अभिनेता ऋषि कपूर की जीवनी | Rishi Kapoor Biography in Hindi Language

Rishi Kapoor / ऋषि कपूर एक भारतीय फिल्म के मशहूर अभिनेता-निर्माता और निर्देशक हैं। ऋषि कपूर अपने जमाने में चॉकलेटी हीरो के रूप में जाने जाते हैं। ऋषि कपूर बॉलीवुड फ़िल्म इंडस्ट्री में काम करते है और सबसे ज्यादा पैसा कमानेवाले अभिनेता में उनका नाम आता है। एक्टर के करियर की बात करें तो उन्होंने राज कपूर की फिल्म ‘मेरा नाम जोकर’ से बॉलीवुड की दुनिया में अपना कदम रखा था। अपने डेब्यू रोल के लिए ऋषि कपूर को नैशनल फिल्म अवॉर्ड से भी नवाजा गया था।

Rishi Kapoor Biography In Hindi Language, Rishi Kapoor Filmography & Life Story In Hindi

Rishi Kapoor ka Jivan Parichay

ऋषि कपूर एक ऐसे खानदान से ताल्लुक रखते जिसनें बॉलीवुड के 100 सालो में से 85 वर्ष का योगदान दिया है। वह कपूर खानदान की तीसरी पीढ़ी हैं। ऋषि कपूर ने अपने फ़िल्मी करियर में दर्जनों फ़िल्में की हैं। इस दौरान उन्होंने कई अवार्ड भी अपने नाम किये। साल 2008 में ऋषि कपूर को फिल्म फेयर लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से भी नवाजा गया। इससे पहले उनकी पहली फिल्म में शानदार भूमिका के लिए 1971 में राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार प्राप्त किया। हालंकि ऋषि कपूर अभी बॉलीवुड में एक सक्रीय अभिनेता हैं। उन्होने कई यादगार रोमांटिक फ़िल्मे की हैं।

प्रारंभिक जीवन – Early Life of Rishi Kapoor

ऋषि कपूर का जन्म 4 सितम्बर 1952 को मुंबई के चेंबूर में कपूर घराने मे हुआ। ऋषि कपूर बॉलीवुड के शो मैन यानी स्वर्गीय राज कपूर के मंझले बेटे और अपने जमाने के मशहूर निर्माता निर्देशक-अभिनेता प्रूथ्‍वीराज कपूर के पोते है। राज कपूर की माँ का नाम कृष्णा राज कपूर है। ऋषि कपूर का निक नेम चिंटू हैं। ऋषि कपूर के दो भाई हैं। रणधीर कपूर और राजीव कपूर। ऋषि कपूर के दोनों भाई उन्ही के तरह बॉलीवुड अभिनेता हैं। ऋषि कपूर ने अपनी प्रारम्भिक शिक्षा अपने भाईयोँ के साथ कैंपियन स्कूल, मुंबई और उसके बाद आगे की पढ़ाई मेयो कॉलेज अजमेर से पूरी की।

लव अफेर और शादी – Rishi Kapoor Love Affair

ऋषि कपूर अपने जमाने के चॉकलेटी हीरो थे, तो अफेयर होना लाजमी है, नीतू से शादी होने से पहले ऋषि कपूर ने यास्मीन नाम की लड़की को डेट किया था। कहा जाता है कि ‘बॉबी’ की शूटिंग के दौरान डिम्पल को ऋषि पसंद करने लगे थे। उन्हें प्रपोज करना चाहते थे, लेकिन डिम्पल ने अचानक राजेश खन्ना से शादी कर सभी को चौंका दिया। बता दें, ऋषि कपूर और नीतू ने शादी से पहले एक दूसरे को पांच साल तक डेट किया उसके बाद 22 जनवरी 1980 को शादी के बंधन में बंध गए। ऋषि कपूर के दो बच्चे हैं। रणबीर कपूर और रिधिमा कपूर। रणबीर कपूर अपने पिता ऋषि कपूर की तरह बॉलीवुड के चॉकलेटी हीरो हैं। ऋषि कपूर की बेटी रिधिमा जो एक फैशन डिजाइन की शादी बिजनेस मैन भारत साहनी से हुई है। बॉलीवुड की लीडिंग एक्ट्रेस करीना कपूर और करिश्मा कपूर ऋषि कपूर की भतीजी हैं।

