महाराष्ट्र के दर्शनीय व पर्यटन स्थल | Maharashtra Tourism in Hindi

महाराष्ट्र भारत के दक्षिण मध्य में स्थित एक राज्य है। इसकी राजधानी मुंबई देश की आर्थिक राजधानी के रूप में भी जानी जाती है और यहां का पुणे शहर भी भारत के बड़े महानगरों मे गिना जाता है। भारत में दूसरा सबसे अधिक आबादी वाला राज्य, महाराष्ट्र अपने विविध पहाड़ों, मनोरम समुद्र तटों, लुभावने दृश्यों द्वारा परिभाषित और कई प्रकार के संग्रहालय, स्मारक और किले, जो भारत के समृद्ध इतिहास के गवाह हैं, के लिये प्रसिद्ध राज्य है। महाराष्ट्र विदेशी पर्यटकों द्वारा भारत में सबसे अधिक देखा जाने वाला एक राज्य है।

महाराष्ट्र के दर्शनीय व पर्यटन स्थल की जानकारी | Maharashtra Tourism in Hindi

महाराष्ट्र के दर्शनीय व पर्यटन स्थल – Maharashtra Tourism Place in Hindi

महाराष्ट्र भारत का तीसरा सबसे बड़ा राज्य है जिसमें मुख्य रुप से दो भू-आकृतियां हैं और इनमें प्राकृतिक सुंदरता के तौर पर बहुत कुछ पेश करने को है। कई लोगों का मानना है कि महाराष्ट्र संस्कृत शब्द ‘महा’ जिसका अर्थ है महान और ‘राष्ट्र’ जो कि मूल रूप से राष्ट्रकूट राजवंश से आया है, से मिलकर बना है। जबकि कई लोगों का कहना है कि संस्कृत में ‘राष्ट्र’ का मतलब देश से है।

महाराष्ट्र दूसरी सदी ईसा पूर्व के आसपास इतिहास के अध्याय में प्रवेश करता है, जब अपनी तरह की प्रथम बौद्ध गुफाओं का निर्माण किया गया था। 7 वीं सदी में प्रसिद्ध चीनी यात्री ह्यूनसांग ने अपने कार्यों में महाराष्ट्र का सर्वप्रथम उल्लेख किया था। इतिहास के अनुसार राज्य में 6वीं सदी के दौरान पहले हिंदू राजा ने शासन किया। अन्य सभी नेताओं के बीच, महाराष्ट्र ने छत्रपति शिवाजी महाराज को सबसे प्रमुख व्यक्तित्व के रूप में देखा है। महान मराठा साम्राज्य के संस्थापक, शिवाजी ने मुगलों से मशहूर लड़ाई लड़ी और राज्य भर में कई किलों का निर्माण किया। उनकी मृत्यु के उपरान्त, उनके बेटे, संभाजी ने महाराष्ट्र पर शासन किया और बाद में यह पेशवाओं को मिला। जल्द ही, 1804 में, ईस्ट इंडिया कंपनी के जनरल वेलेस्ली ने महाराष्ट्र और डेक्कन क्षेत्र में एक सैन्य शासन की स्थापना की और पेशवा क्षेत्र के नाममात्र शासक बने रहे। जिस राज्य को आज हम महाराष्ट्र के रूप में जानते हैं इसका गठन 1960 में और बंबई (अब मुंबई) को इसकी राजधानी बनाया गया।

महाराष्ट्र में बड़ी संख्या में लोकप्रिय और श्रद्धेय धार्मिक स्थान है। औरंगाबाद महाराष्ट्र की पर्यटन राजधानी है। अजंता गुफाएं, एलीफेंटा गुफाएं, एलोरा गुफाएं, और छत्रपति शिवाजी टर्मिनस महाराष्ट्र में चार यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों और राज्य में पर्यटन के विकास के लिए अत्यधिक जिम्मेदार हैं। इसकी व्यापार समर्थक छवि और बाॅलीवुड की प्रसिद्धि अक्सर महाराष्ट्र के पर्यटन आकर्षणों पर भारी पड़ती है। लेकिन महाराष्ट्र में पर्यटन आकर्षणों का बहुत बड़ा खज़ाना है जिसके लिए लोग इस राज्य का दौरा करते हैं।

महाराष्ट्र की एक मादक विविधता है- धुन्ध वाले पहाड़, जो दूर तक फैले हैं, हरे-भरे चमकदार जंगल, ऐतिहासिक विशाल किले और पवित्र धार्मिक स्थल शामिल हैं। राज्य में लगभग 350 किले शामिल हैं। अरब सागर के पास स्थित होने के कारण महाराष्ट्र में लंबे उमस भरे कई प्राचीन समुद्र तट हैं। आप मुंबई के मरीन ड्राइव चौपाटी की तरह आलीशान समुद्र तटों को देखने के लिए जा सकते हैं या फिर मटमैले बेसिन समुद्र तट के लिये। वेलनेश्वर और श्रीवर्धन हरिहरेश्वर समुद्र तट उन रोमांच प्रेमियों के लिए है जो पानी के खेलों में लिप्त रहना चाहते हैं। कुछ अन्य राज्यों की तरह महाराष्ट्र भी विविध भाषाओं, संस्कृतियों और व्यंजनों का एक सही मिश्रण है, जहाँ भारतीयता का अहसास होता है।

