रोहित शर्मा की जीवनी और रिकार्ड्स | Rohit Sharma Biography in Hindi

Rohit Sharma / रोहित शर्मा जिनका पूरा नाम रोहित गुरूनाथ शर्मा, एक भारतीय क्रिकेटर हैं। इन्हें विश्व के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज में रखा जाता है। यह दुनिया का एकमात्र ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने वनडे में 2 दोहरा शतक लगाया है। रोहित एक दाए (सीधे) हाथ के बल्लेबाज है और कभी-कभी राईट-आर्म ऑफ-ब्रेक बोलिंग (गेंदबाजी) भी कर लेते है, घरेलु क्रिकेट में वे मुंबई इंडियन्स के लिये खेलते है। आईपीएल में वे मुंबई इंडियन्स के कप्तान है।

रोहित शर्मा की जीवनी और रिकार्ड्स | Rohit Sharma Biography in Hindi

रोहित शर्मा की जीवनी – Rohit Sharma Biography in Hindi

रोहित शर्मा का जन्म महाराष्ट्र के नागपुर ज़िले के बंसोड़ क्षेत्र में 30 अप्रैल 1987 को हुआ था। इनके पिता का नाम गुरुनाथ शर्मा हैं जो किसी परिवहन कम्पनी में देखभाल करने वाले (caretaker) है। शर्मा का लालन पालन बोरीवली में उनके दादा और चाचा के साथ हुआ था क्योंकि उनके पिता की आय काफी कम थी। इनका एक छोटा भाई भी है जिसका नाम विशाल शर्मा है।

रोहित बचपन से ही क्रिकेट के प्रति आकर्षित थे, बाद में जाकर उसके चाचा ने उन्हें क्रिक्रेट कैंप में भर्ती करवा दिया। उस समय रोहित के कोच दिनेश लाड थे और उन्होंने कहा था कि तुम अपनी विद्यालय को बदल कर स्वामी विवेकानंद इंटरनेशनल स्कूल में आ जाओ क्योंकि लाड वहीं पर कोच के पद पर कार्यरत थे इस कारण रोहित को क्रिकेट खेलने में ज्यादा सुविधा मिल सके।

उस समय रोहित को उस विद्यालय में जाने का मौका नहीं मिल पाया था और तब उन्होंने छात्रवृत्ति के लिए भी मांग की थी। बाद में रोहित ने अपने क्रिकेट कैरियर की शुरुआत एक ऑफ़ स्पिनर के तौर पर की थी लेकिन बाद में लाड ने शर्मा को सलाह दी की तुझमें बल्लेबाज की काबिलियत ज्यादा है इसलिए एक अच्छा बल्लेबाज बनने का प्रयास करो, तब रोहित आठवें नम्बर पर बल्लेबाजी करते थे और लाड ने बाद में इनको ओपनिंग करने के लिए भेजना शुरू किया। जैसे ही रोहित ने बल्लेबाजी में मुख्य कदम रखा और पहली बार ओपनिंग की उस मैच में अपना पहला शतक जड़ा था।

क्रिकेट करियर –

रोहित शर्मा की बल्लेबाजी कई कोचों को प्रभावित कर गई थी इसके फलस्वरूप 2005 के देवधर ट्राफी में सेंट्रल जोन के खिलाफ पश्चिमी क्षेत्र के लिए उनका चयन हो गया। उसके बाद उसी प्रतियोगिता के एक मैच में रोहित ने शानदार बल्लेबाजी की और महज 123 गेंदों पर जबरदस्त 142 रन बनाए यह मैच नार्थ जॉन के खिलाफ उदयपुर में खेला गया था। इस शतक से रोहित को काफी फायदा हुआ। इसके बाद अबू धाबी में भारत ए की तरफ से खेलते हुए हुए रोहित ने शानदार प्रदर्शन किया और बाद में चैंपियंस ट्रॉफी के लिए 30 सदस्य टीम में चुना गया। हालांकि अंतिम सदस्य टीम में रोहित को जगह नहीं मिल पायी थी इसके बाद इन्होंने अपने रणजी ट्रॉफी शुरुआत की और बाद में एन के पी सेल्व चैलेंज ट्रॉफी में भी चुने गए।

शर्मा ने लिस्ट ए क्रिकेट के बाद प्रथम श्रेणी क्रिकेट की शुरुआत भारत ए के लिए न्यूजीलैंड ए के खिलाफ जुलाई 2006 में डार्विन में की थी। इन्होंने रणजी ट्रॉफी कैरियर की शुरुआत मुम्बई क्रिकेट टीम के लिए 2006/07 में की थी। उस दौरान रोहित ने गुजरात टीम के खिलाफ 267 गेंदों पर शानदार 205 रन बनाए थे। रोहित ने फाइनल मुकाबले में बंगाल के खिलाफ अर्द्धशतक से मुम्बई प्रतियोगिता में बना रहा।

उन्होंने 20 साल की उम्र में अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर की शुरुवात की थी, जल्द ही विश्लेषको ने रोहित के बल्लेबाजी के हुनर को देख लिया तो और कुछ ही समय बाद उन्हें भारतीय क्रिकेट टीम में शामिल कर लिया गया था। 23 जून 2007 को उन्होंने आयरलैंड के खिलाफ एकदिवसीय मैच में पर्दापण किया था। 2013 में भारतीय एकदिवसीय टीम के वे ओपनिंग बल्लेबाज बने और तब से लेकर आज तक वे ओपनिंग बल्लेबाज के रूप में प्रदर्शन कर रहे है। नवम्बर 2013 को कोलकाता के ईडन गार्डन पर अपने पहले दो टेस्ट मैच में उन्होंने वेस्ट इंडीज के खिलाफ एक के बाद एक 2 शतक लगाये, ईडन गार्डन पर उन्होंने 177 की पारी खेली थी और दुसरे टेस्ट में वानखेड़े स्टेडियम पर नाबाद 111 रनों की पारी खेली थी। अपना पहला टेस्ट खेलने से पहले वे 108 एकदिवसीय मैच खेल चुके थे।

