ध्यान के 8 महत्वपूर्ण फ़ायदे | Meditation Karne Ke Fayde

Meditation Kaise Kare, Meditation Benefits In Hindi

Meditation Benefits In Hindi – ध्यान जीवन को बनाता हैं आसान :-

Meditation – ध्यान की महिमा का कोई अंत नही  है। आधुनिक विज्ञान दावा करता है कि ध्यान से कई बीमारियों का इलाज संभव है। कई गंभीर बीमारियों में ध्यान की मदद से तकलीफ को कम किया जा सकता है। विषम परिस्थितियों में ध्यान की मदद से अपने को कुल रखा जा सकता है। महाभारत और रामायण में भी ध्यान के महत्व को बताया गया है आज ध्यान को आधुनिक विज्ञान की कसोटी पर जोड़ने की कोशिश हो रही है।

ध्यान दिमाग के लिए मल्टीविटामिन का काम करता है। पश्चिमी देशों के बड़े विश्वविद्यालयों में इस पर लाखों डॉलर खर्च कर शोध हो रहे हैं। शोध में ध्यान के कई फायदे सामने आए हैं। लेकिन ध्यान का कंसेप्ट नया नहीं है हजारों साल पहले से हमारे पूर्वज भी इसके फायदे से परिचित थे। इसलिए उन्होंने इसे धर्म से जोड़ दिया था। पहले के जमाने में जो वस्तु आदत या काम हमारे लिए अच्छा होता था उसे धर्म से जोड़ दिया जाता था। या नहीं इसका सबसे बड़ा उदाहरण ध्यान से सिर्फ मन ही एकाग्रत नहीं होता, यह हमारे व्यक्तित्व को निखारने का काम करता है।

1. तनाव कम करता है ध्यान : – 

हेल्थ साइकोलोजी में छपे एक शोध के अनुसार तनाव को कम करने का सबसे बड़ा हथियार ध्यान है। शोध में देखा गया कि ध्यान करने से तनाव को बढ़ाने वाले हारमोंस कम होने लगते हैं। यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया के टोँया जैकब्स ने बताया कि ध्यान से तनाव कम होता है। इस पर पहली बार शोध किया गया है। शोध मे 57 लोगों को शामिल किया गया था, उन्हें ध्यान की हर बारिकी सिखाई गई इसमें सांस लेने से लेकर सकारात्मक सोच तक शामिल है। अंत में देखा गया कि सभी का तनाव लेवेल में आश्चर्यजनक रूप गिरावट दर्ज की गई.

2. अपने आप से करता है परिचित :-

ध्यान से व्यक्ति अपने आप को और अधिक जान पाता है। हम दूसरों के बारे में खूब जानने की कोशिश करते हैं लेकिन अपनी कमियों के बारे में ही अनजान रहते हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि दूसरों से अपने बारे में कड़वी बात सुनना हमारे स्वभाव में नहीं है। और आपने अपनी खामियों की तरफ देखने की जरूरत नहीं समझते हैं। ध्यान हमें अपनी कमियों के करीब ले जाता है। ध्यान से हम जान पाते हैं कि हम कहां गलत कर रहे हैं? क्या गलत कर रहे हैं? आदि कह सकते हैं कि ध्यान हमें अपनी कमियों को सुधारने का मौका देता है। अपने आप को अपग्रेड करने का मौका देता है। कह सकते हैं कि ध्यान ऐसी दवा है जो हमारे अंदर की कमियों को खत्म कर देता है वह भी बिना किसी खर्च के।


3. ध्यान से पढ़ाई में भी अव्वल :-

ध्यान करने वाले छात्र पढ़ाई में भी अच्छे होते हैं, उन्हें परीक्षा में नंबर भी अच्छे आते हैं। यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया मे कॉलेज के छात्रों पर एक शोध किया गया इसका परिणाम यह निकला कि जो छात्र ध्यान करते थे वह रिजनिंग के सवालों को आसानी से हल कर देते थे उनकी याददाश्त भी दूसरों की तुलना में अच्छी थी।


4. सेना के लिए फायदेमंद :-

ध्यान सेना के लिए भी मददगार साबित हो सकता है कहा जाता है कि चाणक्य ने चंद्रगुप्त को एक पराक्रमी योद्धा बनाने के लिए ध्यान मे निपुन बनाया था। ध्यान सैनिकों विषम हालत में भी तनाव से मुक्त रखता है। अमेरिका में शोध हो रहा है कि ध्यान से उसके सैनिकों की कुशलता को कैसे और सुधार जा सकता है।

5. मानसिक स्वास्थ्य ठीक रहता है :-

यूनिवर्सिटी ऑफ ऑर्गन के शोधकर्ताओं का मानना है कि ध्यान मानसिक स्वास्थ्य के लिए सबसे उत्तम औषधि है। ध्यान से दिमाग के चारों ओर सुरक्षा कवच का निर्माण होता है जो उसे किसी नुकसान से बचाता है।

6. गठिया में फायदेमंद :-

वर्ष 2011 में हुए एक शोध के अनुसार ध्यान से गठिया के मरीजों को भी फायदा होता है। शोध में पता चला था कि ध्यान से गठिया के दर्द में आराम नहीं मिलता लेकिन उस दर्द होने वाले तनाव से राहत जरूर मिलती है। विशेष्यगो का कहना है की ध्यान से मनुष्य मजबूत होता है जिससे वह छोटी मोटी तकलीफ पर आसानी से विजय पा लेता है।

7. डॉक्टरों के लिए भी फायदेमंद :-

ध्यान से डॉक्टरों को भी फायदा होता है एक शोध में पता चला है कि वह डॉक्टर जो ध्यान करते वह अपनी मरीजों का इलाज तनाव मुक्त होकर करते हैं उनकी बातों को भी ध्यान से सुनते हैं।

8. ध्यान-अभ्यास के मानसिक लाभ :-

दिन भर में हमारे मन में विचार चलते रहते हैं। जब हम ध्यान-अभ्यास करने के लिये बैठते हैं और अपने ध्यान को आत्मा की बैठक या तीसरे तिल पर एकाग्र करते हैं, तो हमारा मन शांत होने लगता है। हमारा ध्यान बाहरी दुनिया की समस्याओं से हट जाता है और हम पूर्ण रूप से शांत हो जाते हैं। नियमित रूप से ध्यान-अभ्यास करने से हमारी एकाग्रता बढ़ती चली जाती है। एकाग्र होने की क्षमता में इस बढ़ोतरी से, तथा साथ ही तनाव में कमी, ऊर्जा में वृद्धि, और रिश्तों में सुधार आने से हम सांसारिक कार्यों में भी सफलता प्राप्त करते हैं। हम पहले से अधिक कार्यकुशल और उत्पादक हो जाते हैं तथा जीवन की चुनौतियों का सामना पहले से बेहतर ढंग से कर पाते हैं।

ये भी जाने :-

Note :- जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया इसे अपने दोस्तों के साथ सोशियल मीडीया सेयर करे, और हमारी नयी पोस्ट की जानकारी के लिए हमे फ़ेसबुक पर लाइक या Email Subscription करे, धन्यवाद

loading...

LEAVE A REPLY