विलियम शेक्सपीयर की जीवनी | William Shakespeare Biography In Hindi

1

William Shakespeare Biography in Hindi / विलियम शेक्सपीयर 16 वीं शताब्दी के अंग्रेजी भाषा के महान कवि, नाटककार तथा एक अभिनेता थे। उनके द्वारा बनाई गयी नाटक इतना प्रसिद्ध है की लगभग सभी प्रमुख भाषाओं में अनुवाद हुआ है। वे इंग्लैंड का राष्ट्रिय कवी और “बार्ड ऑफ़ एवन” से जाने जाते है। उन्होने 38 नाटक, 154 चतुर्दश पदि कविता, 2 लंबी विवरणात्मक कविताएँ, और बहुत से छंद और लेखन कार्य किए। शेक्सपियर मे अत्यंत उच्च कोटि की रचनात्मक प्रतिभा थी उन्हें कला के नियमों का स्वाभाविक ज्ञान था प्रकृति से उन्हे मनो वरदान मिला था अत: उन्होंने जो कुछ छू दिया वह सोना हो गया। उनकी रचनाएँ विश्व प्रसिद्ध है।

William Shakespeare Biography In Hindi

विलियम शेक्सपीयर का परिचय – William Shakespeare Biography in Hindi

पूरा नाम विलियम शेक्सपियर (william Shakespeare)
जन्म दिनांक 26 अप्रैल, 1564
जन्म स्थान स्ट्रेटफोर्ड, इंग्लैंड
मृत्यु तिथि  23 अप्रैल 1616
मृत्यु स्थान  इंग्लैंड
पिता का नाम जॉन शेक्सपियर
माता का नाम मैरी शेक्सपियर
पत्नी ऐनी हथावे
कार्य क्षेत्र नाटककार, कवी, अभिनेता
भाषा इंग्लिश
मुख्य रचनाएँ हैमलेट, ऑथेलो, किंग लियर, मैकबेथ, जूलियस सीजर.

शेक्सपियर के नाटकों का जादू आज भी दुनिया पर छाया हुआ है। उनके नाटकों में उभरी संवेदना से हर इंसान वास्ता रखता है. शेक्सपियर के नाटकों के पात्र चाहे वह हीरो हो, हीरोईन या फिर विलेन आज भी हमारे आस-पास नजर आते हैं। किसी अन्य नाटककार की तुलना में इनके नाटक अधिक बार प्रदर्शित किये गए हैं और आज भी किये जा रहे हैं। इनके काम को लोगों ने बहुत सराहा है। उनकी महत्वपूर्ण रचनाओं में हैमलेट, ऑथेलो, किंग लियर, मैकबेथ, जूलियस सीजर प्रसिद्ध है।

प्रारंभिक जीवन – Early Life of William Shakespeare 

विलियम शेक्सपीयर का जन्म 26 अप्रैल 1564 को इंग्लैंड के स्ट्रैटफोर्ड आन एवन में हुआ, वे जॉन शेक्सपियर तथा मेरी आर्डेन के ज्येष्ठ पुत्र एवं तीसरी संतान थे। उनके पिता जॉन शेक्सपियर एक सफल लोकल व्यापारी और निर्माता थे। इनके माता मर्री शेक्सपियर एक पड़ोसी गाँव के धनी जमींदार की बेटी थीं। इनके माता पिता की 8 संतानें थी उनमें से विलियम शेक्सपियर तीसरे थे एवं वे अपने माता पिता के सबसे बड़े पुत्र थे। उनके जन्म स्थान स्ट्रेटफोर्ड उस जमाने में एक छोटा शहर था, जिसकी आबादी लगभग डेढ हजार से लेकर दो हजार के बीच तक थी।

विलियम शेक्सपियर का करियर – Career of William Shakespeare 

विलियम शेक्सपियर ने अपनी स्कूली शिक्षा एक स्थानीय स्कूल स्ट्रेटफोर्ड ग्रामर स्कूल से की थी। अपनी पिता की बढ़ती आर्थिक मुस्किलो के कारण उन्हें पढाई छोड़कर छोटे मोटे धंधों में लग जाना पड़ा। इसके बाद उन्होने जीविका की तलाश में 1587 में लन्दन चले गये, लंदन मे उन्होंने एक रंगशाला में किसी छोटी नौकरी पर काम किया।

लंदन जाने के एक और कारण था की कदाचित् चार्ल कोट के जमींदार सर टामस लूसी के उद्यान से हिरण की चोरी की ओर कानूनी कार्यवाही के भय से उन्हें अपना जन्मस्थान छोड़ना पड़ा।

विलियम ने अपने नाट्य कैरियर की शुरुआत सन 1585 में की, और 7 साल तक उस पर काम किया। 1592 तक विलियम शेक्सपियर रंगमंच की दुनिया में मशहूर हो चुके थे। इस कारण शेक्सपीयर की पॉपुलीरिटी को नीचा दिखाने के लिए, इसी साल रोबर्ट ग्रीन नामक व्यक्ति ने विलियम शेक्सपियर का नाम चुनकर एक लेख लिखा था और उनका मजाक उड़ाया था। लेकिन शेक्सपियर ने आलोचकों और प्रशंसकों दोनों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया।