फिल्मी कॅरियर – Career of Rishi Kapoor

फ़िल्मी परिवार से होने के कारण ऋषि कपूर हमेशा से ही फिल्मों में अभिनय करने की रूचि रखते थे। उन्‍होने भी अपने दादा और पिता के नक्‍शे कदम पर पैर रखते हूए फिल्‍मों में अभिनय किया और वे एक सफल अभिनेता के रूप में उभर आए। 1970 मे बनी फिल्म मेरा नाम जोकर यह उनकी पहली फिल्‍म है जिसमें उन्‍होने बाल कलाकार के रूप मे अपने पिता के बचपन का रोल किया। जो किशोर अवस्‍था में अपने टिचर से ही प्‍यार करने लगता है। हालाँकि इससे पहले वह ‘श्री 420’ में छोटे बच्चे के रूप में नजर आ चुके हैं, जिसकी शूटिंग के लिए नरगिस को ऋषि को बहुत सी चॉकलेट देकर मनाना पड़ा था।

ऋषि कपूर ने बॉलीवुड में बतौर एक्टर 1973 में फिल्म बॉबी से किया था। इस फिल्म में उनके अपोजिट डिंपल कपाड़िया थीं। ऐसा माना जाता है कि राज कपूर ने अपने बेटे ऋषि कपूर को लांच करने के लिए ‘बॉबी’ बनाई थी। इस बात की हकीकत बताते हुए ऋषि कपूर ने कहा कि ‘मेरा नाम जोकर’ की असफलता के बाद राज कपूर के आर्थिक हालात बिगड़ चुके थे जिसकी वजह से वह एक टॉप स्टार को फिल्म के लिए साइन नहीं कर पाए थे। ये फिल्म सुपर हिट हुई थी जिसके लिए ऋषि कपूर को सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार मिला।

ऋषि कपूर ने अपने करियर में 1973-2000 तक 92 फिल्मों में रोमांटिक हीरो का किरदार निभाया है। इन्होने बतौर सोलो लीड एक्टर 51 फिल्मों में अभिनय किया है। ऋषि कपूर अपने जमाने के चॉकलेटी हीरोज में से एक थे। ऋषि के साथ रिश्ते की शुरुआत के समय नीतू इंडस्ट्री में जगह बनाने की कोशिश में थीं, जबकि ऋषि एक सफल अभिनेता थे। नीतू और ऋषि की पहली फिल्म ‘जहरीला इंसान’ थी। नीतू कपूर के साथ ऋषि की जोड़ी को बेहद पसंद किया गया। खासतौर पर युवा इस जोड़ी के दीवाने थे। दोनों ने कई फिल्में की और अधिकांश सफल रही। ऋषि ने एक अंग्रेजी फिल्म भी की है। ‘डोंट स्टॉप ड्रीमिंग’ (सपने देखना बंद मत कीजिए) को शम्मी कपूर के बेटे आदित्य राज कपूर ने निर्देशित किया था। ऋषि कपूर के साथ 20 से ज्यादा अभिनेत्रियों ने अपना करियर शुरू किया।

ऋषि कपूर ने अपने करियर की शुरुआत से हमेशा ही रोमांटिक किरदार को निभाया था, और रोमॅंटिक हीरो का किरदार उनपे खूब जचा भी। लेकिन फिल्म अग्निपथ में उनकी खलनायक के किरदार को देख सभी हतप्रभ रह गए। ऋषि को फिल्म अग्निपथ के लिए आईफ़ा बेस्ट नेगेटिव रोल के अवार्ड से भी नवाजा गया। ऋषि कपूर ने अपने चालीस साल के फ़िल्मी करियर में पहली बार फिल्म अग्निपथ के लिए ऑडिशन दिया था। इस फिल्म के ऋषि कपूर ने फिल्म -डे में डी-कंपनी के गोल्ड़मैन का किरदार निभाया। जो दर्शकों को बेहद पसंद आया था।