रहित शर्मा का क्रिकेट रिकार्ड्स – Rohit Sharma Record in Hindi

2010 में रोहित शर्मा दुनिया के ऐसे पहले बल्लेबाज बन गए जिन्होंने एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में 264 से ज्यादा रन बनाए हो और साथ ही दो बार दोहरे शतक लगाए हो। इन्होंने एक बार फिर कोलकाता के ईडन गार्डन्स पर कारनामा किया और श्रीलंका टीम के खिलाफ 264 रनों की पारी खेली थी और पूरे क्रिकेट जगत को दंग कर दिया था। इससे पूर्व भारत के ही वीरेंद्र सहवाग का सर्वाधिक 219 रनों का स्कोर था।

02 अक्तूबर 2015 को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 मैच में एचपीसीए क्रिकेट स्टेडियम, धर्मशाला, हिमाचल प्रदेश में शानदार बल्लेबाजी करते 106 रनों की पारी खेली थी इसके साथ ही रोहित दूसरे भारतीय ऐसे खिलाड़ी बन गए जिन्होंने ट्वेन्टी-ट्वेन्टी क्रिकेट में शतक लगाया हो, इससे पूर्व यह कारनामा सुरेश रैना के नाम था। इसके साथ ही रोहित ऐसे पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए जिन्होंने सभी प्रारूपों में शतक लगाये हो। फिर 11 अक्तूबर दौरे का पहला वनडे मैच खेला गया जिसमें 133 गेंदों का सामना करते हुए 150 रन बनाए थे हालांकि वह मैच भारत अफ्रीका के 303 रनों का पीछा करते हुए हारी थी। फिर बाद में एक अन्य श्रृंखला जो ऑस्ट्रेलिया में हुई थी वहां पर रोहित ने एक बार फिर लगातार दो शतक लगाए और श्रृंखला के अंतिम मैच में 99 रनों की पारी खेली थी।

रोहित शर्मा इंडियन प्रीमियर लीग में सफल खिलाड़ियों में से एक है और ये अन्तिम गेंद पर छक्के से जीताने में काफी क्षमता रखते है। अब तक इनके नाम आईपीएल में एक शतक और एक तिकड़ी भी है। रोहित शर्मा ने पहली बार 2008 आईपीएल में 750,000 यूएस डॉलर के लिए डेक्कन चार्जर्स के लिए हस्ताक्षर किया था। ये 2008 इंडियन प्रीमियर लीग में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ियों में से एक थे जिन्होंने 36.72 की औसत से कुल 404 रन बनाए थे। इस कारण इनको 2008 आईपीएल में कुछ मैचों में ऑरेन्ज कैप पहनने का मौका भी मिला था।

रोहित शर्मा जब 2011 इंडियन प्रीमियर लीग में रिकी पोंटिंग ने आईपीएल से संन्यास लिया था तब से मुम्बई इंडियन्स टीम के कप्तान है और आईपीएल के शीर्ष तीन कप्तानों में गिने जाते है। रोहित 2008 से 2010 तक डेक्कन चार्जर्स के लिए खेले थे जबकि 2011 से अब तक मुम्बई इंडियन्स के लिए खेल रहे है जिसमें दो बार 2013 और 2015 में टीम को विजेता भी बनाया है। इनके अलावा रोहित की कप्तानी में मुम्बई दो बार चैंपियंस लीग टी20 भी जीतने में कामयाब रहा है पहली बार 2011 तथा दूसरी बार 2013 में।

12 जनवरी 2016 को पर्थ में भारत और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले जाने वाले अंतर्राष्ट्रीय एकदिवसीय मैच में रोहित ने नाबाद 171 रन बनाये। ऑस्ट्रेलिया में किसी भी बाहरी बल्लेबाज द्वारा एक पारी में बनाये जाने वाले यह सर्वाधिक रन है।

रोहित शर्मा ने एक पारी में 16 छक्के मारकर एकदिवसीय मैच में एक पारी में सर्वाधिक छक्के मारने का रिकॉर्ड बनाया। बाद में एबी डीविलिअर्स ने वेस्ट इंडीज के खिलाफ 16 छक्के मारकर इस रिकॉर्ड की बराबरी की थी। और इसके बाद क्रिस गेल ने भी ज़िम्बाब्वे के खिलाफ 16 छक्के मारे थे।

अवार्ड्स –

  • रोहित शर्मा को भारत सरकार द्वारा 2015 में अर्जुन पुरस्कार मिला, जिसे भारत सरकार द्वारा भारत में राष्ट्रीय खेल में उत्कृष्ट उपलब्धियों की पहचान के लिए हर साल प्रस्तुत किया जाता है।
  • रोहित शर्मा वनडे में 2 दोहरे शतक लगाने के लिए, ESPN द्वारा सन 2013 और 2014 के लिए सर्वश्रेष्ठ वनडे बल्लेबाजी का प्रदर्शन करने वाले व्यक्ति घोषित किये गए।

और अधिक लेख –

Leave a Comment

Your email address will not be published.