मध्य प्रदेश की जानकारी, तथ्य, इतिहास | Madhya pradesh information in hindi

Madhya Pradesh / मध्य प्रदेश भारत का एक राज्य है इसे “भारत का हृदय” कहा जाता है तथा यह देश का दूसरा सबसे बड़ा राज्य है। इस राज्य का इतिहास, भौगोलिक स्थिति, प्राकृतिक सुंदरता, सांस्कृतिक विरासत और यहाँ के लोग इसे भारत के सर्वश्रेष्ठ राज्यो में एक बनाते हैं। आइये जाने मध्य प्रदेश के बारे में और अधिक जानकारी.. 

Madhya Pradeshमध्य प्रदेश की जानकारी एक नजर में – Madhya Pradesh Information, Facts & History In Hindi

1). मध्य प्रदेश की स्थापना 1 नबम्वर 1956 को हुई थी।

2). मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल है।

3). यहॉ लोकसभा की 29 राज्य सभा की 11 सीटें हैं।

4). यहॉ की राजकीय भाषा हिंदी है।

5). इस राज्य में जिलों की संख्या 50 है।

6). इस राज्य का क्षेञफल 308000 वर्ग किमी है।

7). यहाॅ की प्रमुख फसलें चना, बाजरा, गेहूं, चावल, सोयाबीन, कपास, तेल और बीज है।

8). इस राज्य के सबसे बडे शहर भोपाल, ग्वालियर, इंदौर, जबलपुर, कटनी, रीवा, सागर, उज्जैन हैं।

9). यहॉ की प्रमुख नदियां नर्मदा, सोन, चंबल, बेतवा, महानदी, ताप्ती, इंद्रावती, शिप्रा हैं।

10). मध्य प्रदेश देश का दूसरा सबसे बडा सीमेंट उत्पादक राज्य है।

11). मध्य प्रदेश में सडकों की कुल लबाई 73311 किमी है।

12). प्रदेश रेलमार्ग की कुल लंबाई 5919 है।

13). यहॉ का राजकीय पशु हिरन है।

14). यहाॅ का राजकीय पक्षी पेराडाइज फ्लाई कैचर है।

15). मध्य प्रदेश की सीमाऐं पांच राज्यों की सीमाओं से मिलती है। इसके उत्तर में उत्तर प्रदेश, पूर्व में छत्तीसगढ़, दक्षिण में महाराष्ट्र, पश्चिम में गुजरात, तथा उत्तर-पश्चिम में राजस्थान है।

16). मध्य प्रदेश ने प्राचीन काल के मौर्य, राष्ट्रकूट और गुप्त वंश से लेकर बुन्देल, होल्कर, मुग़ल और सिंधिया जैसे लगभग चौदह राजवंशों का उत्थान और पतन देखा है। विभिन्न राजाओं के द्वारा कला और वास्तुशैली के विभिन्न प्रकार यहाँ विकसित हुए।

17). खजुराहो की कामुक मूर्तियां, ग्वालियर का शानदार किला, उज्जैन और चित्रकूट के मंदिर या ओरछा की छतरियां सभी वास्तुकला के अच्छे उदाहरण हैं। खजुराहो, सांची और भीमबेटका को यूनेस्को द्वारा विश्व विरासत स्थल घोषित किया गया है।

18). मध्य प्रदेश की आदिवासी संस्कृति मध्य प्रदेश के पर्यटन का एक महत्वपूर्ण भाग है। यहाँ मुख्य रूप से गौंड और भील आदिवासी रहते हैं। आदिवासी कला और कलाकृतियां पर्यटन के आकर्षण का प्रमुख स्त्रोत हैं। लोक संगीत और नृत्य देश की कलात्मक विरासत है।

19). मध्य प्रदेश में व्यंजनों की विविधता यहाँ के पर्यटन का महत्वपूर्ण हिस्सा है। यहाँ के व्यंजनों में मुख्य रूप से राजस्थनी और गुजराती व्यंजन शामिल हैं।

20). विंध्य और सतपुड़ा के पर्वत और हरे भरे जंगल अनेक प्रजातियों को आवास प्रदान करते हैं। मध्य प्रदेश पर्यटन के प्रमुख आकर्षण वन्य जीवन अभयारण्य और वन्यजीव राष्ट्रीय उद्यान हैं।


और अधिक जानकारी – 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here