आँखों की रौशनी बढ़ाने के सरल उपाय Aankhon Ki Roshni Kaise Badhaye

0

Home Remedies To Improve Eye Sight in Hindi – इस खूबसूरत दुनिया को देखने के लिए खुदा ने हमारी आँखे दी हैं। अगर आँखे ना हो तो आप अंदाज़ा लगा सकते क्या हो सकता हैं सबकुछ हमारे पास रहते हुए भी हम इससे अनजान बने रहेंगे। इसलिए आँखो ख्याल रखना बहुत ज़रूर हैं। इस भाग-दौड़ भरी जिंदगी मे कही धूल तो कही किसी भी चीज़ का सामना करना पड़ता है और इससे बचने के लिए हमेशा आँखे बंद करके तो नही रह सकते हैं। साथ ही उमर के साथ-साथ आँखो की रोशनी भी धीरे-धीरे कम होती जाती हैं ऐसे समय मे हमे इसका बचाव करना चाहिए। आँखो की रौशनी हमारे आहार और जीवन शैली पर भी निर्भर करती हैं आइए कुछ तरीके बताता हूँ आँखो को सेफ रखने का…

Eyes - Aankhon Ki Roshni Kaise Badhaye,

आँखों की रौशनी कम होने वजह  – What Causes Low Vision? 

 ज़्यादा देर तक कंप्यूटर, लॅपटॉप या मोबाइल चलना,

 ज़्यादा नज़दीक से टीवी देखना

 कम रौशनी मे पढ़ाई करना

 कम सोना / नींद कम लेना

 आँखो मे कचड़ा जाने से

आँखों की रौशनी बढ़ाने के घरेलू नुस्खे – How to improve eyesight Naturally 

 दिन भर का कचरा साफ करने के लिए आँखो को धोना ज़रूरी हैं। धोने की विधि – सुबह उठकर मूह मे पानी भरकर आँखे खोलकर साफ पानी के छीटे आँखो मे मारे इससे आँखो की रौशनी बढ़ेगी।

 एक चम्मच गाजर के रस मे दो चम्मच आँवले का रश मिलाकर पीने से आँखो की रौशनी बढ़ती हैं।

 प्रात : खाली पेट आधा चम्मच ताज़ा मक्खन, आधा चम्मच पीसी हुई मिश्री और 5 पीसी हुई काली मिर्च मिलाकर चाट ले। इसके बाद कच्चे नारियल के गिरी के 2-3 टुकड़े खूब चबा-चबाकर खाए और साथ मे थोड़ी सौप चबाकर खा ले फिर 2 घंटे तक कुछ भी ना खाए, ये काम लगभग 2-3 महीना तक करे।

 बादाम, सौंफ और मिश्री को बराबर मात्रा में लेकर उसे पीस लें। इस मिश्रण का 10 ग्राम हिस्सा 250 मिली दूध के साथ रात में सोने से पहले लें। 40 दिन तक लगातार इसे इस्तेमाल करने से आप महसूस करेंगे कि आंखों की रोशनी बढ़ी है। याद रहे इसे लेने के दो घंटे बाद तक पानी न पिएं।

 दो चम्मच साबुत धनिया रात भर मिट्टी के बर्तन मे भिगोकर रखे. सुबह मथकर छानकार पिये. और साथ मे धनिया छबाए. ये भी आँखो की रौशनी बढ़ने मे मददगार साबित होती हैं।

 प्रात : सुबह सूरज निकलने से पहले हरे घास पर 20-25 नंगे पांव टहले, घास पर ओस की नमी रहती हैं नंगे पाँव टहलने से आँखो का तनाव कम होता हैं और आँखो की रौशनी बढ़ती हैं।

 आँवले का रस मे एक चम्मच शहद मिलाकर खाली पेट पीने से आँखो की रौशनी मे सुधार होती हैं।

 गाय का शूध घी हल्का-हल्का आँखो मे लगाए. रौशनी बढ़ेगी।

 दो चम्मच त्रिफला, रात को एक गिलास पानी मे भिंगो दे इसे सुबह छानकर रख ले. इस पानी से आँखे धोये।

