आचार्य ओशो के अनमोल विचार | 100 Quotes of Osho Rajneesh In Hindi

Osho / ओशो (जीवन – 11 दिसम्बर 1931 – 19 जनवरी 1990) जिनका दूसरा नाम रजनीश चंद्र मोहन था भारत के अध्यात्मिक गुरूओं में से एक थे। ऐसे आध्यात्मिक शिक्षक थे जिनके चाहने वाले पूरी दुनिया में फैले हुए हैं. अपने खुले विचारों की वजह से जहाँ उन्हें लाखों शिष्य मिलें वहीँ कई मंचों पर उनकी निंदा भी हुई. उनकी मृत्यु के 25 साल बाद भी उनका साहित्य लोगों तक उनके सन्देश पहुंचा रहा है और लोगों का मार्गदर्शन कर रहा है. गुरु रजनीश ने प्रचलित धर्मों की व्याख्या की तथा प्यार, ध्यान और खुशी को जीवन के प्रमुख मूल्य माना। आइए जाने ओशो रजनीश के अनमोल विचार..

Osho Rajneesh Quotes In Hindi, ओशो रजनीश के महत्वपूर्ण अनमोल विचार

ओशो के अनमोल विचार – Osho Rajneesh Quotes In Hindi :-


Quote 1 : कोई आदमी चाहे लाखों चीजें जान ले। चाहे वह पूरे जगत को जान ले। लेकिन अगर वह स्वयं को नहीं जानता है तो वह अज्ञानी है।

Quote 2 : जब प्यार और नफरत दोनों ही ना हो तो हर चीज साफ़ और स्पष्ट हो जाती है।

Quote 3 : आपके जैसा इंसान दुनिया में कभी नहीं होगा, दुनिया में अभी आपके जैसा दूसरा इंसान कही नहीं है, और ना ही आपके जैसा कभी भविष्य में कोई होगा।

Quote 4 : जो व्यक्ति भीतर सत्य को अनुभव करता है, उसका सारा जीवन सौदर्य से, शांति से और संगीत से भर जाता है। उसका सारा जीवन उन प्रतिध्वनियों को, उन तरंगों को प्रवाहित करने लगता है, जो सारे जगत के लिए शांति की और शीतलता की छाया बन सकती है।

Quote 5 : यदि आप एक दर्पण बन सकते हैं तो आप एक ध्यानी बन सकते हैं। ध्यान दर्पण में देखने की कला है. और अब, आपके अन्दर कोई विचार नहीं चलता इसलिए कोई व्याकुलता नहीं होती।

Quote 6 : अगर आप सच देखना चाहते हैं तो ना सहमती और ना असहमति में राय रखिये।

Quote 7 : परिणाम पाने के लिए आसानी से आगे बढ़ते रहे, भगवान के आदेश से ही सारे काम संपन्न होते है.

Quote 8 : कोई चुनाव मत करिए. जीवन को ऐसे अपनाइए जैसे वो अपनी समग्रता में है।

Quote 9 : जीवन ठहराव और गति के बीच का संतुलन है।

Quote 10 : उस तरह मत चलिए जिस तरह डर आपको चलाये. उस तरह चलिए जिस तरह प्रेम आपको चलाये. उस तरह चलिए जिस तरह ख़ुशी आपको चलाये।

Quote 11 : किसी से किसी भी तरह की प्रतिस्पर्धा की आवश्यकता नहीं है. आप स्वयं में जैसे हैं एकदम सही हैं. खुद को स्वीकारिये।

Quote 12 : आप जितने लोगों को चाहें उतने लोगों को प्रेम कर सकते हैं – इसका ये मतलब नहीं है कि आप एक दिन दिवालिया हो जायेंगे, और कहेंगे,” अब मेरे पास प्रेम नहीं है”. जहाँ तक प्रेम का सवाल है आप दिवालिया नहीं हो सकते।

Quote 13 : केवल वो लोग जो कुछ भी नहीं बनने के लिए तैयार हैं प्रेम कर सकते हैं.

