बर्रे-ततैये काटने का घरेलु उपचार | Tataiya Ke Katne Ka Ilaj

ततैया (wasp) एक प्रकार का कीट होता है। यह भी मधुमक्खी की ही भांति एक उड़ने वाली प्रजाति की ही जीव हैं। इन दोनों में बहुत ज्यादा अंतर नहीं होता हैं। ततैया ज्यादातर लोगों के घरों में या पानी के आस–पास मंडराती नजर आती हैं। ऐसे ही मंडराते – मंडराते हुए अचानक से यह किसी भी व्यक्ति को काट लेती हैं। ततैया के डंक भी जहरीले होते। इसके काटने के बाद भी जलन, दर्द और सूजन होनी शुरू हो जाती हैं। आइये जाने ततैया काटने पर इसका इलाज कैसे करे.. 

बर्रे-ततैये काटने का घरेलु उपचार | Tataiya Ke Katne Ka Ilajततैये के काटने का घरेलु आयुर्वेदिक उपचार – Wasp Bite Treatment in Hindi

  • बर्रे-ततैये के डंक मारने पर तत्काल उसे स्थान पर लोहे की पत्ती या कोई छड़ रगड दें और ऊपर से गीले चूने का लेप कर दे। विष उतर जाएगा।
  • ततैया के काटने पर घाव को ठीक करने के लिए जिस जगह पर ततैया ने काटा हैं उस पर निम्बू का रस लगाए. केवल निम्बू के रस को लगाने से घाव को जलन और दर्द से  राहत मिलती हैं।
  • ततैये के डंक मारने पर हरी मिर्च पीसकर लेप कर देने से तत्काल आराम मिलता है।
  • मधुमक्खी के काटने पर सोंठ, केसर और तगर का संभाग लेकर जल के साथ पीसकर डंक की जगह पर लेप कर दें। फौरन आराम मिलेगा।
  • मधुमक्खी के डंक मारने पर प्याज काट कर तत्कार रगड़ देनी चाहिए। इस दंशित व्यक्ति को तत्काल शांति मिलेगी।
  • लाल-पीले ततैये के डंक मारने पर, डंक की जगह मूली काटकर रगड़े। तत्काल आराम मिलेगा।
  • अर्क कपूर लगाने से ततैये तथा अन्य छोटे-मोटे विषैल कीटो आदि का विष फौरन नष्ट हो जाता है।
  • बर्रे ततैये के डंक के स्थान पर आक के पत्ते का दूध मल दे। तत्काल लाभ मिलेगा।
  • मिट्टी के तेल की फुलवारी बनाकर डंक के स्थान पर लगाने से बर्रे के दंश मव शीघ्र ही लाभ होता हैं।
  • दियासलाई के मसाले को जल में भिगोकर डंक के स्थान पर लगाने से लाभ होता है।

>> चौलाई की जड़ को पीसकर गाय के घी के साथ पीने से कीड़ों का जहर नष्ट होता है।

>> हरे धनिये का रस निकालकर , उसमें सिरका और कपूर मिलाकर काटे हुए स्थान पर लगाने से बर्र, ततैया, मधुमक्खी आदि के दंश में लाभ होता है।


और अधिक लेख –

Leave a Comment

Your email address will not be published.