प्रमुख पर्यटन नगर –

महाराष्ट्र के मुंबई, पुणे, औरंगाबाद, नागपुर और नासिक महाराष्ट्र के बडे शहरों में गिने जाते हैं। महाराष्ट्र के निवासियों की मातृभाषा मराठी है और यहाँ के लोगों को महाराष्ट्रीयन कहा जाता है। पहाड़ी नगरों में ‘महाबलेश्वर’ और ‘माथेरान’ काफ़ी प्रसिद्ध है। छुट्टियों के समय इन नगरों में बहुत ही भीड़ होती है और मौसम भी बहुत सुहावना होता है।

मुंबई

मुंबई पूर्वी न्यूयॉर्क के नाम से भी विख्यात है। मुंबई में चौपाटी, गेटवे ऑफ़ इन्डिया, प्रिन्स वेल्स म्युज़ियम, एलिफेंटा की गुफाएँ और मडआईलॅन्ड बहुत ही प्रसिद्ध है।

पुणे

पुणे महाराष्ट्र का संस्कृति प्रधान नगर माना जाता है। शनिवारवाडा, लाल महल, सिंहगढ़ जैसे ऐतिहासिक स्थान हैं। पुणे का आई.टी. पार्क और लक्ष्मी रोड काफ़ी जाना माना है।

औरंगाबाद

औरंगाबाद नगर महाराष्ट्र के मध्य भाग में स्थित है। यहाँ के अजंता-एलोरा की गुफ़ाएँ विश्व प्रसिद्ध हैं। इन गुफाओं में बुद्ध के तक्षण बनाये गये हैं।

नागपुर

नागपुर एक बहुत ही सुन्दर शहर है और यहाँ के संतरे पूरी दुनिया में जाने माने हैं।

नासिक

नाशिक एक काफ़ी सुन्दर शहर है और यहाँ का मौसम सुहाना है। नाशिक के कालाराम और दूसरे मन्दिर विख्यात है और लोग गोदावरी नदी में नहाना पवित्र समझते हैं।

अमरावती

अमरावती महाराष्ट्र के उत्तर पूर्व दिशा में स्थित अमरावती देवताओं के राजा इन्द्र का शहर माना जाता है। अनेक ऐतिहासिक मंदिर और अभ्यारण्य इसके खास पर्यटन स्थल हैं। यहां का देवी अंबा, भगवान श्रीकृष्ण और वेंकटेश्वर मंदिर पूरे महाराष्ट्र में प्रसिद्ध हैं. अमरावती की बीर और शक्कर झील काफी चर्चित हैं। अमरावती जिले के चीकलधारा और धरनी तहसील में स्थित टाईगर रिजर्व 1597 वर्ग किमी क्षेत्र में फैला है।

नंदुरबार

नंदुरबार नगर भारत में महाराष्ट्र राज्य के धूलिया ज़िले में पश्चिमी घाट के पर्वतों के उत्तरी छोर पर धूलिया से 45 मील उत्तर-पश्चिम में स्थित है।

महाराष्ट्र में देखने के स्थान – Maharashtra Tourist Places Information in Hindi

1). एलीफेंटा गुफाएं

एलिफेंटा गुफाये गढ़ी हुई गुफाओ का एक नेटवर्क है जो महाराष्ट्र के मुम्बई शहर से 10 किलोमीटर दूर मुम्बई बंदरगाह के घरपुरी (गुफाओ का शहर) और एलिफेंटा द्वीप पर स्थित है। यह द्वीप अरेबियन सागर की टुकड़ी में बस हुआ है, जहा गुफाओ के दो समूह है, पहले समूह में पाँच हिन्दू गुफाये और दूसरे समूह में दो बुद्धिस्ट गुफाये है। हिन्दू गुफाओ में पत्थरो की मूर्तियाँ भी बनायी गयी है और जो हिन्दू भगवान शिव को चित्रित करती है।

2). औरंगाबाद

औरंगाबाद शहर अजंता और एलोरा के विरासत स्थलों के लिए मशहूर है। 29 चट्टानों के समूह को काट कर बने ये गुफा पर्वत इस देश में वास्तुकला की उपलब्धियों का प्रतीक हैं। अजंता के भित्ति चित्र और एलोरा की मूर्तियां और इस जगह की खूबसूरती आपको मंत्रमुग्ध कर देगी। इस शहर का नाम मुगल बादशाह औरंगजेब के नाम पर रखा गया है जिन्होंने डेक्कन पर राज करने के लिए इसे वाइसरिगल राजधानी बनाया। बादशाह ने यहां अपनी मां को श्रद्धांजलि देने के लिए बीबी का मकबरा बनवाया। यह मकबरा मशहूर ताज महल की नकल है। पनचक्की और दरवाज़े यहां बीते दिनों की शानदार वास्तुकला के उदाहरण के तौर पर मौजूद हैं।