Quote 14 : जब आप हंस रहे होते हैं, तो ईश्वर की ईबादत कर रहे होते हैं। और जब आप किसी को हँसा रहे होते हैं, तो ईश्वर आपके लिए ईबादत कर रहा होता है।

Quote 15 : सवाल ये नहीं है कि कितना सीखा जा सकता है…इसके उलट, सवाल ये है कि कितना भुलाया जा सकता है।

Quote 16 : मित्रता शुद्धतम प्रेम है. ये प्रेम का सर्वोच्च रूप है जहाँ कुछ भी नहीं माँगा जाता, कोई शर्त नहीं होती, जहां बस देने में आनंद आता है।

Quote 17 : मूर्ख दूसरों पर हँसते हैं. बुद्धिमत्ता खुद पर।

Quote 18 : जिस समय आपको आपके प्यार और आपके सच में से किसी एक को चुनना पड़ता है तब आपका सच ही आपके लिए निर्णायक साबित हो सकता है.

Quote 19 : कोई प्रबुद्ध कैसे बन सकता है? बन सकता है, क्योंकि वो प्रबुद्ध होता है – उसे बस इस तथ्य को पहचानना होता है।

Quote 20 : जिस दिन आप ने सोच लिया कि आपने ज्ञान पा लिया है, आपकी मृत्यु हो जाती है- क्योंकि अब ना कोई आश्चर्य होगा, ना कोई आनंद और ना कोई अचरज. अब आप एक मृत जीवन जियेंगे।

Quote 21 : जो इंसान जिंदगी के मज़े ले रहा हो उसे मालिक बनने की कोई चाह नहीं होती है, क्योंकि वह जीवन के असली आनंद के बारे में जानता है, वह जानता है की ख़ुशी कभी खरीदी नहीं जा सकती।

Quote 22 : यहाँ कोई भी आपका सपना पूरा करने के लिए नहीं है. हर कोई अपनी तकदीर और अपनी हक़ीकत बनाने में लगा है।

Quote 23 : ये समाज बीमार है : जिसमें अकेले लोग पीड़ित है. समाज को इलाज की जरूरत है : इसके लिए अकेले इंसान को प्यार करने की जरूरत है. समाज एक मरीज बन चूका है जिसे अस्पताल की जरूरत है।

Quote 24 : आत्मज्ञान एक समझ है कि यही सबकुछ है, यही बिलकुल सही है, बस  यही है. आत्मज्ञान कोई उप्लाब्धि नही है, यह ये जानना है कि ना कुछ पाना है और ना कहीं जाना है।

Quote 25 : आपके अलावा कोई आपकी परिस्थिति के लिए जिम्मेदार नहीं है. कोई आपको गुस्सा नहीं दिला सकता और कोई आपको खुश भी नहीं कर सकता।

Quote 26 : जैन एकमात्र धर्म है जो एकाएक आत्मज्ञान सीखता है. इसका कहना है कि आत्मज्ञान में समय नह लगता, ये बस कुछ ही क्षणों में हो सकता है।

Quote 27 : अधिक से अधिक भोले, कम ज्ञानी और बच्चों की तरह बनिए. जीवन को मजे के रूप में लीजिये – क्योंकि वास्तविकता में यही जीवन है।

Quote 28 : अर्थ मनुष्य द्वारा बनाये गए हैं . और चूँकि आप लगातार अर्थ जानने में लगे रहते हैं , इसलिए आप अर्थहीन महसूस करने लगते हैं।

Quote 29 : जब मैं कहता हूँ कि आप देवी-देवता हैं तो मेरा मतलब होता है कि आप में अनंत संभावनाएं है, आपकी क्षमताएं अनंत हैं।

Quote 30 : आप वो बन जाते हैं जो आप सोचते हैं कि आप हैं।

Quote 31 : प्रश्न ये नहीं है की क्या मृत्यु के बाद भी जिंदगी रहेंगी. प्रश्न तो ये है की क्या आप मृत्यु से पहले जिंदगी जी सकोगे।

Quote 32 : जेन लोग बुद्ध को इतना प्रेम करते हैं कि वो उनका मज़ाक भी उड़ा सकते हैं. ये अथाह प्रेम कि वजह से है; उनमे डर नहीं है।

Quote 33 : प्यार तभी सच्चा होता है जब कोई एक दूसरे के व्यक्तिगत मामलों में दखल ना दे. प्यार में दोनों को एक-दूसरे का सम्मान करना चाहिये।

Quote 34 : प्रसन्नता सद्भाव की छाया है; वो सद्भाव का पीछा करती है. प्रसन्न रहने का कोई और तरीका नहीं है।

Quote 35 : जीवन कोई त्रासदी नहीं है; ये एक हास्य है. जीवित रहने का मतलब है हास्य का बोध होना।

