एथलेटिक्स उसैन बोल्ट की जीवनी | Usain Bolt Biography in Hindi

Usain Bolt in Hindi / उसैन बोल्ट जिनका पूरा नाम सेंट लियो उसैन बोल्ट (Usain St. Leo Bolt) हैं जो की जमैका के एक धावक और तीन बार ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता हैं। वे दुनिया के सबसे प्रतिभाशाली एथलिट हैं। उसैन बोल्ट एकमात्र ऐसे इंसान हैं जिन्होंने खुद के रिकॉर्ड को कई बार तोड़कर इतिहास को दोहराया है। वे 100 मीटर और 200 मीटर और अपनी टीम के साथियों के साथ 4×100 मीटर रिले दौड़ के विश्व रिकार्डधारी हैं।

एथलेटिक्स उसैन बोल्ट की जीवनी | Usain Bolt Biography in Hindi

उसैन बोल्ट का परिचय – Usain Bolt Biography in Hindi

1984 में कार्ल लुईस के बाद 2008 के बोल्ट ग्रीष्मकालीन ओलंपिक में एकल ओलंपिक की तीनों दौड़ जीतने वाले और एकल ओलंपिक की तीनों दौड़ों में विश्व रिकॉर्ड बनाने वाले पहले व्यक्ति बन गये। इसके साथ ही 2009 में वे 100 और 200 मीटर स्पर्धा में ओलंपिक खिताब पाने वाले भी पहले व्यक्ति बने। अपनी इसी जीत को उन्होंने 2012 के लन्दन ओलिंपिक खेलो में भी बरक़रार रखा और गोल्ड मैडल जीतकर अपना नाम विश्व इतिहास की किताब में दुनिया के सबसे तेज धावक के रूप में दर्ज किया।

अपने 30 वे जन्मदिन के एक दिन पहले ही 2016 के रिओ ओलिंपिक खेलो में उन्होंने गोल्ड मैडल जीतकर अपनी जीत का तिहरा पूरा किया और विश्व के इतिहास में ऐसा करने वाले पहले खिलाडी भी बने। उसैन बोल्ट 100 मीटर 200 मीटर के दुनिया में सबसे तेज धावक हैं।

प्रारंभिक जीवन – Early Life of Usain Bolt 

उसैन बोल्ट का जन्म जमैका में एक छोटे शहर ट्रेलानी के शेरवुड कंटेंट गावं में 21 अगस्त 1986 को हुआ था। इनके माता-पिता जेनिफर और वेलेस्ली बोल्ट हैं, वे गांव में एक किराने की दूकान चलाते थे। उसैन बोल्ट अपने भाई सडीकी और बहन शेरिना के साथ गांव में ही खेलते-कूदते बड़े हुए। बोल्ट ने अपना बचपन अपने भाई के साथ गली में क्रिकेट और फुटबॉल खेलकर बिताया। बोल्ट ने बचपन में ही ठान ली थी की बड़े होकर एक खिलाडी बनना हैं।

उन्होंने एक इंटरव्यू में भी कहा था की “”जब मैं छोटा था, तो मैं सचमुच खेल के अलावा किसी दूसरे के बारे में सोच भी नहीं सकता था।”

बोल्ट ने अपनी शुरुवाती शिक्षा गांव के ‘Waldensia Primary’ स्कूल से ली। साथ ही उन्होंने अपने ग्रामीण क्षेत्र के लिए अपने वार्षिक राष्ट्रीय प्राथमिक स्कूल प्रतियोगिता में दौड़कर उपनी अपनी धावक संभावना को प्रदर्शित किया। जब उनकी उम्र 12 वर्ष थी तब वे 100 मीटर दौड़ में अपने स्कूल के सबसे तेज धावक बन गये।

14 साल की उम्र में ही पश्चिम जमैका की स्थानिक चैंपियनशिप में अपनी दौड़ने की गति देखकर उनकी आँखे खुल गयी थी। इसके बाद उन्होंने लंबी कूद में भी भाग लेना शुरू किया और लंबी कूद में उन्होंने अपनी स्कूल के लिए ब्रोंज मैडल भी जीता है। उन्होंने आगे की पढ़ाई ‘William Knibb Memorial High School’ से की थी।

करियर – Career

शुरुवाती दिनों में उसैन अपने साथियों की तुलना में लगातार आगे बढ़ते रहने के बाद बोल्ट लंबी कूद में काफी मैडल जीतने लगे और कहा जाता है की क्रिकेट खेलते समय भी वे एक तेज गति के गेंदबाज की भूमिका निभाते थे। इस तरह से उन्होंने एक ताज धावक का परिचय दिया। उन्होंने अपना परिशिक्षण Pablo McNeil नामक एक पूर्व धावक से ली थी।

2002 में उन्होंने विश्व जूनियर चैंपियनशिप में भाग लिया और 200 मीटर में स्वर्ण पदक जीतकर अलग पहचान बनाई और इससे वे प्रतियोगिता के सबसे कम उम्र के स्वर्ण पदकधारी बन गये। 2004 के CARIFTA खेलों में 19.93 सेकंड समय के साथ 20 सेकेंड श्रेणी में दौड़कर वे पहले जूनियर धावक बन गये और उन्होंने रॉय मार्टिन के एक सेकेंड के दो दहाई समय में बने विश्व जूनियर रिकार्ड को तोड़ दिया।

