बिल गेट्स का प्रेरणादायी जीवनी | Bill Gates Biography In Hindi

6

Bill Gates Biography & Life History in Hindi / बिल गेट्स सॉफ्टवेयर बनाने वाली कंपनी माइक्रोसॉफ्ट के सह संस्थापक तथा अध्यक्ष है। दुनियां के सबसे अमीर लोगो में एक बिल गेट्स का वास्तविक नाम विलियम हेनरी गेट्स हैं। ये दुनिया के सबसे दानवीर लोगो में भी एक हैं।

Bill Gates Biography In Hindi,

बिल गेट्स का परिचय  – Bill Gates Biography In Hindi 

पूरा नाम विलियम हेनरी गेट्स (William Henry Gates)
अन्य नाम बिल गेट्स (Bill Gates)
जन्म दिनांक 28 अक्टूबर 1955.
जन्म स्थान सीऐटल, वॉशिंगटन राज्य, संयुक्त राज्य अमेरिका
माता – पिता  विलियम एच। गेट्स, सीनियर और मरी मैक्‍सवेल गेट्स
पत्नी मेलिण्डा गेट्स
राष्ट्रीयता अमेरिकन
शिक्षा हार्वर्ड विश्वविद्यालय (स्नातक नहीं हुए)
प्रसिद्धि के कारण माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के संस्थापक

एक बार टीचर ने कहा तुम लाइफ मे कुछ नही कर पाओगे, तो उसने टीचर से कहा मैं 30 साल मे करोड़पति बन के दिखाऊंगा, और 30 साल मे बन गये अरबपति, इस महान शख्स का नाम है बिल गेट्स जिन्होने अपने मेहनत के दम पे दुनिया के नामचीन कंपनी माइक्रोसॉफ्ट का स्थापना की और बन गये दुनिया के सबसे धनी इंसान, आए जानते है बिल गेट्स की प्रेरणादायी जीवनी..

प्रारंभिक जीवन – Early Life of Bill Gates

दुनिया के धनी लोगो मे गिने जाने वाले’माइक्रोसॉफ्ट नामक कम्पनी के सह संस्थापक तथा अध्यक्ष बिल गेट्स का जन्म 28 अक्टूबर,1955 को वाशिंगटन के एक उच्च मध्यम वर्गीय परिवार में हुआ, बिल गेट्स का पूरा नाम विलियम हेनरी गेट्स है। उनके पिता का नाम विलियम एच. गेट्स तथा माता का नाम मेरी मैक्सवैल था। पिता वकील तथा माता बैंक मे कम करती करती थी, गेट्स के नाना जे.डब्लू. मैक्सवेल, राष्ट्रिय बैंक के अध्यक्ष थे। गेट्स को एक बड़ी बहन ख्रिस्ती और एक छोटी बहन लिब्बी है. वे उनके परिवार में उनके नाम के चौथे थे लेकिन फिर भी उन्हें विलियम गेट्स III के नाम से जाना जाता था क्यूकी उनके पिता “II” थे।

उनके जीवन के प्रारम्भ में ही, गेट्स के माता-पिता उन्हें कानून की शिक्षा देना चाहते थे। जब गेट्स युवा थे, तब उनका परिवार रोज़ चर्च प्रार्थना करने जाता था। उनका परिवार एक प्रतियोगी परिवार बनकर उभरना चाहता था, एक रिपोर्टर ने ऐसा बताया की, “चाहे कोई भी प्रारूप हो, कोई भी प्रतियोगिता हो उनके परिवार में हमेशा जितने पर पुरस्कार दिया जाता और हारने पर दंड दिया जाता”

शिक्षा और करियर – Bill Gates Career

बिल गेट्स बचपन से ही महत्वकांक्षी विद्यार्थी थे। 13 साल की आयु में उन्हें लेकसाइड स्कूल में डाला गया, जो की एक प्रचलित प्राइवेट स्कूल था। जब वे आठवीं कक्षा में थे, विद्यालय के मदर क्लब ने लेकसाइड स्कूल के रद्दी सामानों की बिक्री से प्राप्त धन का उपयोग विद्यालय के छात्रों के लिए एक ऐ.एस.आर – 33 टेलीपैथी टर्मिनल तथा जनरल इलेक्ट्रिक(जी.ई.) कंप्यूटर पर एक कंप्यूटर प्रोग्राम खरीदने के लिए किया। गेट्स ने बेसिक प्रोग्रामिंग भाषा में (जी.ई.) सिस्टम की प्रोग्रामिंग में रूचि दिखाई और उन्हें उनकी इस रूचि के लिए गणित की कक्षाओं से छूट दी गई। उन्होंने अपना पहला कंप्यूटर प्रोग्राम इस मशीन पर लिखा : जो था टिक-टैक-टो (tic-tac-toe) का उपयोगकर्ता (यूज़र) को कंप्यूटर से खेल खेलने का अवसर प्रदान करता था। पढाई के दौरान ही कंप्यूटर प्रोग्राम बनाकर उन्होंने 4 , 200 डालर कमा लिए थे।