Quote 36 : कुछ करना अहंकार का निर्माण करता है. अहंकार हमारी क्रिया की ही परछाई है. यहाँ एक ही चीज़ है जो हम नहीं करते है और वह है – जागरूकता और सतर्कता।

Quote 37 : जिंदगी कोई मुसीबत नहीं है बल्कि ये तो एक खूबसूरत तोहफा है।

Quote 38 : प्यार एक पक्षी है जिसे आज़ाद रहना पसंद है. जिसे बढ़ने के लिए पूरे आकाश की जरूरत होती है।

Quote 39 : ये कोई मायने नहीं रखता है की आप किसे प्यार करते हो, कहा प्यार करते हो, क्यों प्यार करते हो, कब प्यार करते हो और कैसे प्यार करते हो, मायने केवल यही रखता है की आप प्यार करते हो।

Quote 40 : यदि किसी का ऐसा मानना हो की कही और जाए, तो निश्चित ही वह आपके रास्ते में कभी नहीं आयेगा. लेकिन किस्मत से यदि आप ऐसा मानो तो ये आपके जीवन से कभी नहीं जायेगा।

Quote 41 : यदि आप तुलना करना छोड़ो तो जिंदगी निश्चित ही बहुत सुन्दर है. यदि आप तुलना करना छोड़ दो तो आपकी जिंदगी खुशियों से भरी होंगी।

Quote 42 : जब भी आप प्यार की योजना बनाते हो और जब भी आपका ध्यान पूरी तरह से उसमें शामिल हो जाता है तब ये झुटा और पाखंडी बन जाता है।

Quote 43 : दोस्ती ही सबसे शुद्ध प्यार है. प्यार करने का ये सबसे ऊँचा स्तर है जहां किसी भी परिस्थिति के लिए किसे से नहीं पूछा जाता, सिर्फ और सिर्फ एक दूसरे को खुशी दी जाती है।

Quote 44 : एक बार जब मैं यात्रा कर रहा था तभी किसी ने मुझसे पूछा की इंसानी शब्दकोश में सबसे महत्वपूर्ण शब्द कौन सा है. मैंने नम्रता से जवाब दिया, प्यार।

Quote 45 : ये दुनिया एक खेल है. जहां आज भी जितने वाले हारने के समान है और हारने वाले जितने के समान है, इसी तरह जिंदगी भी एक खेल है. जहां कुछ कहते है की वे नहीं जानते और कुछ जानते है की वे नहीं कहते।

Quote 46 : बुद्धि कभी भी एक सीमा में रहने से नहीं बढ़ती, बुद्धि तो प्रयोगों से बढ़ती है. बुद्धि हमेशा चुनौतियों को अपनाने से ही बढ़ती है।

Quote 47 : प्यार एक शराब है. आपने उसका स्वाद लेना चाहिये, उसे पीना चाहिये, उसमें पूरी तरह से डूब जाना चाहिये. तभी आपको पता चल पाएंगे की वह क्या है।

Quote 48 : जो लोग ये पूछते है की जीवन का क्या महत्व है? असल में ऐसे लोगों ने जीवन को ही खो दिया है. वे सिर्फ अपनी सांस लेने के वजह से ही जिंदा है बाकी अंदर से तो वो कब के मर चुके होते है।

Quote 49 : प्यार की सर्वश्रेष्ठ सीमा आज़ादी है, पूरी आज़ादी. किसी भी रिश्ते के खत्म होने का मुख्य कारण आज़ादी का न होना ही है।

Quote 50 : अपने भूतकाल का अनावश्यक बोझ ना रखे. केवल उन्हीं विषयों के नजदीक जाए जिसे आपने पढ़ा हो, ऐसा करने से कभी आपको बार-बार पीछे मुड़ने की जरूरत नहीं होंगी।

Quote 51 : हमेशा सावधान रहे. अपने अंतः करण में झांके, आप पाओगे की आप नकारात्मक विचारो से जुड़े हो. और ये नकारात्मक विचार आपका अहंकार ही है।

Quote 52 : आपका दिल ही आपका सबसे बड़ा शिक्षक है, आपको उसी की सुननी चाहिये. लेकिन जीवन की यात्रा में आपका अंतर्ज्ञान ही आपका शिक्षक होता है।

