कैंसर क्या है? कैसे होता है? कैंसर के लक्षण व घरेलू उपचार

Cancer

जैसे-जैसे हमारा जीने का लाइफ स्टाइल चेंज हो रहा है वैसे हम नये-नये बीमारियो को भी जन्म दे रहे है, इसका सबसे कारण, खाने-पीने मे चेंजिंग, रहने के तरीक़ो मे चेंजिंग, इन्ही मे एक बीमारी कैंसर भी आए जानते है कैंसर के बारे मे..

कैंसर क्या है

कैंसर एक घातक जानलेवा बीमारी है। कैंसर से पीड़ित मरीज जल्‍दी ठीक नही होते हैं क्यूंकी इस बीमारी के लक्षणों का पता देर से चलता है। और अभी तक दुनिया मे इस ख़तरनाक बीमारी का कोई स्थायी इलाज नही निकला है, अगर समय रहते इस बीमारी का इलाज सही से ना हो तो इसे रोक पाना मुस्किल है,

शरीर मे कैंसर कैसे होता है

शरीर में 100 से 1000 तक खराब सेल्स(कोशिका) होते है. हर समय हमारी बॉडी में नये सेल्स पैदा होते है और पुराने खराब सेल्स समाप्त भी होते है. पर कैंसर होने पर लाल और सफेद रक्त कोशिकायो का संतुलन बिगड़ जाता है और सेल्स की बढ़ोतरी कंट्रोल से बाहर हो जाती है. जो कैंसर का रूप ले लेता है,

कैंसर के प्रकार

  • Sarcoma Cancer – ये खून और हड्डियो से संबंधित कैंसर होता है.
  • Carcinoma Cancer – यह स्किन से संबंधित कैंसर होता है.
  • Lymphoma cancer – ग्रंथियो मे होने वाला कैंसर कहा जाता है.
  • Leukemia Cancer –  खून को बनाने वाले सेल्स का कैंसर होता है

कैंसर होने का कारण क्या-क्या है

  • नशा का सेवन करने से जैसे – खैनि, गुटखा, तंबाखू, पान मशाला, बीड़ी, सिगरेट, शराब आदि से,
  • ख़ान-पान से जैसे – ज़्यादा चर्बी वाले चीज़ो को खाने से, ज़्यादा नमक खाने से,  जो खाना पचने मे ज़्यादा समय लेता है उससे, ज़्यादा समय से एक ही जगह पर बैठने से,
  • मोटापा, हेपटाइटिस ब और एचाइवी के वाइरस की वजह से भी,
  • महिलाओ मे कैंसर के वजह, – बच्चो को अपना दूध नही पिलाने से, ज़्यादा गर्व निरोधक दावा का इस्तेमाल से,
  • मासिक धर्म के बाद अंडरआर्म या फिर ब्रैस्ट में गांठ दिखाई पड़ना।
  • ब्रैस्ट की त्वचा में कोई भी बदलाव महसूस होना। या गड्ढा हो जाना।
    Read More   •  बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन की कहानी

कैंसर का लक्षण

  • मूह के अंदर छाले होना, मूह का सुकड़ना और पूरी तरह मूह का ना खुलना.
  • खाना खाने चबाने, निगलने या हज़्म करने में परेशानी होना.
  • कमर में हमेशा दर्द होना.
  • पेसाब की आदतो मे बदलाव होना, पेशाब में आनेवाले ख़ून
  • लगातार खाँसी होना या आवाज़ का बैठ जाना, खांसी के दौरान ख़ून का आना
  • ब्रेस्ट में या फिर शरीर के किसी और हिस्से में गाँठ बनाना.
  • ख़ून की कमी की बिमारी अनीमिया
  • प्रोस्टेट के परीक्षण के असामान्य परिणाम
  • मीनोपॉस के बाद ख़ून आना

कैंसर से कैसे बचे / घरेलू उपचार

  • पान, गुटखा, सिगरेट किसी भी . नशा का सेवन बिल्कुल ना करे,
  • फल, हरी सब्जी का ज़्यादा इस्तेमाल करे,
  • नींबू, संतरा या मौसमी का जूस पिए,
  • गाय का मूत्र, गेहू का जावरा कैंसर के लिए आयुर्वेदिक रामबाण के जैसा है
  • किसी भी बीमारी मे जितना ज़रूरत है उतना ही दावा का इस्तेमाल करे, फालतू दावा ना खाए,
  • बादाम, किशमिश जैसे ड्राइ फ्रूट्स खाने से कैंसर की बीमारी नही बढ़ती है .
  • नमक का इस्तेमाल कम करे, और रेग्युलर एक्सर्साइज़ करे,
  • ज़्यादा लोगो से यौन समबंध रखने से भी कैंसर ख़तरा ज़्यादा रहता है,
  • चर्बी वाले चीज़ो को बिल्कुल ना खाए,
  • हरी चाय(Green Tea) ले, ये कैंसर के इलाज के लिए बहुत बेहतर है,
  • अगर आपको कैंसर है तो, दूध, दही, डेआरी प्रॉडक्ट का इस्तेमाल ना करे,
  • हल्दी का इस्तेमाल कैंसर के मरीज़ो के लिए बहुत लाभदायक है
  • गेहू और जौ मिश्रित आटा के इस्तेमाल बहुत फयदेमंद है,
  • आलू, बैंगन, अरबी, खाने से परहेज करे,
  • कलौंजी का तेल और अंगूर का रश मिलाकर दिन मे तीन बार पिया कीजिए, और लहसुन भी खाया कीजिए,
  • जितना ज़्यादा हो सके, नॅचुरल चीज़ो का इस्तेमाल करे,
  • लाल, नीले, पीले और जमुनई रंग के फल और सब्जिया जैसे जामुन, टमाटर, पपीता, काले अंगूर, अमरूद, तरबूज खाने से कैंसर का ख़तरा कम हो जाता है.
  • कैंसर की श्रेणी में सर्वाइकल कैंसर से बचने के लिए एक वैक्सीन बाजार में उपलब्ध है और यह तीन डोज के रूप में पहले से छ्टे महीने के अंदर दिया जा सकता है और यह टीका 11 वर्ष से 40 वर्ष की महिलाओं को दिया जा सकता है जिसकी मदद से कैंसर का खतरा बहुत हद तक कम हो सकता है |
      Also Read More  •   कबीरदास के सबसे लोकप्रिय दोहे हिन्दी अर्थ सहित

कैंसर की बारे दी गयी जानकारी आपको कैसा लगा कृपया कॉमेंट से बताए, और कोई सवाल हो तो भी,

और हमारी न्यू पोस्ट डाइरेक्ट ईमेल मे पाने के लिए फ्री सबस्क्राइब करना ना भूले,,Click Here To Subscribe

loading...

LEAVE A REPLY