एक्सरसाइज करने का सही तरीका | Exercise Tips in Hindi

Exercise – एक्सरसाइज हमारे शरीर के लिए बहुत आवश्यक है। एक्सरसाइज तनाव कम करने और कैलोरी बर्न करने के लिए बहुत फायदेमंद होती हैं। सबसे अच्छी बात है कि आप एक्सरसाइज को घर में या पार्क में ही आसानी से कर सकते हैं। इसके लिए आपको जिम जाने की जरूरत नही है। जैसे हमारे जीवन मे आहार जरूरी है, उसी तरह से व्यायाम भी जरूरी है। अच्छे सेहत के लिए रोजाना व्यायाम की आदत डालें।

एक्सरसाइज करने का सही तरीका | Exercise Tips in Hindi

व्यायाम करने के तरीके – Exercise ke Tarike 

आमतौर पर व्यायाम को मानव शरीर पर पड़ने वाले इसके समग्र प्रभाव के आधार पर तीन प्रकार में बांटा जा सकता है:-

नम्यक (लचीलापन) व्यायाम जैसे कि शरीर के भागों को खींचना (स्ट्रेचिंग) मांसपेशियों और जोड़ों की गति की सीमा में सुधार करता है।

एरोबिक व्यायाम जैसे साईकिल चलाना, तैराकी, घूमना, नौकायन, दौड़, लंबी पैदल यात्रा या टेनिस खेलना आदि से हृदय के स्वास्थ्य में सुधार होता है।

एनारोबिक व्यायाम, जैसे वजन उठाना, क्रियात्मक प्रशिक्षण या छोटी दूरी की तेज दौड़ (स्प्रिन्टिंग), अल्पावधि के लिए पेशी शक्ति में वृद्धि करती है।

व्यायाम कैसे करें – Fitness Exercise Tips in Hindi

व्यायाम हमेशा शुद्ध वायु में खाली पेट और शौच के बाद प्रातःकाल ही करना चाहिए। सुबह संभव न होने पर शाम दोपहर के भोजन के कम से कम चार घंटे बाद व्यायाम किया जा सकता है।

व्यायाम के समय शरीर पर मौसम के अनुसार कम से कम वस्त्र होने चाहिए। वस्त्र ढीले होने चाहिए, ताकि शारीरिक क्रियाओं में बाधा न डालें।

जल का सेवन व्यायाम के तुरन्त बाद किया जा सकता है, लेकिन उसके आधा घंटे बाद ही कुछ खाना चाहिए। व्यायाम के 15 मिनट बाद गुनगुना दूध पीना स्वास्थ्यवर्द्धक है।

व्यायाम हमेशा प्रसन्न मन से और पर्याप्त समय होने पर ही करना चाहिए। दुःख में, क्रोध में, चिन्ता में या जल्दबाजी में व्यायाम करने से लाभ के स्थान पर हानि ही होती है। इसलिए ऐसे अवसरों पर व्यायाम न करना ही उचित है।

सबसे अच्छा तो यह है कि आप किसी पार्क में जाकर व्यायाम करें। यदि यह सम्भव न हो, बालकनी में, जहां शुद्ध हवा चलती हो, व्यायाम करना चाहिए। यदि यह भी सम्भव न हो या मौसम की प्रतिकूलता के कारण बाहर न निकल सकते हों, तो किसी बड़े कमरे में व्यायाम किया जा सकता है। तेज चलते पंखे के सामने या नीचे व्यायाम नहीं करना चाहिए। इससे अच्छा है कि पंखा धीमा कर दें और पसीना निकलने दें।

व्यायाम कभी भी झटके से नहीं करना चाहिए। जहां झटका देना आवश्यक है वहां भी एक लय के साथ झटके देने चाहिए। कभी भी शरीर में आवश्यकता से अधिक जोर नहीं डालना चाहिए। इससे लाभ के स्थान पर हानि भी हो सकती है।

व्यायाम नियमित करना आवश्यक है। कभी करने और कभी न करने से व्यायाम का पूरा लाभ नहीं मिलता और हानि होने का भी डर रहता है। लेकिन सप्ताह में कम से कम 5 दिन व्यायाम अवश्य कर लेने चाहिए।

और अधिक लेख –

Exercise Kaise Kare या Exercise Karne Ke Tarike कैसी लगी comment करके जरूर बताएं और पोस्ट को Like और Share करना ना भूलें। धन्यवाद।

3 thoughts on “एक्सरसाइज करने का सही तरीका | Exercise Tips in Hindi”

Leave a Comment

Your email address will not be published.