमाग़ की शांति के लिए मेडिटेशन (साँस लेने के व्यायाम) बहुत ज़रूरी है। जो हमारे मन को काफ़ी साफ और शांत रखता है। अगर आप थके हुए और चिंतित है तो आपकी सांस ज़ोर से चलती हैं और धड़कने बढ़ती हैं। सांस रुक-रुक के आ रही हो। ऐसे समय मे आप आराम से बैठ जाए और शांति से सांस ले। इसी तरह थोड़ी देर तक साँस अंदर बाहर करे आपको अच्छा महसूस होगा और शांति लगेगा।

ब्रेअतिंग एक्सर्साइज़ (Breathing Exercises) मे आप अपने आखो को बंद करे और गहरी सांस लेकर बाहर छोड़े। ये काम आप रोजाना शुबह शाम करे जिससे आपके दिमाग़ को काफ़ी शांत और अट्रॅक्टिव रहेगा और आप पूरे दिन खुला-खुला महसूस करोगे। कोशिश करे की आप कम से कम 20 मिनिट तक ध्यान लगा सके।

अपना पसंदीदा काम करे :-

अपना पसंदीदा खेल खेले, आपको जिस चीज़ मे ज़्यादा अच्छा लगता हो उसे करे. मन को शांति मिलेगा। और गाने हमारे दुख मे मरहम की तरह काम करती है इसलिए अपने पसंद के गाने सुने।

बुरी आदतो को अलविदा करे – Ignore Bad Habits :-

बुरी आदतो को अलविदा कहे. बुरी चीज़ कभी भी लाभदायक नही होती वो आज ना कल आपको प्राब्लम करेगी। अगर आपको अपने माइंड को साफ रखना है तो आपको ये ग़लत चीज़े जैसे शराब, सिगरेट, बीड़ी, तंबाकू का सेवन नही करना पड़ेगा।

बहुत से फ्रेंड्स शराब अपना टेंसन कम करने के लिए पीते हैं। सिगरेट स्ट्रेस मिटाने के लिए। पर दोस्तो ये बुरी चीज़े सचमुच आपके टेंसन या स्ट्रेस कम नही बल्कि ये आपके दिमाग़ का काम करना बंद कर देते हैं और आप बिना टेंसन के रहते हो। ये ग़लत चीज़े आपको उस वक़्त आपको शांत तो करते हैं पर आपके शरीर को कितना नुकसान हो रहा हैं ये आपको थोड़े दीनो बाद चलेगा। जब आपको बहुत सी बीमारिया आएगी और आप हर वक़्त हॉस्पिटल के चक्कर काटते रहोगे. सो कृपया इसे छोड़ दे।

बुरी संगति से दूर रहे :-

कई बार आपको कई बातें नाराज़ करती है आप उस बात से दुखी हो जाते है। कई ऐसे दोस्त भी रहते हैं जो आपको जानबूझ कर टेंसन देते है। ऐसे लोगो से बचे इनसे दूर रहे अपने कामो मे मशगूल रहे। आप बड़ी कूल महसूस करेंगे।

लेकिन कई ऐसी बातें भी होती है जिनसे दूर भागना भी हानिकारक है आप चाह के भी उससे दूर नही जा सकते हैं। जो आपको बहुत सताती है। ऐसे वक्त मे कही शांति से बैठ जाए और आराम से सोचे की कौनसा डिसीजन सही रहेगा, और वही करे।

मन लगाने के लिए अपनो के साथ रहे :-

कई बुद्धजिवियों का कहना हैं की अपने परिवार, आपको पसंद करने वाले दोस्तो के साथ समय बिताने से दिमाग़ का दरवाजा खुलता हैं। और आप हमेशा शांति मसूस करेंगे। आप अपने अंदर की बात उनके साथ सेयर करे फिर देखे आपको ख़ुसी मिलती है या नही, आपके दुख बेशक कम हो जाएँगे।

मन की शांति के लिए योगा करे :- 

योगा रामबाण हैं अपने दिमाग़ को शांत और काबू करने का। योगा शुबह-शाम खुली हवा मे करने से आप साफ हवाँ साँस ले सकते हैं। योगा से आप अपने शरीर को हिला दूला सकते हैं और अपने आप को तंदुरुस्त रख सकते हैं। योगा करने से मंन काबू मे तो रहता ही है साथ ही साथ हेल्थ भी पर्फेक्ट हो जाती है। योगा की प्रॅक्टीस आप रोजाना आधे घंटे से एक घंटे तक कर सकते हैं ऐसा करने से आपके दिमाग़ और बॉडी रिलॅक्स रहेगा।


ये भी ज़रूर पढ़े – Also Read More :- 

Please Note : – Man Kabu Me Kaise Kare – Man Shant Kaise Kare मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे करे. Dimag Ko Shant Kaise Rakhe & How to Control Mind and Thoughts Tips In Hindi व नयी पोस्ट डाइरेक्ट ईमेल मे पाने के लिए Free Email Subscribe करे, धन्यवाद।

13 COMMENTS

  1. Sir I am gay BT mai isse expose nahi karna chahta BT mere dost kabhi kabhi mujhe gay ya aur kahte h ya koi aur….BT mai ye sochta rahata hu Ki usne ye baat kase nahi please help me mai an bahut sad rahta hu unki baat sochkar sir mai gay hu mai sochta hu mera future kya hoga plz helpe

    • Apko is bare me bilkul chinta nahi karna chahiye. ur logo ka kaam hain kuch bhi bolna. aap un bato ko ignore kare. apna work pe dhyan de. aap jab life me kuch ban jayenge tab vahi lo aapko salaam karenge. agar aapko unlogo ko karara javaab dena hain to apna career par dhyan de. faltu baato par nahi.

  2. Sir me bachapan se aise vykti se pyar karati hu jo he hi nahi aur ab muje aadat pad chuki he es sb ki mwri shadi khatam hogai he me akele apne bache sambhal rahi hu pr ye thoughts mera picha nahi chodte pls me kya karu me mere jindgika akelapn kese dur karu bataye aese me mr jaungi lagta he

    • Hello Mam, Aapko Aisa isliye lgta hain kyunki aap bahut tension leti ho, jis karan aap akelapan ka shikar ho gaye hain. apko lgta hain aap bahut akele hain, lekin aap bhul jate hain ki aap ke sath aapke bachhe bhi hain, joki khuda ka diya hua apka sabse bada taufa hain. agar aap khud ko strong nahi karenge to apka bachho ka kya hoga? unka Future kaun sambhalega?. aap jis tension me abhi rahte hain vo tension apke bachho me aa jayega. isliye jo bit gya use bhulne ka koshis kare, apne aap ko busy rkhe, dimag shant karne ke liye meditation kare. kitabe padhe, quote padhe, aur sath hi dharmik chijo se jude. duniya me time pass krne ka bahut jariya hain aap khud ko busy rkh sakte hain.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here