अगुआड़ा किले का इतिहास, जानकारी | Aguada Fort History in Hindi

Aguada Fort / अगुआड़ा किला गोवा में है जो की पुर्तगाली वास्तु का एक नमूना है, इसे 3 साल में बनाया गया था 1609 से 1612 बीच में, अगुआ का मतलब पुर्तगाली में पानी होता है, चुकी ये पानी के पास ही बना था इसलिए इसे अगुआड़ा का किला कहा जाने लगा। यह गोवा के प्रसिद्ध पर्यटक स्थलों में एक हैं।

अगुआड़ा किले का इतिहास, जानकारी | Aguada Fort History in Hindi

अगुआड़ा किले का इतिहास – Aguada Fort History in Hindi

अगुआड़ा किला (Aguada Qila) गोवा के सबसे लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से एक है। पूरे साल यहाँ पर्यटकों का आना-जाना लगा रहता है। यह एक उत्कृष्ट दर्शनीय स्थल और पुर्तगाली साम्राज्य की सांस्कृति का प्रमाण है। किले का निर्माण साल 1609 में पुर्तग़ालिओ ने शुरू किया एवं 1612 के अंत में इससे पूरा किया गया। करीब 400 साल से यह किया यहाँ मजबूती से खड़ा है और इसकी भव्यता अब तक बरक़रार है। इस किले का निर्माण साम्राज्य के सामरिक महत्वा एवं रक्षा आधार के लिए किया गया था।

इस किले को बनाने के पीछे मकसद था की मंडोवी नदी के जरिए गोवा में प्रवेश करने वाले जहाजों पर निगरानी रख सकें। इसके साथ ही इस किले का एक दूसरा लक्ष्य पुराने गोवा को दुश्मनों से बचाने के लिए उपयोग में लाना भी था। 1540 में निर्मित कैबो राज निवास अगुआदा फोर्ट के ठीक सामने है। इसे 1594 में स्थानीय गवर्नर के निवास के रूप में तब्दील कर दिया गया था। किले में वास्तुकला के बेहतरीन नमूने देखने को मिलते हैं।

यहां पर स्थित अगुआड़ा लाइट हाउस एशिया का सबसे पुराना लाइटहाउस है। यह एक चार मंजिला ढांचा है। इसके अलावा यहाँ अगुआदा जेल भी है जो गोवा के सबसे बड़े जैलो में से एक है। हालाँकि इसे सार्वजनिक यात्रा के लिए बंद कर दिया गया है।

इससे भी कुछ बेहतर यह है कि अगुआदा का किला ओर इसका लाईटहाउस जहाँ से अरब सागर का अद्भुत नज़ारा देखा जा सकता है, अगुआड़ा नामक प्राचीन बीच और पाँच सितारा रिसॉर्ट, ताज विवांता से घिरे हुए है। अगुआड़ा का किला और अगुआड़ा बीच भी प्रसिद्ध कैंडोलिम बीच से कुछ ही दूरी पर हैं।


और अधिक लेख –

Leave a Comment

Your email address will not be published.