जब बिल गेट्स/ Bill Gates एक विद्यार्थी थे तब उन्हें क्या पढ़ना है इसका जरा भी अंदाज़ा नही था। जब वे हॉवर्ड स्कूल के विद्यार्थी थे तब वे अपना ज्यादातर समय विद्यालय के कंप्यूटर का उपयोग करने में व्यतीत करते थे। 1974 की गर्मियों में गेट्स पॉल एलन से मिले, और उन्होंने एक दूसरे से अच्छे सम्बन्ध भी स्थापित किये। अगले ही वर्ष MITS अल्टेयर 8800 बाजार में आया जो इंटेल 8080 CPU पर ही आधारित था। और जैसे ही गेट्स और एलन ने ये सब देखा तो उन्होंने सोचा की खुद की एक सॉफ्टवेयर कंपनी बनाने का यह उनके पास सुनहरा अवसर है। उस समय गेट्स हॉवर्ड स्कूल के असफल छात्र थे। उन्होंने कंपनी खोलने के इस निर्णय के बारे में अपने माता-पिता को बताया, जिन्होंने कंपनी शुरू करते समय गेट्स की बहुत मदद की।

1975 में, गेट्स और पॉल एलन के साथ मिलकर माइक्रोसॉफ्ट की स्थापना की, जो बाद में विश्व की सबसे बड़ी PC सॉफ्टवेयर बनाने वाली कंपनी बनी। माइक्रोसॉफ्ट में उनके करियर के दौरान, गेट्स ने कंपनी के अध्यक्ष, सीईओ और मुख्य सॉफ्टवेयर निर्माता का पद ग्रहण कर रखा था और मई 2014 तक वे विश्व के सबसे बड़े वैयक्तिक शेयरहोल्डर बने रहे. गेट्स बहुत सी किताबो के रचयिता और सह-रचयिता भी है।

गेट्स ने पहले से ही प्रोग्रामिंग में रूचि दिखाई और इसी वजह से आज वो इस मक़ाम में है की दुनिया में सबसे अमीर आदमी के रूप में जाने जाते है। इनका विवाह फ्रांसीसी मेलिंडा के साथ 1 जून 1994 में हुआ। इनके तीन बच्चे है।

बिल गेट्स माइक्रोसॉफ्ट कंपनी की स्थापना की। यह अपने कार्यकाल के दौरान माइक्रोसॉफ्ट में सी.इ.ओ और चीफ सॉफ्टवेयर अरहिटेक्ट के पदो पे रहे। गेट्स ने कई पुस्तको के लेखक और सह-लेखक रह चुके है। अपने कैरियर की बाद के समय में, गेट्स के सन् 2000 में स्थापित बिल और मेलिंडा गेट्स संस्थान के माध्यम से, विभिन्न दातव्य संगठनों और वैज्ञानिक अनुसंधान कार्यक्रमों में बड़ी मात्रा में दान करने के कई लोकोपकारी प्रयास किये हैं।

गेट्स का माइक्रोसॉफ्ट में अंतिम फुल-टाइम दिन 27 जून 2008 में था। इन्होने फ़रवरी 2014 को चेयरमैन के पद से इस्तीफा दे दिया। अब ये माइक्रोसॉफ्ट में अंशकालिक, अकार्यकारी अध्यक्ष के रूप में रहते हैं।

बिल गेट्स जो आज दुनिया के लिए जाना-पहचाना नाम हैं आज दुनिया उन्हे तीन रूप से जानती हैं पहला – माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक के रूप मे, दूसरा – विंडोस के जन्मदाता के रूप मे, और तीसरा दुनिया का सबसे अमीर आदमी के रूप मे।

सामान और पुरूस्कार – Bill Gates Awards

  • सन 2002 में बिल गेट्स और उनकी पत्नी मेलिंडा को अच्छे सामाजिक काम करने के लिए ‘जेफ़र्सन अवार्ड’ दिया गया।
  • सन 2010 में गेट्स को माइक्रोसॉफ्ट में मिली उपलब्धि और उनके परोपकारी कार्य के लिए फ्रेंक्लिन इंस्टिट्यूट द्वारा ‘बोवेर अवार्ड’ दिया गया था।
  • गेट्स और उनकी पत्नी का एक फाउंडेशन भारत में भी है, जिसके द्वारा वे यहाँ के गरीबों के लिए कार्य करते है. इस महान कार्य के लिए बिल गेट्स और उनकी पत्नी मिलिंडा को सन 2010 में भारत सरकार द्वारा भारत के तीसरे बड़े सम्मान ‘पद्म भूषण’ से सम्मानित किया गया था।
  • बिल गेट्स पर बहुत सी फिल्म, डॉक्यूमेंटरी, विडिओ क्लिप्स बन चुकी है. इन पर बहुत सी किताबें भी लिखी गई है, जिसे बिजनेस स्कूल में मुख्य रूप से पढ़ाया जाता है. दुनिया के सभी युवाओं के लिए बिल गेट्स एक बहुत बड़े प्रेरणास्रोत है।

बिल गेट्स की किताबें – Bill Gates Books

  • आगे की योजना (The Road Ahead)(1975)
  • बिजनेस @ द स्पीड ऑफ़ थॉट (Business @ the Speed of Thought)(1999)

ये भी ज़रूर पढ़े :-

Please Note : – Bill Gates Biography & Life History In Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे करे। Bill Gates Short Biography & Life story In Hindi व नयी पोस्ट डाइरेक्ट ईमेल मे पाने के लिए Free Email Subscribe करे, धन्यवाद।

6 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here