उत्तराखण्ड की जानकारी, तथ्य, इतिहास – Uttarakhand information in hindi

Uttarakhand Information / उत्तराखण्ड उत्तर भारत में स्थित एक राज्य है। उत्तराखंड में कई धार्मिक स्थानों और पूजन स्थल होने के कारण इस उत्तराखंड को ‘देव भूमि’ या ‘भगवान की भूमि’ भी कहा जाता है। इसे भक्ति और तीर्थयात्रा के लिए सबसे पवित्र और अनुकूल स्थान माना जाता है। उत्तराखंड देश की उन चुनिन्दा जगहों में है जो अपनी सुन्दरता के चलते दुनिया भर के पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती है। आइये जाने उत्तराखंड के बारे में और अधिक जानकारी.. 

uttarakhandउत्तराखण्ड की जानकारी एक नजर में – Uttarakhand Information, Fact & History In Hindi, 

1). उत्तराखण्ड की स्थापना 9 नबंवर 2000 को हुई थी।

2). उत्तराखण्ड की राजधानी देहरादून है।

3). यहाॅ की राजकीय भाषा हिंदी है।

4). उत्तराखण्ड में जिलाें की संख्या 13 है।

5). राज्य में विधान सभा की 70 लाेकसभा की 5 और राज्य सभा की 3 सीटें हैं।

6). इस राज्य के उत्तर में जहाँ तिब्बत है वहीँ इसके पूरब में नेपाल देश है। जबकि इसके दक्षिण में उत्तर प्रदेश और उत्तर पश्चिम में हिमाचल प्रदेश है।

7). उत्तराखण्ड का सर्वाधिक ऊॅचाई पर्वत शिखर नन्दादेवी है।

8). यहॉ का राजकीय पक्षी ‘हिमालयन मोनाल’ है।

9). यहॉ का राजकीय पशु ‘कस्तूरी मृग’ है।

10). यहॉ का राजकीय फूल ‘कमल’ है।

11). यहॉ का राजकीय वृक्ष ‘बुरांस’ है।

12). इस राज्य के सबसे बडे शहर देहरादून, बागेश्वर, रानीखेत, कौसानी, औली, रूद्रप्रयाग, हरिद्वार हैं।

13). यहॉ की प्रमुख फसलें चाय, दलहन, तिलहन हैं।

14). राज्य में सडकों की कुल लंबाई 29939 किमी है।

15). उत्तराखण्ड प्रोजेक्ट शिक्षा प्रारम्भ करने वाला देश का पहला राज्य है।

16). देश की पहली आई . टी हिंदी प्रयोगशाला 6 फरवरी 2003 काे देहरादून में स्थापित की गई है यह प्रयोगशाला माइक्रोसाफ्ट कार्पोरेशन लि. के सहयोग से शुरू की गई है।

17). यदि उत्तराखंड के इतिहास के बारे में बात करें तो कहा जा सकता है कि इसका संदर्भ कई हिंदू पुराणों में मिलता है, लेकिन इसके इतिहास को सबसे अच्छे तरीके से गढ़वाल और कुमाउं के इतिहास के माध्यम से समझा जा सकता है।

18). सन् 2007 में इस राज्य का नाम आधिकारिक रुप से उत्तरांचल से बदलकर उत्तराखंड कर दिया गया था।

19). उत्तराखंड की हाई कोर्ट नैनीताल में है जो राज्य का एक और महत्वपूर्ण शहर है।

20). 9 नवंबर 2000 में एक अलग औपचारिक राज्य बनने के बाद यह अपने आप में पूर्ण राज्य बन गया। इस प्रदेश का निर्माण देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश से अलग राज्य बनाकर किया गया।

 

21). राज्य की अर्थव्यवस्था हाल ही में कुछ तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्थाओं में शामिल है। कृषि उत्तराखंड की अर्थव्यस्था का महत्वपूर्ण आधार है । चावल, सोयाबीन, गेंहू, मूंगफली, दालें, मोटे अनाज और तिलहन यहां मुख्य फसलेें हैं।

22). उत्तराखंड की दो प्रमुख क्षेत्रीय भाषाएं गढ़वाली और कुमाउंनी हैं, लेकिन हिंदी सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा है।

23). उत्तराखंड में पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं, चाहे वो प्रकृति, वन्यजीवन, एडवेंचर या तीर्थ स्थल कुछ भी क्यों ना हो। यहां के प्रमुख स्थानों में हरिद्वार, ऋषिकेश, देहरादून, मसूरी, अल्मोड़ा, केदारनाथ, बद्रीनाथ, यमुनोत्री, गंगोत्री, जिम काॅर्बेट नेशनल पार्क नैनीताल, रानीखेत और पिथौरागढ़ है।


और अधिक लेख –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here