Quote 53 : समर्पण तो वह करता है, जो कहता है की मेरे पास तो कुछ भी नहीं है, मैं तो कुछ भी नहीं हूँ – जो दावा कर सकूँ की मुझे मिलना चाहिए. मैं तो सिर्फ प्रार्थना कर सकता हूँ, मैं तो सिर्फ चरणों में सिर रख सकता हूँ, मेरे पास देने को कुछ भी नहीं है।

Quote 54 : जिन्दगी में आप जो करना चाहते है, वो जरूर कीजिये, ये मत सोचिये कि लोग क्या कहेंगे। क्योंकि लोग तो तब भी कुछ कहते है, जब आप कुछ नहीं करते।

Quote 55 : शुद्ध का अर्थ है – प्रमादी. शुद्ध का अर्थ है – सोया हुआ. शुद्ध का अर्थ है – आलस्य, तमस से घिरा हुआ. शुद्ध का अर्थ है – जो कुछ भी नहीं कर रहा है, न बाहर जा रहा है न भीतर जा रहा है, जो प्रमाद में, अंधेरे में सोया रह गया है।

Quote 56 : कर्म नहीं बांधते, करता बांध लेता है, कर्म नहीं छोड़ता है, करता छुट जाये तो छुटना हो जाता है।

Quote 57 : सिर्फ आपके पाप ही आपको दुखी कर सकते है. जो आपको अपने आप से दूर ले जाने की कोशिश करते है, ऐसी चीज़ों को अनदेखा करना ही बेहतर होगा।

Quote 58 : वह इंसान जो अकेले रहकर भी खुश है असल में वही इंसान कहलाने योग्य है. यदि आपकी ख़ुशी दूसरों पर निर्भर करती है तो आप एक गुलाम हो. अभी आप पूरी तरह से मुक्त नहीं हुए हो अभी आप बंधन (गुलामी) में बंधे हो।

Quote 59 : एक शराबी बने, जिसमें जीवन के अस्तित्व की शराब को पिए. कभी भी मासूम ना बने, क्योंकि मासूम हमेशा मरे हुए होते है।

Quote 60 : जो विचार के गर्भ धान के विज्ञान को समझ लेता है वह उससे मुक्त होने का मार्ग सहज ही पा जाता है।

Quote 61 : आत्महत्या आपको कही नहीं ले जाती. साधारणतः यह हमें हमारी चेतना (गर्भाशय) में छोटे रूप (स्तर) में ले जाती है. क्योंकि आत्महत्या से ये साबित होता है की हम बड़े रूप (स्तर) में जीने के काबिल नहीं है।

Quote 62 : वह इंसान जो भरोसा करता है वह जिंदगी में आराम करता है. और वह इंसान जो भरोसा नहीं करता वह परेशान, डरा हुआ और कमजोर रहता है।

Quote 63 : अनुभूति को दो शब्द देते ही विचार का जन्म हो जाता है. यह प्रतिक्रिया, यह शब्द देने की आदत अनुभूति को,दर्शन को विचार से आच्छादित कर देती है. अनुभूति दब जाती है, दर्शन दब जाता है और शब्द चित्त में तैरते रह जाते है. ये शब्द ही विचार है।

Quote 64 : आधे-अधूरे ज्ञान के साथ कभी आगे ना बढे. ऐसा करने पर आपको लगेगा कि आप अज्ञानी हो, और अंत तक अज्ञानी ही बने रहोगे।

Quote 65 : मुझे आज्ञाकारी लोगों जैसे अनुयायी नहीं चाहिये. मुझे बुद्धिमान दोस्त चाहिये, जो यात्रा के समय मेरे सहयोगी हो।

Quote 66 : आपका स्वर्ग और आपकी ख़ुशी हमेशा कही ना खी होती ही है. ये कभी वहाँ नहीं मिलेंगी जहां आप हो. एक सच्ची ख़ुशी हमेशा ‘यहाँ’ होती है, और ‘अभी’ होती है।

Quote 67 : त्यागी कभी समर्पित नहीं होता, त्यागी आदमी कभी समर्पण नहीं करता वह कहता है की मेरे पास कारण है, मैंने इतना छोड़ा अब मुझे मिलना चाहिए।

Quote 68 : जीवन का कोई महत्व नहीं है. खुश रहो! फिर भी जीवन का कोई महत्व नहीं होगा. नाचो, गाओ, झूमो! फिर भी जीवन का कोई महत्व नहीं होगा. आपको विचारशील (Serious) बनने की जरूरत है. ये एक बहुत बड़ा मजाक होगा।

Quote 69 : यदि आप खुद अपनी कंपनी का आनंद नहीं लेते हो. तो कोई और उस से आनंदित कैसे हो सकता है?