3). भीमाशंकर मंदिर

मोटेश्वर महादेव के नाम से भी जाना जाता है पुणे से करीब 100 किलोमीटर दूर स्थित है बारह ज्योतिर्लिंगों में से एक है भीमाशंकर मंदिर प्रसिद्ध धार्मिक केंद्र भीमाशंकर मंदिर महाराष्ट्र में पुणे से करीब 100 किलोमीटर दूर स्थित सह्याद्रि नामक पर्वत पर है। यह स्थान नासिक से लगभग 120 मील दूर है।

4). गणपतिपुले

गणपतिपुले महाराष्ट्र का एक छोटा सा गांव है जिसमें खूबसूरत लंबे समुद्र तट हैं। गणपतिपुले नाम का तट इनमें सबसे सुंदर बीच है। सुनहरी धूप से सजे तट और हरियाली आपको गणपतिपुले की शानदार धरती से प्यार करने को मजबूर कर देंगे। यहां पर पानी के खेल की सुविधाएं भी उपलब्ध हैं। इसके अलावा तट पर भगवान गणपति का मंदिर भी है।

5). महाबलेश्वर, लोनावाला और खंडाला

ज्यादातर लोगों ने अगर वास्तविकता में नहीं तो टीवी पर ही सही, लेकिन महाराष्ट्र के हिल स्टेशनों की खूबसूरती देखी है। शुक्र है बाॅलीवुड और आमिर खान का कि मशहूर गाने के जरिये उन्होंने हर भारतीय के मन में खंडाला को बसा दिया। महाबलेश्वर अपने मंदिरों के लिए जाना जाता है और हनीमून के लिए भी यह जगह बहुत मशहूर है। यहां की साफ हवा, शांत वातावरण, सुंदर और शांत झील और शानदार झरने आपको शहर की हलचल से दूर आनंद की अनुभूति देते हैं।

6). पंचगनी

पांच पहाड़ों से घिरा पंचगनी धरती पर एक स्वर्ग है। यह जगह बहुत सुंदर है और आसपास का वातावरण बहुत शांत है। सैलानियों के बीच यह हिल स्टेशन बहुत मशहूर है। पंचगनी में आपको कई अमीर और मशहूर व्यक्तियों के फार्म हाउस मिल जाएंगे।

7). पेंच राष्ट्रीय उद्यान

सतपुड़ा पर्वत श्रृंखला के निचले दक्षिणी इलाके में 257 वर्ग किलोमीटर में फैले इस पार्क में विभिन्न प्रजातियों के वन्य जीवों को देखने का शानदार मौका मिलता है। पेंच में देखे जा सकने वाले वन्य जीवों में बाघ, तेंदुआ, चीतल, सांभर, बार्किंग डियर, नीलगाय, ब्लेक बक, गौर, जंगली भालू, चैसिंघा, स्लोथ बीयर, लंगूर, बंदर, माउस डियर, हाइना और गिलहरी आदि हैं।

8). शिर्डी

महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में शिर्डी शहर स्थित है। पूरी दुनिया से लोग श्री सांई बाबा की समाधि पर बने शिर्डी सांई मंदिर को देखने आते हैं। इस मंदिर के अलावा शनि मंदिर, नरसिंह मंदिर, कंडोबा मंदिर, साकोरी आश्रम और चांगदेव महाराज समाधि भी देखे जा सकते हैं।

9). दौलताबाद

यह शहर औरंगाबाद जिले में है. इसे देवगिरि के नाम से भी जाना जाता है। दौलताबाद में बहुत सी ऐतिहासिक इमारतें हैं जिन्‍हें जरूर देखना चाहिए। इन इमारतों में जामा मस्जिद, चांद मीनार, चीनी महल और दौलताबाद का किला शामिल हैं।

कैसे पहुंचे –

इस राज्य की भौगोलिक स्थिति सामरिक तौर बहुत महत्वपूर्ण है और राज्य में हवाई, सड़क, रेल और समुद्री संचार व्यवस्था है। राज्य की राजधानी मुंबई में दो हवाई अड्डे हैं, एक छत्रपति शिवाजी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा और दूसरा सांता क्रूज घरेलू हवाई अड्डा। मुंबई में राज्य का सबसे प्रमुख रेलवे स्टेशन भी है। बड़ी संख्या में महत्पूर्ण रेलें इस शहर को देश के अन्य शहरों और राज्यों से जोड़ती हैं। राज्य का सड़क नेटवर्क भी बहुत बेहतरीन है। इसके अलावा कई राष्ट्रीय राजमार्ग और राज्य राजमार्ग हैं जो पूरे राज्य में फैले हैं और महाराष्ट्र के किसी भी शहर से देश के किसी भी हिस्से में पहुंचने में मदद करते हैं। महाराष्ट्र राज्य सड़क परिवहन निगम कई बसें चलाता है जो सभी शहरों को देश भर से जोड़ती हैं।


और अधिक लेख –

Leave a Comment

Your email address will not be published.