1594 के बाद से शेक्सपियर के लगभग सभी नाटक भगवान चेम्बर्लेन के आदमियों द्वारा प्रदर्शित किये गए। यह ग्रुप कुछ ही समय में सर्वोच्च स्थिति में पहुँच गया, इसे लन्दन में एक अग्रणी कंपनी प्ले कर रही थी। इतना ही नहीं विलियम शेक्सपियर ने सन 1599 में अपना स्वयं का थिएटर खरीदा और उसका नाम ग्लोब रखा।

1603 में उन्हें एक शाही पेटेंट के साथ एक कम्पनी द्वारा सम्मानित किया गया। वह ग्रुप शेक्सपियर के कई लोकप्रिय साहित्य के प्रकाशित और बेचे जाने के बाद से बहुत लोकप्रिय हो गया। शेक्सपियर ने स्वयं के तथा दूसरों के लिखे कई नाट्य में अभिनय किया। जिनमें से कुछ ‘एव्री मेन इन हिज हुमौर’ ‘सेजनस हिज फॉल’ ‘दी फर्स्ट फोलियो’ ‘एस यू लाइक इट’ ‘हैमलेट’ और ‘हेनरी 6’ शामिल हैं। 16 वीं शताब्दी के अंत और 17 वीं शताब्दी के शुरुआत में शेक्सपियर के कैरियर के ग्राफ में एक सम्रध्द वृद्धी हुई।

विलियम शेक्सपियर एक नाटककार और अभिनेता के साथ – साथ अंग्रेजी कवि भी थे। सन 1593 और 1594 में अपने नाट्य कला के साथ – साथ उन्होंने कविता लिखने की कोशिश शुरू कर दी। उन्होंने उस समय 2 कविता ‘वीनस एंड एडोनिस’ एवं ‘दी रेप ऑफ़ लूक्रेस’ लिखीं। शेक्सपियर ने ‘अ लवर्स कंप्लेंट’ और ‘दी फोनिक्स एंड दी टर्टल’ कविता भी लिखीं।

शेक्सपियर में अत्यंत उच्च कोटि की सर्जनात्मक प्रतिभा थी, उनकी रचनाएँ न केवल इंग्लिश भाषा के लिए गौरव की बात हैं बल्कि विश्ववाङ्मय की भी अमर विभूति हैं। शेक्सपियर की कल्पना जितनी प्रखर थी उतना ही गंभीर उनके जीवन का अनुभव भी था। अत: जहाँ एक ओर उनके नाटकों तथा उनकी कविताओं से आनंद की उपलब्धि होती है वहीं दूसरी ओर उनकी रचनाओं से हमको गंभीर जीवनदर्शन भी प्राप्त होता है।

विलियम शेक्सपियर की शादी – William Shakespeare Wife

विलियम शेक्सपियर की शादी ऐनी हथावे के साथ हुवा था। विलियम शादी के समय महज 18 साल के थे तथा ऐनी 26 साल की थीं। जब उनकी शादी हुई. ऐनी, विलियम से 8 साल बड़ी थीं। इनकी शादी के 6 महीने बाद इनकी एक बेटी हुई सुसंना, जिसकी शादी जॉन हॉल से हुई। इसके बाद इनके 2 जुड़वाँ बच्चे हुए हम्नेट और जूडिथ। हेम्नेट की 11 साल की उम्र में मृत्यु हो गई और जूडिथ जिसकी शादी थॉमस क़ुइनी से हुई। इस तरह विलियम शेक्सपियर के तीन बच्चे हुए।

तिथियो मे मतभेद 

शेक्सपियर की रचनाओं के तिथिक्रम के संबंध में काफी मतभेद है। 1930 मे प्रसिद्ध विद्वान् सर ई.के. चैंबर्स ने तिथिक्रम की जो तालिका प्रस्तुत उसे आज प्राय: सर्वमान्य है। उनके जन्म की तारीख को लेकर भी हमेशा से बहस बना हुआ है। प्राचीन विद्वानों ने 18 वी शताब्दी तक 23 अप्रैल माना था, बाद मे 26 अप्रैल को माना गया।

विलियम शेक्सपियर की मृत्यु – William Shakespeare Death

विलियम शेक्सपियर का निधन 23 अप्रैल 1616 में हो गई। अपनी मृत्यु के 3 साल पहले उनके जीवन के कुछ रिकॉर्ड ही जीवित थे. चर्च के रिकॉर्ड के अनुसार, उन्होंने 5 अप्रैल सन 1616 को होली ट्रिनिटी चर्च के चांसल में प्रवेश किया। वे वहाँ अपनी पत्नी और 2 बेटियों के साथ थे।

सम्मान और पुरूस्कार :- William Shakespeare Awards

19वी सदी में विलियम शेक्सपियर के जन्म स्थान के रूप में स्ट्रेटफोर्ड को तीर्थ का दर्जा दिया गया। जिस घर में उनका जन्म हुआ था, उसे सन 1847 में राष्ट्रीय स्मारक का दर्जा प्रदान किया गया। 1932 में रॉयल शेक्स्पियर थियेटर का निर्माण किया गया और सन 1964 में शेक्सपियर सेंटर की स्थापना की गयी।


   Also Read More  •

Please Note : – William Shakespeare Biography & Life History in Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे करे।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here