Quote 70 : जीवन एक उद्देशहीन खेल है, ये एक अनगिनत सेनाओं का खेल है – जो सुन्दर होगा यदि आपके पास सफल इंसान का दिमाग ना हो तो और बदसूरत होगा यदि आपके पास कुछ बनने की चाह हो तो।

Quote 71 : जब मैं ये कहता हूँ की तुम ही भगवान हो तुम ही देवी हो तो मेरा मतलब यह होता है की तुम्हारी संभावना अनंत है और तुम्हारी क्षमता भी अनंत है।

Quote 72 : श्रेष्ठता से सोचने वाला हमेशा तुच्छ कहलाता है, क्योंकि ये एक ही सिक्के के दो पहलू है।

Quote 73 : आपका विवाह राजनीतिक शासन करने का छोटा रूप है. जिसमें आपके माता और पिता छोटे राजनेता होते है।

Quote 74 : आपके सारे विश्वास आपका दम घोटते चले जाते है और सारे विश्वास आपको जिंदा भी नहीं रख सकते. आपका विश्वास ही आपके जीवन को मारता है।

Quote 75 : जब तक आदमी सृजन की कला नहीं जानता तब तक अस्तित्व का अंश नहीं बनता।

Quote 76 : अपने रिश्ते में हमेशा सुखद रहे, तनहाई में हमेशा सतर्क रहे. ये दोनों बातों आपके लिए हमेशा मददगार साबित होंगी क्योंकि ये बाते एक पक्षी के दो पंखों के समान है।

Quote 77 : एक बच्चे को विशाल एकांतता की जरूरत होती है, उसे ज्यादा से ज्यादा एकांतता में रहने देना चाहिये, ताकि वह अपने आप को विकसित कर सके।

Quote 78 : अपने जीवन को संगीतपूर्ण बनाओ, ताकि काव्य का जन्म हो सके। और फिर सौदर्य ही सौंदर्य है, और सौदर्य ही परमात्मा का स्वरूप है।

Quote 79 : संसार सुन्दर है क्योंकि इसे ईश्वर ने बनाया है। जो संसार को गंदा कहता है, वह ईश्वर का तिरस्कार कर रहा है।

Quote 80 : जीवन क्या है? कुछ नहीं, ठेहराव और गति के बीच का संतुलन।

Quote 81 : अगर आप सही में सच देखना चाहते हैं तो आप ना सहमती और ना असहमति में राय रखिये।

Quote 82 : बहुत सुन्दर शब्द जो एक मंदिर के दरवाजे़ पर लिखे थे- ‘ठोकरे खा कर भी ना संभले तो मुसाफ़िर का नसीब, वरना पत्थरों ने तो अपना फर्ज निभा ही दिया!’

Quote 83 : मैं तो दो ही शब्दों पर जोर देता हूं- प्रेम और ध्यान। क्योंकि मेरे लिए अस्तित्व के मंदिर के दो ही विराट दरवाजे हैं। एक का नाम प्रेम, एक का नाम ध्यान। चाहो तो प्रेम से प्रवेश कर जाओ, चाहो तो ध्यान से प्रवेश कर जाओ। शर्त एक ही हैः अहंकार दोनों में छोड़ना होता है।

Quote 84 : मनुष्य खुद ईश्वर तक नहीं पहुंचता है, बल्कि जब वह तैयार होता है तो ईश्वर खुद उसके पास आ जाते है।

Quote 86 : इस संसार में मित्रता शुद्धतम् प्रेम है, मित्रता प्रेम का सर्वोच्च रूप है जहां कुछ भी मांगा नहीं जाता, कोई शर्त नहीं होती, जहां बस दिया जाता है।

Quote 87 : शायद मुझे अब तक सबसे अधिक गलत समझा गया है लेकिन इसका मुझ पर कोई असर नहीं। कारण केवल इतना है कि मुझे सही समझे जाने की जिज्ञासा नहीं। यदि वे सही नहीं समझते तो यह उनकी समस्या है, यह मेरी समस्या नहीं है। यदि वे गलत समझते हैं तो यह मेरी नहीं, उनकी समस्या है, उनका दुख है। मैं अपनी नींद नहीं खराब करूंगा यदि लाखों लोग मुझे गलत समझ रहे हैं।

