अपनी कमी को ही बना लें अपनी ताकत (Self Development Tips In Hindi)

Self development tips in hindi
Self Development Tips In Hindi :- अकसर इंसान अपनी कमज़ोरी अपने अंदर की कमी के वजह से कुच्छ भी करने मे हिचकिचाता है उसे लगता है मैं ये काम नही कर पाऊँगा या मैं इसे करने लायक नही हूँ पर दिल मे उस काम को लेकर हमेशा सोचते रहते है काश मैं ऐसा कर पता, काश मेरे अंदर ये कमी नही रहती, अगर आप भी ऐसा करते है तो आप ग़लत है आपको जो भी दिल कहता है उसे करे।
अगर आप उस काम करने लायक नही है आपके अंदर कुच्छ कमज़ोरी है तो उसी कमज़ोरी को अपना ताक़त बना ले फिर देखिए आपके सारे काम कितने आराम से पूरे होंगे,

चलिए मैं आपको एक ऐसी स्टोरी बताता हूँ शायद इस स्टोरी आपको कुच्छ प्रेरणा मिले : –

– एक दुर्घटना में अपनी बायीं बाजू खोने के बावजूद एक 10 साल के लड़के ‘एली’ ने जूडो सीखने का फैसला किया. वह एक जापानी जूडो मास्टर से ट्रेनिंग लेने लगा. ट्रेनिंग अच्छी चल रही थी पर एली समझ नहीं पा रहा था कि तीन माह बाद भी उसे केवल एक मूव ही क्यों सिखायी जा रही है।
उसे कुछ नया क्यों नहीं सिखाया जा रहा? एक दिन एली ने पूछ ही लिया, ‘मास्टरजी, क्या आप मुङो और मूव्स नहीं सिखायेंगे?’ मास्टर ने कहा, ‘यही मूव तुम जानते हो और यही एक मूव है, जिसे तुम्हें जानने की जरूरत होगी.’ एली को बात समझ नहीं आयी, पर मास्टरजी की बात मानते हुए एली ने प्रशिक्षण जारी रखा. कुछ माह बाद, मास्टर पहली बार एली को एक टूर्नामेंट में लेकर गया. एली हैरत में था, जब उसने पहले दोनों मैच बड़ी आसानी से जीत लिये।
तीसरे मैच में थोड़ी-सी परेशानी आयी, पर कुछ समय बाद विपक्षी लड़का धैर्य खो बैठा और बिना सोच-समङो गलत मूव का इस्तेमाल करने लगा. यही कदम एली की जीत का कारण बना. एली फाइनल में पहुंच चुका था और हैरान था. अंतिम मैच में विपक्षी लड़का उसकी तुलना में बड़ा, मजबूत और अधिक अनुभवी था।
यह सोचते हुए कि एली को नुकसान हो सकता है, रैफरी ने टाइम आउट की घोषणा कर दी. वह मैच खत्म करने की घोषणा करने वाला था, तभी मास्टर ने कहा, नहीं मैच जारी रहने दो. मैच दोबारा शुरू हो गया, तभी विपक्षी लड़का एक गलती कर बैठा. उसने अपना गार्ड हटा दिया. उसी समय एली ने अपनी मूव का इस्तेमाल कर दिया और मैच जीत गया. वह उस सीरीज का चैम्पियन बन गया. घर लौटते समय एली मास्टरजी के साथ मैच में अपने हर मूव की समीक्षा कर रहा था. अंत में एली ने साहस करके पूछा, ‘मास्टरजी, मैं केवल एक मूव के बल पर यह टूर्नामेंट कैसे जीत गया?’ मास्टरजी ने कहा, ‘दो कारण हैं- पहला तुमने जूडो में सबसे मुश्किल मानी जाने वाली मूव में महारथ हासिल की है. दूसरा, इस मूव से बचने के के लिए विपक्षी लड़के को तुम्हारी बायीं बाजू को कब्जे में करना था, जो है ही नहीं.’
जीवन में आगे बढ़ने के लिए जरूरी है खुद को ऐसे क्षेत्र में मजबूत बनाना, जहां से कोई आपको हरा न पाये. एक महत्वपूर्ण पक्ष मेंटरशिप का भी है।
 You May Also Like This Articles :-

Please Note : – Self Development Tips In Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा फ़ेसबुक (Facebook) पेज लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे करे। Confidence Kaise Badhaye व नयी पोस्ट डाइरेक्ट ईमेल मे पाने के लिए Free Email Subscribe करे, धन्यवाद।

loading...

LEAVE A REPLY