कुमारकोम केरल पक्षी अभयारण्य, पर्यटन | Kumarakom Tourism in Hindi

Kumarakom / कुमारकोम केरल का एक छोटा-सा शानदार नगर है। यह सुंदर नगर बेम्बानद नामक झील के किनारे स्थित है। यह नगर कोट्टायम से 14 कि.मी. दूर कुट्टानद क्षेत्र में स्थित है। आज यह स्थान एक पक्षी अभयारण्य के रूप में विकसित हो चुका है, जबकि इससे पहले यह स्थान रबड़ प्लांटेशन के लिए विख्यात था। अभयारण्य 14 एकड़ में फैला है और पक्षी यहाँ हिमालय और साइबेरिया जैसे दूर इलाकों से यहां आते हैं। पक्षियों के विषय में अनुसंधान आदि कार्य करने के लिए कुमारकोम बेहतरीन स्थान है। देशी-विदेशी पर्यटक यहाँ लगातार आते रहते हैं।

कुमारकोम केरल पक्षी अभयारण्य, पर्यटन | Kumarakom Tourism in Hindi

कुमारकोम पक्षी अभयारण्य – Kumarakom Bird Sanctuary in Hindi

कुमारकोम पक्षी अभयारण्य या वेम्बनाड पक्षी अभयारण्य वेम्बनाड झील के पूर्वी तट पर स्थित है। अभयारण्य जलभराव की पृष्ठभूमि में होने के साथ एक मनोहारी इलाके में है। यह सैकड़ों प्रवासी पक्षियों का एक घर है तथा पक्षीप्रेमी और पक्षी अध्ययनकर्ताओं के लिए एक अनुपम स्थान है।

अभयारण्य की प्रमुख पक्षी प्रजातियों में कोयल, जलपक्षी, बगला, जलकाग, उल्लू, लार्क, टील, इग्रेट, मूरहेन, साइबेरियाई क्रेन, डार्टर, ब्राह्मिनी काइट, तोता, और फ्लाईकैचर शामिल हैं।

सूर्योदय या सूर्यास्त के दौरान पक्षीप्रेमी शांत आसमान की सुंदर पृष्ठभूमि में पक्षियों के झुंड को देखकर खुशी से झूम उठेंगें। पर्यटक नावें (हाउसबोट या मोटरबाट) किराये पर लेकर पक्षियों को देख सकते हैं और वे गाइड के साथ भी अभयारण्य की यात्रा कर सकते हैं।

कुमारकोम के अन्य दर्शनीय स्थल – Kumarakom Tourism in Hindi

वेम्बानद झील

कोट्टायम में नहरों और नदियों की विस्तृत श्रृंखला है, जो वेम्बानद झील में आकर मिलती हैं और उसके जल का विस्तार करती हैं। वेम्बानद झील एक आकर्षक पिकनिक स्थल भी है। यह झील बेकवाटर पर्यटन के रूप में तेजी से विकसित हो रहा है। यहां बोटिंग, फिशिंग और साइटसीइंग के अनुभवों का आनंद लिया जा सकता है।

अरूविक्कुजी जलप्रपात

कोट्टायम नगर से 18 कि.मी. की दूरी पर यह जलप्रपात स्थित है। कुमारकोम से मात्र 2 कि.मी. की दूरी पर यह खूबसूरत पिकनिक स्थल है। 100 फीट की ऊंचाई से गिरते इस झरने का संगीत पर्यटकों को बहुत भाता है। पर्यटक यहां रबड़ की वनस्पतियों की छाया का भी आनंद ले सकते हैं।

बेकवाटर क्रूज

मीलों दूर फैले समुद्री पानी पर समुद्री यात्राएं बेहद रोमांचक होती हैं। समुद्र के किनारे ताड़ के पेड़ वातावरण को सुरम्य बनाते हैं। कुमारकोम में पर्यटक बोट रेस, बेकवाटर हाउसबोट क्रूज, केनोइंट और फिशिंग का आनंद लेना नहीं भूलते। वाटरहाउस में ठहरने को स्थानीय भाषा में केट्टूवलम कहा जाता है। हाउसबोट में ठहरना एक असामान्य अनुभव होता है। यहां की प्राकृतिक सुंदरता और अनुपम वातावरण पर्यटकों को आर्कषित किए बिना नहीं रहता।

कैसे पहुंचे

वायु मार्ग : कुमारकोम कोच्चि विमानक्षेत्र से 70 कि.मी. की दूरी पर स्थित है। भारत के प्रमुख शहरों और विदेशों से यहां के लिए सीधी फ्लाइट हैं। कोच्चि एयरपोर्ट से बस या टैक्सी के माध्यम से कुमारकोम पहुंचा जा सकता है।

रेल मार्ग : कोट्टायम नजदीकी रेलवे स्टेशन है। कुमारकोम से कोट्टायम की दूरी 14 कि.मी. है।

सड़क मार्ग : कुमारकोम के निकट कोट्टायम विभिन्न राज्य और राष्ट्रीय राजमार्ग द्वारा राज्य के प्रमुख शहरों से जुड़ा है।


और अधिक लेख –

Leave a Comment

Your email address will not be published.