Quote 88 : दिल भूतकाल, और भविष्य के बारे में कुछ नहीं जानता है, यह सिर्फ वर्तमान के बारे ही जानता है. दिल का कोई समय संकल्पना नहीं है

Quote 89 : उस तरह मत चलिए जिस तरह डर तुम्हे चलाये, उस तरह चलिए जिस तरह प्रेम तुम्हे चलाये, उस तरह चलिए जिस तरह खुशी तुम्हे चलाये।

Quote 90 : सारी शिक्षा व्यर्थ है, सारे उपदेश व्यर्थ है, अगर वे तुम्हें अपने भीतर डूबने की कला नहीं सीखाते।

Quote 91 : जहां आपको लगता है कि कुछ निंदा हो रही है वहीं आपको रस आता है, रस आता है क्योंकि दूसरा आदमी छोटा किया जा रहा है और उसके छोटे होने से आपको अंदर से अनुभव होता है कि मैं बड़ा हूं।

Quote 92 : जिंदगी को अगर हमें जिंदा बनाना है, तो बहुत सी जिंदा समस्याएं खड़ी हो जाएंगी। लेकिन होनी चाहिए और अगर हमें जिंदगी को मुर्दा बनाना है, तो हो सकता है हम सारी समस्याओं को खत्म कर दे, लेकिन तब आदमी मरा-मरा जीता हैं।

Quote 93 : तुमने पद, धन, यश, कीर्ति, प्रेम इन सबकी चेष्टाएं की, बस एक ध्यान के दीए को जलाने की चेष्टा नहीं की, वही काम आएगा। मृत्यु केवल उसी दीए को नहीं बुझा पाती। बुद्ध कहते हैं, ध्यान अमृत सूत्र है।

Quote 94 : जो व्यक्ति भीतर सत्य को अनुभव करता है, उसका सारा जीवन सौदर्य से, शांति से और संगीत से भर जाता है। उसका सारा जीवन उन प्रतिध्वनियों को, उन तरंगों को प्रवाहित करने लगता है, जो सारे जगत के लिए शांति की और शीतलता की छाया बन सकती है।

Quote 95 : मैं ‘किसी से’ बेहतर करूं क्या फर्क पड़ता है….! मैं ‘किसी का’ बेहतर करूं बहुत फर्क पड़ता है……!!

Quote 96 : पेड़ों को देखो, पक्षियों को देखो, बादलों में देखो, सितारों को देखो … और अगर तुमारे पास आँखें है तो आप यह देखने में सक्षम होगे की पूरा अस्तित्व खुश है सब कुछ बस खुश है पेड़ बिना किसी कारण के खुश हैं वे प्रधानमंत्रियों या राष्ट्रपति बनने के लिए नहीं जा रहे हैं और वे अमीर बनने के लिए नहीं जा रहे हैं और नहीं ही कभी उनके पास बैंक बैलेंस होगा .. फूलों को देखो,- बिना किसी कारण के कितने खुश और अविश्वसनीय है ..

Quote 97 : आपको किसी से किसी भी प्रकार की प्रतिस्पर्धा की आवश्यकता नहीं है आप स्वयं जैसे है बिल्कुल सही है। बस खुद को स्वीकार करना सिखिए।

Quote 98 : अपने जीवन को संगीतपूर्ण बनाओ, ताकि काव्य का जन्म हो सके। और फिर सौदर्य ही सौंदर्य है, और सौदर्य ही परमात्मा का स्वरूप है।

Quote 99 : ‘मैं’ से भागने की कोशिश मत करना। उससे भागना हो ही नहीं सकता, क्‍योंकि भागने में भी वह साथ ही है। उससे भागना नहीं है बल्कि समग्र शक्ति से उसमे प्रवेश करना है। खुद की अंहता में जो जितना गहरा होता जाता है उतना ही पाता है कि अंहता की कोई वास्‍तविक सत्ता है ही नहीं।

Quote 100 : योगा No-Dreaming mind तक पहुचने का तरी‍का है।


You May Also Like This Article :- 

Please Note : Osho Rajneesh Quotes & Thoughts In Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे करे। Osho Quotes In Hindi On Love व नयी पोस्ट डाइरेक्ट ईमेल मे पाने के लिए Free Email Subscribe करे, धन्यवाद।

loading...

LEAVE A REPLY