बोल्ट 2004 तक वे एक पेशेवर धावक बन गये, पर चोटों के कारण पहले 2 सीजन की ज्यादातर स्पर्धाओं में नहीं खेल पाये, लेकिन वह ओलंपिक में 2004 के ग्रीष्मकालीन ओलंपिक की स्पर्धाएं पूरी कीं. 2007 में, उन्होंने 200 मीटर जमैकन राष्ट्रीय रिकार्डधारी डॉन क्वैरिज को 19.75 सेंकेंड समय लेकर हराया। मई 2008 में, बोल्ट ने 9.72 सेकेंड के समय के साथ 100 स्पर्धा में विश्व रिकॉर्ड बनाया।

इसके बाद 2008 के बीजिंग ग्रीष्मकालीन ओलंपिक में 100 मीटर और 200 मीटर दोनो स्पर्धाओं में विश्व रिकॉर्ड कायम किया: 100 मीटर में समय 9.69 था और इस तरह उन्होंने 9.72 समय लेकर अपना ही रिकार्ड तोड़ा और 200 मीटर स्पर्धा में उन्होंने 19.30 सेकेंड लेकर 1996 के अटलांटा ग्रीष्मकालीन ओलंपिक में माइकल जॉनसन का 19.32 सकेड का रिकॉर्ड तोड़ दिया।

दिन रात संघर्ष और मेहनत कर वे लगातार चैंपियनशिप जीतते चले जा रहे थे और ओलिंपिक खेलो के साथ-साथ बहुत से स्थानिक खेलो में भी उन्होंने जीत दर्ज की। जिनमे मुख्य रूप से बीजिंग, लन्दन और रिओ के ओलिंपिक खेलो की जीत और बर्लिन, डेगू, मास्को और बीजिंग की IAAF वर्ल्ड टी & एफ चैंपियनशिप भी शामिल है।

जुलाई 2012 में जब उन्होंने किंग्स्टन में IAAF वर्ल्ड जूनियर टी & एफ चैंपियनशिप जीती, तब मेजबान देश के लिए गोल्ड मैडल जीतने वाले वे पहले धावक थे और 200 मीटर की दौड़ उन्होंने मात्रा 20.61 सेकंड में पूरी कर ली। इन खेलो में बोल्ट ने तीन मैडल जीते, जिनमे दो सिल्वर मैडल भी शामिल है। साथ ही वे इन खेलो में 4*100 टीम का भी हिस्सा थे।

दौड़ में उनकी उपलब्धियों के कारण मीडिया की ओर से उन्हें “लाइटनिंग बोल्ट” का उपनाम मिला। हालाँकि उनका करियर इतना आसान भी नही रहा, कई बार चोटों ने भी उनके मौको पर पानी पानी फेरा है। एक समय ऐसा भी आया जब बोल्ट के जीवन में उनकी लोकप्रियता उनके लिए परेशानी का विषय बनने लगी थी। अब बोल्ट का ध्यान अपने एथलेटिक्स करियर से हटने लगा था और वह मनचाहे फास्ट फूड और पार्टियों को वरीयता देने लगे थे इसी बीच उनका प्रदर्शन काफी प्रभावित हुआ।

और वह पहला ओलंपिक 2004 में 200 मीटर की रेस को बुरी तरह से हार गए और काफी depress भी हो गए तभी उन्हें समझ आ गया था कि बिना हार्ड वर्क किए बिना वह नहीं जीत सकते वह अपनी प्राकृतिक क्षमताओं पर निर्भर नहीं रह सकते।

अवार्ड्स और उपलब्धिया – Usain Bolt Awards

दुनिया के सबसे तेज धावक उसैन बोल्ट के नाम कई अवार्ड्स भी हैं। उन्हें चार बार (2009, 2010, 2013 और 2017) उसैन बोल्ट को लॉरेस वर्ल्ड स्पोर्ट्समैन ऑफ़ दी इयर के अवार्ड से नवाजा गया है। साथ ही छः बार (2008, 2009, 2011, 2012, 2013 और 2016) बोल्ट को IAAF मेल एथलिट ऑफ़ दी इयर के अवार्ड से नवाजा गया है। वे दुनिया के दूसरे सबसे ज्यादा कमाई करने खिलाडी भी हैं।

उसैन बोल्ट दुनिया के कई नामी कम्पिनो के ब्रांड एम्बेस्डर भी हैं। PUMA के साथ संयोजित रूप से उनकी खुद की कपडो की कंपनी भी है। उनकी खुद की घडी का निर्माण हुब्लोट ने किया है। जमैका के किंग्स्टन में ‘ट्रैक & आर्डर’ नाम का उनका खुदका रेस्तौरेंट भी है। चैंपियन शेव के नाम से उनकी एक शेविंग कंपनी भी है।

उसैन बोल्ट जरुरतमंदो के लिए “उसैन बोल्ट फाउंडेशन” नाम की एक संस्था भी रखी हैं। जो की गरीबो और जरुरतमंदो को हेल्प करती हैं।


और अधिक लेख –

Please Note :- I hope these “Usain Bolt Information & History in Hindi” will like you. If you like these “Olympic athlete Usain Bolt Biography & Story in Hindi” then please like our facebook page & share on whatsapp.

Leave a Comment

Your email address will not be published.