बाराबती क़िला ओडिशा का इतिहास | Barabati Fort History in Hindi

Barabati Fort / बाराबती क़िला ओडिशा के कटक में महानदी के किनारे बना हुआ है। यह किला ख़ूबसूरती से तराशे गए दरवाज़ों और नौ मंज़िला महल के लिए प्रसिद्ध है। यह प्रसिद्ध बाराबती स्टेडियम (Barabati Stadium) के बगल में हैं। इस किले का निर्माण गंग वंश द्वारा किया गया था।

बाराबती क़िला ओडिशा का इतिहास | Barabati Fort History in Hindi

बाराबती क़िला ओडिशा का इतिहास – Barabati Fort History in Hindi

बाराबती किला (Barabati Kila) के निर्माण के बारे में विद्वानों के अलग-अलग राय हैं। अधिक मतानुसार बाराबती क़िले का निर्माण अनंगभिमा देव (1189-1223 ईस्वी) ने अपने शासन के 13 वें वर्ष में किया था, अर्थात 1202 ईस्वी में।

हालाँकि इतिहासकारों का कहना है कि किले का निर्माण राजा मारकता केशरी द्वारा 989 ईस्वी में शुरू हुआ था।

बाद में राजा मुकुंद देव ने सन 1560-1568 में निर्माण करवा कर विशाल क़िले का रूप दिया। सन 1568 से 1603 तक यह क़िला अफ़ग़ानियों, मुगलों और मराठा के राजाओं के अधीन था उसके बाद सन 1803 में अंग्रेजों ने इस क़िले कों मराठों से छीन लिया। बाद में वे भुवनेश्वर चले गए और यह क़िला उपेक्षित पड़ा रहा।

ऐसी मान्यता है कि युद्ध के समय नदी के दोनों किनारों पर बने क़िले इस क़िले की रक्षा करते थे। पुरातत्वविदों द्वारा किए गए खुदाई से पता चला है कि किले संरचना में आयताकार था और यह लेटराइट और बलुआ पत्थर की एक दीवार से घिरा हुआ था। हाल के वर्षों में, यहाँ देवताओ और नृत्य महिलाओ के प्रतिमाएं मिली हैं।

वर्तमान में इस क़िले के साथ एक अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍टेडियम है, जो पांच एकड़ में फैले इस स्‍टेडियम में लगभग 30000 से भी ज्‍यादा लोग बैठ सकते हैं। यहां खेल प्रतियोगिताओं और सांस्‍कृतिक कार्यक्रमों का अयोजन होता रहता है।

मुख्य शहर से लगभग 8 किमी की दूरी पर स्थित, बाराबती किला कटक में सबसे लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से एक है।


और अधिक लेख –

Please Note : – Barabati Fort History & Story In Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे करे.

Leave a Comment

Your email address will not be published.