 आँखों मे गुलाब जल डालने से भी आँखो की रौशनी तेज होती हैं, गुलाब जल डालने से पहले उसका क्वालिटी देख ले, लो क्वालिटी का उज ना करे।

 आँखो को स्वस्थ रखने के लिए. इंफेक्सन कम करने के लिए विटामिन A बहुत ज़रूरी है और मूली मे विटामिन A पाया जाता है सो मूली का सेवन करे।

  चश्मा हटाने के लिए और आँखों की रौशनी बढ़ने के लिए. रात को सोने से पहले पैरो को अच्छी तरीका से धो ले. उसके बाद पैरो के तलवे मे सरसो तेल का मालिश करे, रोजाना ऐसा करने 100% आपकी प्राब्लम सॉल्व होगी।

 आंवला में विटामिन सी की मात्रा ज्यादा होने से यह आंखों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। आंवला का सेवन पाउडर, कैप्सूल, जैम या जूस की तरह किया जा सकता है। हर सुबह शहद के साथ ताजा आमले का रस पीने से या रात में सोने से पहले पानी के साथ एक चम्मच आमला पाउडर खाने से भी फायदा मिलता है।

  आँखो की रौशनी तेज करने के लिए फ्रूट का सेवन करे – जैसे अंगूर, संतरा, नींबू और पपीता।

  अगर आपकी दृष्ट कमजोर हो गयी हैं तो खाने मे हरी सब्जियों की मात्रा बढ़ाए।

  आँखो के पास अखरोट के तेल का मालिश करे. रोजना मालिश करने से ये आपके आँखो के लिए बहुत फ़ायदेमंद साबित होगा।

  एक चम्मच त्रिफला पाउडर को पानी में जाल कर रात भर के लिए छोड दें। अगली सुबह इस पानी को छान कर इसी से आंखें धुलें। साथ ही अगर आंखें धुलते वक्त मुंह में ताजा पानी भरे रखेंगे तो और भी फायदा मिलेगा। एक ही महीने में आपको फर्क महसूस होगा।

  पालक का साग, पत्‍ता गोभी तथा हरी पत्‍तेदार सब्‍जियों में कैरोटिनॉइड पाया जाता है जो पीले रंग का पदार्थ होता है और यह मैक्‍युला( रेटिना का क्षेत्र जो कि सेंट्रल विजन के लिये जिम्‍मेदार होता है) को बचाता है।

आँखों की देख भाल करे – Ankho ki dekhbhal kaise kare

देखभाल करना बहुत ज़रूरी है। कुछ चीज़ें जैसे नियमित रूप से आँखों के डॉक्टर को दिखाना, पर्याप्त सोना और कंप्यूटर का उपयोग करते समय अपनी आँखों को नियमित ब्रेक देने से आपकी आँखों को स्वस्थ रखने में मदद मिल सकती है। अगर आपको दृष्टी सम्बन्धी कोई परेशानी हो तो यथासम्भव जल्दी से जल्दी एक नेत्रविशेषज्ञ के साथ अपॉइंटमेंट लेने का कार्यक्रम बनाना चाहिए।

आँखों में नमी बनाए रखने के लिए अधिक से अधिक पानी पिएं और जूस का भी सेवन करें। विषयगो के अनुसार ग्रीन टी आँखों के लिए बहुत फ़ायदेमंद हैं। इसमें केटेचिंस नामक एंटीआक्सीडेंटस होते हैं, जो आँखों की रक्षा करते हैं। आँखों की देखभाल के लिए योग और प्राणायाम करें। विशेष रूप से अनुलोम विलोम और प्राणायाम करें, क्योंकि ये नाज़ुक आँखों के लिए बेस्ट रिज़ल्ट लाता है।

Note :- कृपया ध्यान दे साइट मे दी गयी उपाय का इस्तेमाल आपके विवेक पर निर्भर करता हैं। किसी प्रकार की असुविधा होने पर साइट की ज़िम्मेवारी नही रहेगी।

Also Read More :-

Note : How to Maintain Health of the Eye Tips In Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे करे. Alia Bhatt Short Biography & Life story In Hindi व नयी पोस्ट डाइरेक्ट ईमेल मे पाने के लिए Free Email Subscribe करे, धन्यवाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here