अभिनय की दुनिया में तहलका मचाने के बाद ऋषि ने निर्देशन में भी हाथ आजमाया। उन्होंने 1998 में ‘आ अब लौट चले’ फ़िल्म को निर्देशित किया। उस फ़िल्म में राजेश खन्ना, ऐश्वर्या राय, कादर खान, परेश रावल और जसपाल भट्टी जैसे सितारे एक साथ देखने को मिले थे। फ़िलहाल वो ‘नमस्ते लन्दन’ फ़िल्म में भूमिका निभाते हुए नजर आये थे।

15 जनवरी 2017 को ऋषि कपूर का आत्मचरित्र ‘खुल्लम खुल्ला: ऋषि कपूर अनसेंसर’ रिलीज़ किया गया। कपूर ने उस किताब को मीना अय्यर के साथ में मिलकर लिखा। हार्पर कॉलिंस ने उस किताब को प्रकशित किया है।

ऋषि कपूर का निधन – Rishi Kapoor Death Hindi 

30 अप्रैल 2020 को 67 वर्ष की उम्र में उनका निधन हो गया। ऋषि कपूर को साँस लेने की तकलीफ के वजह से हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया था। जहां उनका निधन हो गया।

सम्मान और पुरस्कार – Rishi Kapoor Awards

  • 1970- बंगाल फ़िल्म जर्नलिस्ट एसोसिएशन अवार्ड: स्पेशल अवार्ड, और मेरा नाम जोकर के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार।
  • 1974- बॉबी फ़िल्म के लिए फ़िल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार।
  • 2008- फ़िल्मफेयर लाइफटाइम अचिएवेमेंट अवार्ड।

ऋषि कपूर की प्रसिद्ध फ़िल्मे – Rishi Kapoor Movie

मेरा नाम जोकर (1970), बॉब्बी (1973), लैला मजनू (1976), बारूद (1976), अमर अकबर एंथॉनी (1977), सरगम (1979), दो प्रेमी (1980), क़र्ज़ (1980), नसीब (1981), प्रेम रोग (1982), कुली (1983), तवायफ़ (1985), सागर (1985), नसीब अपना अपना (1986), नगीना (1986), ख़ुदग़र्ज़ (1987), जनम-जनम (1988), घराना (1989), चाँदनी (1989), शेष नाग (1990), अमीरी ग़रीबी (1990), घर परिवार (1991), अजूबा (1991), हेन्ना (1991), बंजारन (1991), बोल राधा बोल (1992), दीवाना (1992), साहिबां (1993), दामिनी – लाइटनिंग (1993), ईना मीना डीका (1994), साजन का घर (1994), प्रेम रोग (1994), हम दोनो (1995), याराना (1995), प्रेम ग्रंथ (1996), हम तुम (2004), फ़ना (2006), नमस्ते लंडन (2007), ओम शांति ओम (2007), डेल्हि – 6 (2009), लव आज कल (2009), पटियाला हाउस (2011), अज्ञीपत (2012), स्टूडेंट ऑफ द एअर (2012), हाउसफुल 2 (2012), जब तक है जान (2012), डी-डे (2013), बेशरम (2013), शुद्ध देसी रोमॅन्स (2013), ऑल ईज़ वेल (2015), सनम रे (2016) और कपूर & सन्स (2016)


You May Also Like This Articles :- 

Please Note : Rishi Kapoor Biography & Life History In Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे करे। Rishi Kapoor Filmography & Life Story In Hindi व नयी पोस्ट डाइरेक्ट ईमेल मे पाने के लिए Free Email Subscribe करे, धन्यवाद।

2 thoughts on “अभिनेता ऋषि कपूर की जीवनी | Rishi Kapoor Biography in Hindi Language”

  1. Rishi Kappor के बारे बहुत ही बढ़िया लेख लिखा है आप अपना फीडबैक ज़रूर दे

  2. Hey you write very good about rishi kapoor and irfan khan. You always give a valueable knowledge i always obliegd you

Leave a Comment

Your email address will not be published.