बाल गंगाधर तिलक के सुविचार – Bal Gangadhar Tilak Quotes In Hindi

Bal Gangadhar Tilak Quotes In Hindi,

बाल गंगाधर तिलक (Lokmanya Tilak) एक भारतीय राष्ट्रवादी, शिक्षक, समाज सुधारक, वकील और एक स्वतन्त्रता सेनानी थे। उन्हें ‘राजनैतिक उग्रवाद’ का जनक भी कहा जाता है। उन्होंने अपने जीवन में देश के लिए बहुत कार्य किये. आइए जाने उनके महत्वपूर्ण अनमोल विचार।


bal-gangadhar-tilak-1

Quote 1 :  “If God is put up with untouchability, I will not call him God”


bal-gangadhar-tilak-2

Quote 2 : “Swaraj is my birthright, and I shall have it!”


bal-gangadhar-tilak-3

Quote 3 : “आलसी व्यक्तियों के लिए भगवान अवतार नहीं लेते, वह मेहनती व्यक्तियों के लिए ही अवतरित होते हैं, इसलिए कार्य करना आरम्भ करें।”


bal-gangadhar-tilak

Quote 4 : “कमजोर ना बनें, शक्तिशाली बनें और यह विश्वास रखें की भगवान हमेशा आपके साथ है।”


bal-gangadhar-tilak-4

Quote 5 : लक्ष्य किसी जादू से पूरा नही होता, बल्कि आपको ही अपना लक्ष्य प्राप्त करना पड़ेगा।”



Quote 6 : “प्रगति स्वतंत्रता में निहित है। बिना स्वशासन के न औद्योगिक विकास संभव है , न ही राष्ट्र के लिए शैक्षिक योजनाओं की कोई उपयोगिता है. देश की स्वतंत्रता के लिए प्रयत्न करना सामाजिक सुधारों से अधिक महत्वपूर्ण है।”


Quote 7 : “ये सच है कि बारिश की कमी के कारण अकाल पड़ता है लेकिन ये भी सच है कि भारत के लोगों में इस बुराई से लड़ने की शक्ति नहीं है।”


Quote 8 : “ऐसा भी हो सकता है ये भगवान की मर्जी हो कि मैं जिस वजह का प्रतिनिधित्व करता हूँ उसे मेरे आजाद रहने से ज्यादा मेरे पीड़ा में होने से अधिक लाभ मिले। ”


Quote 9 : “आप यह मालुम नहीं कर सकते कि दूसरों में आप से बेहतर क्या है, हर दिन आप अपने रिकॉर्ड तोड़ो, क्योंकि सफलता आपके और खुद के बीच लड़ाई में निहित है।”


Quote 10 : “भारत की गरीबी पूरी तरह से वर्तमान शासन की वजह से है।”


Quote 11 : “धर्म और व्यावहारिक जीवन अलग नहीं हैं। सन्यास लेना जीवन का परित्याग करना  नहीं है।  असली भावना सिर्फ अपने लिए काम करने की बजाये देश को अपना परिवार बना मिलजुल कर काम करना है। इसके बाद का कदम मानवता की सेवा करना है और अगला कदम ईश्वर की सेवा करना है।”


Quote 12 : “भूविज्ञानी पृथ्वी का इतिहास वहां से उठाते हैं जहाँ से पुरातत्वविद् इसे छोड़ देते हैं , और उसे और भी पुरातनता में ले जाते हैं।”


Quote 13 : “यदि हम किसी भी देश के इतिहास को अतीत में जाएं , तो हम अंत में मिथकों और परम्पराओं के काल में पहुंच जाते हैं जो आखिरकार अभेद्य अन्धकार में खो जाता है।”


Quote 14 : “जीवन एक ताश के खेल की तरह है, सही पत्तों का चयन हमारे हाथ में नहीं है, लेकिन हमारी सफलता निर्धारित करने वाले पत्ते खेलना हाथ में है।”


Quote 15 : “हम हमारे सामने सही रास्ते के प्रकट होने के इंतजार में अपने दिन खर्च करते हैं, लेकिन हम भूल जाते हैं कि रास्ते इंतजार करने के लिए नहीं, बल्कि चलने के लिए बने हैं।”


Quotes 16 : “अगर आप रुके और हर भौंकने वाले कुत्ते पर पत्थर फेंकेंगे तो आप कभी अपने गंतव्य तक नहीं पहुंचेंगे. बेहतर होगा कि हाथ में बिस्कुट रखें और आगे बढ़ते जायें।”


Quote 17 : “मानव प्रकृति ही ऐसी है की हम बिना उत्सवों के नहीं रह सकते! उत्सव प्रिय होना मानव स्वाभाव है ! हमारे त्यौहार होने ही चाहियें।”


Quote 18 : “कर्त्तव्य पथ पर गुलाब-जल नहीं छिड़का होता है और ना ही उसमे गुलाब उगते हैं।”


Quote 19 : “भारत को लहूलुहान किया जाता रहेगा जब तक केवल कंकाल अवशेष रहे… लोगों की पूरी जीवन शक्ति सोख ली जाती है और हमें गुलामी की एक क्षीण अवस्था में छोड़ दिया जाता है।”


Quote 20 : “जब लोहा गरम हो तभी उस पर चोट कीजिये और आपको निश्चय ही सफलता का यश प्राप्त होगा।”


Quote 21 : “आप केवल कर्म करते जाइए, उसके परिणामों पर ध्यान मत दीजिये।”



और अधिक लेख :-

Please Note : Bal Gangadhar Tilak Quotes & Thoughts In Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे करे। Lokmanya Tilak Speech & Quotes In Hindi व नयी पोस्ट डाइरेक्ट ईमेल मे पाने के लिए Free Email Subscribe करे, धन्यवाद।

loading...

LEAVE A REPLY