देवसार धाम भिवानी की जानकारी, इतिहास | Devsar Dhaam in Hindi

Devsar Dhaam Bhiwani / देवसार धाम, हरियाणा के भिवानी शहर के देवसार गाँव में स्थित है। देवसर धाम एक ऐसा धाम है जहां भारतवर्ष से भक्तगण अपनी मन्नतें मांगने आते हैं और यहां आकर भक्तों की सारी मन्नतें पूरी होती हैं। इस जगह का धार्मिक महत्व और भिवानी के पर्यटन पर महत्वपूर्ण प्रभाव है।

देवसार धाम का इतिहास और जानकारी – Devsar Dhaam History & Story in Hindi

देवसर धाम भिवानी के क्षेत्र में स्थित प्रसिद्ध स्थान है। भिवानी में छोटे बड़े चार सौ से अधिक मन्दिर स्थित है। जहां पर नवरात्रों के समय में श्रद्धालुओं की अपार श्रद्धा देखने को मिलती है। चारों ओर कई पर्यटकों दुनिया यहां सिर्फ इस मंदिर की वजह से आई है। यह हिंदू समुदाय के लिए पवित्र मंदिरों में से एक है, जो देवी दुर्गा को समर्पित है। देवता का नाम ‘रानी सती दादी’ है, जो माना जाता है कि देवी दुर्गा का शवों का स्थान है।

भिवानी से आठ किलोमीटर दूर स्थित है देवसर धाम। यह मंदिर पहाड़ी पर स्थित है। कहा जाता है कि करीब आठ सौ साल पहले पहाड़ी के पास से एक बंजारा जब अपनी गऊएं लेकर जा रहा था तो उसकी गऊएं कहीं खो गई। रात को सपने में उसे देवी मां ने दर्शन दिए तथा कहा कि पहाड़ी पर दबी प्रतिमा को स्थापित करवाया जाए तो उसकी गाएं मिल जाएंगी।

बंजारे ने ऐसा ही किया तथा उसकी सभी गऊएं भी मिल गई। तब से माता की वह प्रतिमा मंदिर में ही है। देवसर माता के मंदिर में पांच सौ एक अखंड ज्योत नौ दिन लागतार जलती रहती है। माता के मंदिर में न केवल हरियाणा से बल्कि देशभर के विभिन्न हिस्सों से भक्त माथा टेकने आते हैं। यही नहीं नेपाल सरीखे देशों से भी श्रद्धालु इस पहाड़ी माता के मंदिर में दर्शनार्थ के लिए आते हैं। यह मन्दिर भिवानी शहर से भी दिखाई देता है।


और अधिक लेख – 

Please Note :- I hope these “Devsar Dhaam History & Story in Hindi” will like you. If you like these “Devsar Dhaam Information in Hindi” then please like our facebook page & share on whatsapp.

Leave a Comment

Your email address will not be published.