मकर संक्रान्ति पर निबंध 2018 Essay on Makar Sankranti in Hindi

0

मकर संक्रान्ति पर निबंध 2018 Essay on Makar Sankranti in Hindi

मकर संक्रान्ति पर विशेष निबंध – Essay on Makar Sankranti in Hindi – Makar Sankranti Par Nibandh in Hindi

मकर संक्रान्ति आम तौर पर हर साल 14 जनवरी को मनाया जाता है। यह हिंदुओं का एक प्रमुख त्यौहार है। यह पर्व सूर्य के माघ मास में मकर राशि में प्रवेश करने पर मनाया जाता है। इसलिए इसे मकर संक्रांति कहते हैं। ये अलग-अलग प्रांतों में भिन्न-भिन्न नामों से वहाँ की परंपराओं के अनुसार मनाया जाता है।

पंजाब में माघी, उत्तर प्रदेश में खिचिरी, गुजरात और राजस्थान में उत्तरायण के नाम से मकर संक्रांति त्यौहार बहुत ही धूम-धाम से मनाया जाता है। यह त्यौहार उन कुछ चुने हुए भारतीय हिंदू त्यौहारों में से एक है जो निश्चित तिथि को मनाये जाते हैं। हालाँकि कभी-कभी यह एक दिन पहले या बाद में यानि 13 या 15 जनवरी को भी मनाया जाता है लेकिन ऐसा कम ही होता है।

यह सूर्य भगवान का त्योहार है इस दिन पर सूर्य दक्षिण की यात्रा समाप्त करता है और उत्तर दिशा की और पलायन करता है। रात को पाप और झूठे का प्रतीक माना जाता है जबकि दिन को सच्चाई सद्गुण और धर्म का प्रतीक माना जाता है। तो जब भगवान का दिन है तो मकर संक्रांति पर सभी अनुष्ठानो को किया जाता है क्यूंकि मकर सक्रांति के बाद दिन लम्बे हो जाते है और रातें छोटी हो जाती हैं।

मकर संक्रान्ति मुख्य रूप से ‘दान का पर्व’ है। मकर संक्रांति के शुभ मुहूर्त में स्नानए दान और पुण्य के शुभ समय का विशेष महत्व है। यह वैदिक उत्सव है। इस दिन खिचड़ी का भोग लगाया जाता है। गुड़–तिल, रेवड़ी, गजक का प्रसाद बाँटा जाता है। इस त्यौहार का सम्बन्ध प्रकृति, ऋतु परिवर्तन और कृषि से है। ये तीनों चीज़ें ही जीवन का आधार हैं।


और अधिक लेख –

Please Note : – Makar Sankranti Essay in Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे करे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here