घर पर डांस कैसे सीखे: Dance Kaise Sikhe Hindi -Break Dance Kaise Sikhe

Dance Kaise Sikhe Hindi,

Dance Kaise Sikhe Hindi :- वैसे तो डांस (Dance) सभी को बहुत अच्छा लगता है, लेकिन यह एक ऐसी कला है जो देखने में आसान लगती है लेकिन असल में बहुत कठिन होती है। जिसमें अपने मनोभावों को अभिव्यक्त किया जाता है। डांस मतलब केवल हाथ-पांव चलाना या हाथ-पांव इधर-उधर घुमाना ही नहीं है, बल्कि सही तरीके से, सही लय से, सही मनोभावों के साथ उसे अभिव्यक्त करना ही डांस का असली उद्देश्य होता है।

घर में कोई भी विवाह समारोह हो या बर्थ डे पार्टी, डीजे पार्टी हो, स्कूल कॉलेज मे प्रोग्राम हो, बिना डांस के सबकुछ फीका-फीका सा लगता है। किसी भी शुभ कार्य में डांस, नृत्य करना शुभ माना जाता है। ऐसे में अगर आप डांस की तमाम विविधताएं सीख लेते हैं तो आप भी हर किसी के दिलो-दिमाग में छा सकते हैं। और अपनी पहचान बना सकते हैं आप इसमे अपना कॅरियर भी बना सकते हैं।

डांस का हमेशा से क्रेज़ रहा. पुराने जमाने मे भी इसका बहुत महत्व था। लेकिन दीनो-दिन डांस के नये तरीके इजात किए गये। आप डांस को बिना प्रेक्टिस के पर्फेक्ट नही बना सकते। जितना बाड़िया से प्रेक्टिस कीजिएगा उतना अच्छा और कलात्मक तरीका आपका डांस निखरेगा। अगर आप खुद को जमाने के सामने साबित करना चाहते हैं तो पूरे तन-मन से इस काम में जुट जाइए और सी‍‍‍ख लीजिए परफेक्ट डांस। चलिए हम आपको डांस सीखने मे कुछ मदद करते. कुछ ऐसे तरीके बताते हैं जिसके मदद से आप आराम से डांस सिख सकते हैं।

इसमें सबसे ज्यादा ध्यान रखने वाला बात यह है कि आप डांस के प्रति जितना ज्यादा खुद को समर्पित होंगे, जीवन में उतनी ही ऊंचाइयां प्राप्त कर सकते हैं। डांस की दुनिया में कदम रखने से पहले कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है। आपका इस कला के प्रति पूर्णतया आत्मविश्वास, लगन और समर्पण होना बहुत जरूरी है। आपको अपने गुरु का सम्मान करना आना चाहिए। गुरु जैसे-जैसे डांस स्टेप्‍स ‍बताते है उसकी हूबहू नकल करने की क्षमता का होना बहुत जरूरी है। साथ ही इशारों का अर्थ भी समझने की क्षमता और तत्परता का होना जरूरी होता है।

सबसे पहले हमलोग जाँएंगे डांस कितने प्रकार के होते हैं (Type Of Dance) :-

ऐसे तो डांस के हज़ारो टाइप हैं उसमे से कुछ पॉपुलर डांस के बारे मे हम बताएँगे

  1. बेली डांस (Belly Dance) :– इस डांस में शरीर का हर हिस्सा हरकत करता नजर आता है। जिसमें कमर, कंधे, छाती, पेट आदि को अलग दिखाना जरूरी होता है। यहां डांस में कूल्हे का उपयोग आमतौर पर सबसे अधिक किया जाता है। कूल्हों या छाती का गोल-गोल या अदल-बदल कर घुमाने के अंदाज दिखाई देना जरूर‍ी होता है।
  2. हिप हॉप (Hip Hop) :– हिप हॉप डांस जिसमें बांह, हाथ और कलाइयों का विशेष प्रयोग किया जाता हैं हिप-हॉप संस्कृति का भाग है। इनमें विभिन्न तरह की शैलियां विशेष रूप से ब्रेकिंग, लॉकिंग और पॉपिंग शामिल है जिसका विकास 1970 में अश्वेत और लैटिनो अमरीकियों ने किया था। हिप-हॉप नृत्य अक्सर फ्री स्टाइल (तात्कालिक प्रदर्शन) प्रकृति का होने की वजह से अन्य डांस शैलियों से अलग है और हिप-हॉप नर्तक औपचारिक या अनौपचारिक फ्री स्टाइल डांस प्रतियोगिताओं में मुक़ाबला करते हैं।
  3. टैप डांस (Taip Dance) : – यह एक थपथपहाट डांस है। यह एक डांस करने ऐसा तरीका हैं जिसमें डांस करने वाले के जूतों को वाद्य यंत्र के रूप में उपयोग करते हुए फर्श पर थपथपाहट कर इस नृत्य की ओर ध्यानाकर्षण करने पर जोर दिया जाता है। टैप नृत्य में रिदम (लयबद्ध) और ब्रॉडवे टैप दो प्रकारों से किया जाता है। जहां रिदम टैप में संगीत की तरफ ज्यादा ध्यान दिया जाता है और ब्रॉडवे टैप में नृत्य की तरफ ज्यादा ध्यान दिया जाता है।
  4. कैबरे डांस (Cabray Dance) :– एक ऐसा डांस जो दुनिया भर के रेस्तरां और कैबरे में किया जाता है। जो पश्चिमी देशों के लोगों में कहीं अधिक जाना जाता है। सामान्यतः महिला नर्तकियों द्वारा इसका प्रदर्शन किया जाता है।
  5. बॉलरूम डांस (Ballroom dance) :–  बॉलरूम डांस अपने साथी के साथ किया जाने वाला डांस है, जिसे दुनियाभर में बेहद पसंद किया जाता है। हल्‍की लाइट म्‍यूजिक में यह डांस बेहद आकर्षक दिखता है। इसमें साल्सा, रूंबा, सांबा, कैसीनो और बक आदि को मिक्‍स भ्‍ीा किया जा सकता है। आमतौर पर बॉरूम डांस अपने साथी के साथ एक दूसरे की बाहों में किया जाता है। बॉलरूम नृत्य के दो मुख्य शैलियों हैं – अमेरिकी शैली और अंतर्राष्ट्रीय शैली।
  6. ब्रेक डांस (Break Dance) :– बी-बॉइंग जिसे “ब्रेकडांस ” के नाम से जाना जाता है, सड़क डांस की एक लोकप्रिय शैली है, जिसकी रचना और विकास अफ्रीकी-अमेरिकी लोगों के मध्य हिप-हॉप संस्कृति (सड़क संस्कृति) के एक भाग के रूप में हुआ और बाद में यह न्यूयार्क शहर के लैटिन युवाओं के बीच लोकप्रिय हो गया। इस डांस के चार प्रमुख तत्व है – टॉपरॉक, डाउनरॉक, पावर मूव और फ्रीज़/सुसाइड. यह डांस हिप-हॉप और अन्य शैलियों के संगीत – दोनों के साथ किया जाता है, संगीतमय ब्रेक को लंबा करने के लिए जिन्हें रीमिक्स किया जाता है। इस डांस का अभ्यास करने वाले कलाकारों को बी-बॉय, बी-गर्ल या ब्रेकर के नाम से संबोधित किया जाता है।
  7. देशी लोक नृत्य :- यह एक ऐसा लोक डांस है जिसे सभी उम्र के महिला-पुरुषों द्वारा सामाजिक तौर पर किया जाता है। जिसे विशेष रूप से मध्य पूर्वी देशों में शादी-ब्याह जैसे समारोहों के मौकों पर किया जाता है।

