चन्द्रगिरी क़िला, केरल | Chandragiri Fort History in Hindi

Chandragiri Fort / चन्द्रगिरी क़िला केरल में दक्षिण-पूर्व कसरगोड में चन्द्रगिरी नदी के किनारे अवस्थित है। इस किले को 17वीं शताब्दी में बेदानोर के शिवप्पा नायक द्वारा बनवाया गया था। चन्द्रगिरी नदी के दक्षिणी तट पर बने इस किले के दूसरी तरफ पायसविनी नदी बहती है। किल के नजदीक ही एक मस्जिद और सस्था मंदिर बना हुआ है। विशाल वर्गाकार में बना यह किला कसरगोड नगर से 3 किलोमीटर की दूरी पर है।

चन्द्रगिरी क़िला केरल का इतिहास, जानकारी - Chandragiri Fort History in Hindi

चन्द्रगिरी क़िला केरल का इतिहास, जानकारी – Chandragiri Fort History in Hindi

यह किला नारियल के पेड़ों द्वारा सजा हुआ, पुराने क़िले के साथ एक आकर्षक पर्यटन स्थल है, जिसके साथ एक नदी बह रही है और इसके एक तरफ अरब सागर है। इसके अलावा, क़िले की दक्षिणी दीवार सूर्यास्त देखने के लिए एक आदर्श स्थल है।

इस क़िले का निर्माण 17वीं शताब्दी में बेदनूर के शिवप्पा नायक द्वारा करवाया गया था। चन्द्रगिरी नदी के दक्षिणी तट पर बने इस क़िले के दूसरी तरफ पायसविनी नदी बहती है। क़िले के नजदीक ही एक मस्जिद और मंदिर बना हुआ है। विशाल वर्गाकार क्षेत्र में निर्मित यह क़िला कसरगोड नगर से 3 कि.मी. की दूरी पर है।

केरल के इस क़िले की अपनी एक कहानी है। कई सौ वर्ष पहले चन्द्रगिरी नदी को ‘कोलाथुनाडू’ एवं ‘थुलुनाडू’ की सीमा माना जाता था। दोनों ही राज्य बहुत शक्तिशाली थे। जब विजयनगर के राजा ने थुलुनाडू पर कब्ज़ा कर लिया तो चन्द्रगिरी विजयनगर साम्राज्य का एक भाग बन गया।

सोलहवीं शताब्दी में शक्तिशाली विजयनगर साम्राज्य का पतन हुआ। तब चन्द्रगिरी एक स्वतंत्र राज्य बना और सुरक्षा के लिए चंद्रगिरी क़िले का निर्माण किया गया। बाद में यह क़िला मैसूर के हैदर अली के पास था और इसके बाद यह ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी के पास चला गया। वर्तमान में चन्द्रगिरी क़िला केरल राज्य के पुरातात्विक विभाग द्वारा संरक्षित है।

यह किला प्रयत्नों के लिए आकर्षित जगह हैं। यहां पहुंचने के लिए – बेकल शहर सड़क द्वारा कई जगहों से जुड़ा हुआ है। शहर से आने-जाने के लिए नियमित अंतराल पर बस एवं टैक्सी उपलब्ध हैं। बेकल से मेंगलोर 50 किमी एवं कन्नूर 94 किमी दूर हैं।


और अधिक लेख –

Please Note : – Chandragiri Fort History In Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे करे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here