नीरज चोपड़ा का जीवन परिचय | Neeraj Chopra Biography in Hindi

Neeraj Chopra in Hindi – नीरज चोपड़ा एक भारतीय भाला फेंक (जेवलिन थ्रो) खिलाड़ी हैं, जो भारत के लिए ओलंपिक स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले ट्रैक और फील्ड एथलीट हैं। चोपड़ा ने 7 अगस्त 2021 को अपने दूसरे प्रयास में 87.58 मीटर के थ्रो के साथ टोक्यो 2021 ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीता। देश जिस एथलीट मेडल के लिए 121 साल से इंतिजार कर रहा था, उसे नीरज चोपड़ा ने कर दिखाया। आइये जाने नीरज चोपड़ा का जीवन परिचय।

नीरज चोपड़ा का परिचय – Early Life of Neeraj Chopra in Hindi

24 दिसंबर 1997 को हरियाणा के पानीपत में नीरज चोपड़ा का जन्म गांव खंडरा के रहने वाले सरोज देवी और सतीश कुमार के यहां हुआ था। नीरज चोपड़ा कुल पांच भाई बहन हैं।नीरज के पिता सतीश कुमार पेशे से किसान हैं। अपनी प्रारंभिक पढ़ाई को पूरा करने के बाद नीरज चोपड़ा ने चंडीगढ़ में एक बीबीए कॉलेज ज्वाइन किया था और वहीं से उन्होंने ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की थी।

नीरज चोपड़ा का करियर – Neeraj Chopra Career in Hindi

नीरज चोपड़ा का बचपन से ही रुझान खेलों के प्रति रही। खासतौर से उन्होंने जैवलिथ थ्रो यानी भाला फेंक को अपना लक्ष्य बनाया और अनवरत उसके लिए मेहनत करते रहे। खास तौर से जब उन्होंने जर्मनी के पेशेवर जैवलिन एथलीट उवे होन के निर्देशन में ट्रेनिंग ली।

नीरज चोपड़ा के कोच का नाम उवे होन हैं जो कि जर्मनी देश के पेशेवर जैवलिन एथलीट रह चुके हैं। नीरज चोपड़ा ने सिर्फ 11 साल की उम्र में ही भाला फेंकना प्रारंभ कर दिया था। नीरज चोपड़ा ने अपनी ट्रेनिंग को और भी ज्यादा मजबूत बनाने के लिए साल 2016 में एक ऐसा रिकॉर्ड बनाया जो इनके लिए काफी फायदेमंद साबित हुआ।

नीरज चोपड़ा ने साल 2014 में अपने लिए एक भाला खरीदा था, जो ₹7000 का था। इसके बाद नीरज चोपड़ा ने इंटरनेशनल लेवल पर खेलने के लिए ₹1,00000 का भाला खरीदा था। नीरज चोपड़ा ने साल 2017 में एशियाई चैंपियनशिप में 50.23 मीटर की दूरी तक भाला फेंक कर मैच को जीता था। इसी साल उन्होंने आईएएएफ डायमंड लीग इवेंट में भी हिस्सा लिया था, जिसमें वह सातवें स्थान पर रहे थे। इसके बाद नीरज चोपड़ा ने अपने कोच के साथ काफी कठिन ट्रेनिंग चालू की और उसके बाद इन्होंने नए-नए कीर्तिमान स्थापित किए।

2018 में एशियन गेम्स और कॉमनवेल्थ गेम्स में शानदार प्रदर्शन करने के बाद नीरज कंधे की चोट का शिकार हो गए। इस वजह से वो काफी वक्त तक खेल से दूर रहे, इसके बाद कोरोना के कारण कई इवेंट रद्द हो गए, जिससे उनका खेल काफी प्रभावित हुआ, लेकिन इसके बाद भी उन्‍होंने जोरदार वापसी करते हुए इसी साल मार्च में पटियाला में आयोजित इंडियन ग्रांड प्रिक्स में नीरज ने अपना ही रिकार्ड तोड़ते हुए 88.07 मीटर का थ्रो कर नया नेशनल रिकार्ड बनाया।

भारत के लिए इतिहास रचने वाले ‘गोल्डन ब्वॉय’ नीरज चोपड़ा ने पिछले साल लॉकडाउन होने के बाद घर पर ही अपनी फिटनेस पर काफी काम किया था। कोविड-19 महामारी के चलते पिछले साल 25 मार्च से 31 मई के बीच पूरे देश में लॉकडाउन हो गया था। जिम, स्पोर्ट्स ग्राउंड सब जगह ताला लग गया था, ऐसे में नीरज ने अपनी फिटनेस पर काम करना नहीं छोड़ा, बल्कि घर में ही बिना जिम इक्विपमेंटस के जमकर कसरत की। टोक्यो ओलंपिक 2020 में होने थे, लेकिन कोविड-19 के चलते इसे एक साल के लिए स्थगित कर गिया गया था। 2021 टोक्यो ओलंपिक खत्म होने से ठीक एक दिन पहले नीरज चोपड़ा ने जैवलिन थ्रो इवेंट में गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रच डाला।

भाला फेंकने के अलावा नीरज एक और भूमिका भी निभाते हैं। एक अन्य अवतार में नीरज चोपड़ा भारतीय सेना में सूबेदार के पद की भी जिम्मेदारी निभा रहे हैं. 4 राजपूताना राइफल्स में सूबेदार नीरज ने 2011 में इस खेल को अपना लिया था।

आज नीरज की उपलब्धि पर पूरा देश गौरवान्वित है। बतौर सैनिक उन्होंने अपने गोल्डन थ्रो के साथ टोक्यो ओलंपिक में भारत के लिए ऐतिहासिक प्रदर्शन करते हुए स्वर्ण पदक जीत लिया है।

एक नजर में नीरज चोपड़ा के मेडल – Neeraj Chopra Awards in Hindi

  • टोक्यो ओलंपिक 2021- गोल्ड मेडल
  • एशियन गेम्स 2018- गोल्ड मेडल
  • कॉमनवेल्थ गेम्स 2018- गोल्ड मेडल
  • एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2017- गोल्ड मेडल
  • वर्ल्ड यू-20 एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2016- गोल्ड मेडल
  • साउथ एशियन गेम्स 2016- गोल्ड मेडल
  • एशियन जूनियर चैंपियनशिप 2016- सिल्‍वर

नीरज चोपड़ा के बारे में रोचक तथ्य – Neeraj Chopra Facts in Hindi

  • नीरज चोपड़ा की वर्तमान में विश्व रैंकिंग जैवलिन थ्रो की कैटेगरी में चौथे स्थान पर है। इसके अलावा वे कई मैडल एवं पुरस्कार भी जीत चुके हैं।
  • नीरज चोपड़ा एक एथिलीट बनने से पहले भारतीय सेना में एक सूबेदार के रूप में कार्यरत थे. वे इसमें जूनियर कमीशन्ड ऑफिसर थे, उस समय उनकी उम्र मात्र 19 साल थी। और वे इतनी उम्र में राजपूताना राइफल्स चलाया करते थे।
  • खिलाड़ी नीरज चोपड़ा की वर्तमान में 23 साल उम्र है, हालांकि उन्होंने अभी तक शादी नहीं की है। यह अभी अपना पूरा ध्यान सिर्फ अपनी मंजिल की ओर लगा रहे हैं।

FAQ

Q : नीरज चोपड़ा कौन है ?

Ans : भारतीय एथलीट भाला फेंक खिलाड़ी

Q : नीरज चोपड़ा की जन्म तिथि क्या है ?

Ans : 24 दिसंबर 1997

Q : नीरज चोपड़ा की हाइट कितनी है ?

Ans : 5 फुट 10 इंच

Q : नीरज चोपड़ा की जाति क्या है ?

Ans : नीरज चोपड़ा एक हिन्दू रोर मराठा है

Q : नीरज चोपड़ा की सैलरी कितनी है ?

Ans : 1 से 5 मिलियन डॉलर के आसपास

Q : नीरज चोपड़ा का ओलिंपिक 2021 का बेस्ट थ्रो कितना है ?

Ans : 87.58 मीटर

Q : जेवलिन थ्रो के लिए ओलंपिक रिकॉर्ड कितने का है ?

Ans : 90.57 मीटर

Q : नीरज चोपड़ा के कोच कौन है ?

Ans : नीरज चोपड़ा के मुख्य कोच का नाम उवे होन है जो की जर्मनी के पूर्व पेशेवर जैवलिन एथलीट है

Also, Read More:- 

Leave a Comment

Your email address will not be published.