डांस करना कैसे सीखे – Perfect Dance Kaise Sikhe :-

  • डांस सीखने से पहले डांस का स्टाइल चूज़ करे। आपको किस स्टाइल मे डांस सीखना हैं. पहले सिंगल स्टाइल से स्टार्ट करे उसके बाद मल्टी स्टाइल सीखे।
  • डांस क्लास जोइन (Class Join) करे, बिना गुरु के शिक्षा अधूरी रहता हैं आपको खुद से कितनो अच्छा तरीका से आता हो पर बिना क्लास जोइन किए बेस मजबूत नही होगा, क्लास मे मन लगा के डांस का गुर सीखे।
  • डांस प्रेक्टिस (Practice) करने के लिए घर पर म्यूज़िक सिस्टम (Music System) का व्यवस्था करे। क्यूंकी बिना म्यूज़िक के डांस का प्रेक्टिस करना इंपॉसिबल हैं। अगर आपके पास म्यूज़िक सिस्टम नही है तो मोबाइल हेडफोन्स तो होने ही चाहिए। क्यूंकी हेडफोन्स से ही आप म्यूज़िक को डीप्ली फील कर सकोगे। एक गाने को 5-6 बार हेडफोन मे सुनने से स्टेप अपने आप ही माइंड मे क्रियेट होते जाएगे फिर आपको उससे अपनी बॉडी पे लाना होगा. इस तरह से आपका प्रेक्टिस अच्छे से हो जाएगा।
  • डांस सीखने के लिए आप इंटरनेट (Internet) का मदद ले। डांस के बारे जानकारी लेते रहे. साथ मे यूट्यूब मे हज़ारो डांस के वीडियो मिल जाएँगे। इसे डाउनलोड करके स्टेप फॉलो करे। इसके अलावा ऑनलाइन डांस वीडियो भी देख सकते हैं, डांस के बारे मे जितना ज़्यादा जानकारी रखनेगे उतना फ़ायदा होगा।
  • टीवी मे लाइव डांस शो, रियलिटी शो और डांस प्रोग्राम देखा करे. उनके स्टेप ध्यानपूर्वक देखे, इससे आपको डांस के बारे मे बहुत कुछ सीखने को मिलेगा।
  • आप जब भी डांस प्रॅक्टीस कर रहे हो तब ये प्रयास करे की मिरर (आईना) आपके सामने हो! अगर मिरर के सामने डांस करोगे तो आपको अपनी ग़लतिया पता चलेगा और आप पर्फेक्ट डांस कर पाओगे। इससे आपके डांस क्वालिटी निखरेगा।
  • अपने फॅव्रेट (Favorite) गाने मे अपनी स्टेप बनाने का कोशिश करे। इस तरह डांस करने से आप पूरी तरह से खुल जाएगे और आपका एक यूनीक स्टाइल भी डेवेलोपे होगा। और हर तरह के गाने मे डांस करने का प्रेक्टिस करे। इससे आप कही भी कभी डांस करने मे घबराएँगे नही।
You May Also Like This Article :- 

Please Note : – How to Be a Dancer Tips In Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे करे। Ghar Par Dance Kaise Sikhe Hindi व नयी पोस्ट डाइरेक्ट ईमेल मे पाने के लिए Free Email Subscribe करे, धन्यवाद।

loading...

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY